scriptMukesh Ambani lost 80000 cr from Ril AGM start to till market closed | RIL AGM 2020: Mukesh Ambani को हुआ 80 हजार करोड़ का नुकसान, जानिए कैसे | Patrika News

RIL AGM 2020: Mukesh Ambani को हुआ 80 हजार करोड़ का नुकसान, जानिए कैसे

  • Ril AGM 2020 शुरू होने से पहले कंपनी के Shares में देखने को मिल रही थी उछाल
  • 1978.50 रुपए के साथ 52 हफ्ते की नई उंचाई पर पहुंचा था Reliance Share Price
  • बाजार बंद होने के समय Reliance Share Price 1800 रुपए के स्तर पर आया, M-Cap 12 लाख करोड़ से नीचे

नई दिल्ली

Updated: July 15, 2020 07:43:57 pm

नई दिल्ली। जहां एक ओर 43वीं रिलायंस एजीएम ( Reliance Industries 43rd AGM ) में बड़ी-बड़ी घोषणाओं से मुकेेश अंबानी ( Mukesh Ambani ) ने सराबोर कर दिया। वहीं दूसरी ओर मुकेश अंबानी को इसी दौरान 80 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान ( Mukesh Ambai Lost 80 Thousand Crores ) भी उठाना पड़ा। वास्तव में शेयर बाजार ( Share Market ) बंद होने तक कंपनी के शेयरों में करीब 4 फीसदी की गिरावट देखने को मिली। जबकि कंपनी की यह गिरावट कारोबारी सत्र के दौरान 6 फीसदी तक पहुंच गई थी। खास बात तो यह है कि कंपनी का शेयर ( Reliance Industries Share Price ) आज फिर से रिकॉर्डतोड़ भागा था। जिसकी वजह से कंपनी का शेयर ( RIL Share Price ) 52 हफ्तों की उंचाई पर पहुंच गया था। वहां से कंपनी का शेयर जो गिरना शुरू हुआ तो 1800 रुपए के स्तर पर आकर आकर बंद हुआ। जिसकी वजह से कंपनी का मार्केट कैप भी 12 लाख करोड़ रुपए से नीचे आ गया।

Mukesh Ambani
Mukesh Ambani lost 80000 cr from Ril AGM start to till market closed

यह भी पढ़ेंः- RIL AGM 2020 : Jio-Google Deal का एेलान, 33737 करोड़ रुपए में खरीदेगी 7.7 फीसदी हिस्सेदारी

52 हफ्तों की उंचाई से गिरा कंपनी का शेयर
आज रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर में 4 फीसदी की गिरावट देखने को मिली। बांबे स्टॉक एक्सचेंज के प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स बंद होने के बाद कंपनी का शेयर का दाम 71 रुपए की गिरावट के साथ 1845.60 रुपए प्रति शेयर पर बंद हुआ। जबकि आज कंपनी का शेयर 1938.70 रुपए प्रित शेयर पर खुला था। जबकि आज कंपनी का शेयर 2000 रुपए प्रति शेयर के करीब पहुंच गया था। एक समय कंपनी का शेयर 1978.50 रुपए पर था। एजीएम शुरू होने से कुछ समय पहले कंपनी के शेयरों में गिरावट आनी शुरू हुई। आपको बता दें कि मंगलवार को कंपनी के शेयर 1916.65 रुपए प्रति शेयर पर बंद हुआ था।

यह भी पढ़ेंः- Farmers को Business बनाने की तैयारी में Govt, 6,866 करोड़ रुपए के बजट के साथ कुछ ऐसा है प्लान

12 लाख करोड़ रुपए से नीचे आया मार्केट कैप
शेयरों में गिरावट की वजह से कंपनी का मार्केट कैप भी 12 लाख करोड़ रुपए से नीचे आ गया। आज कंपनी का मार्केट कैप 12.25 लाख करोड़ रुपए के स्तर पर शुरू हुआ था। शेयरों में कीमतों में इजाफे के साथ मार्केट कैप में भी गिरावट देखने को मिलती रही। जानकारों की मानें तो कंपनी के शेयरों में गिरावट की वजह से बाजार बंद होने तक रिलायंस का मार्केट कैप 11,70,000.49 करोड़ रुपए पर आ गया।

यह भी पढ़ेंः- 12 वीं पास लोगों को मिलेगा दुनिया की सबसे बड़ी E-Commerce Company में काम करने का मौका

मुकेश अंबानी को हुआ 80 हजार करोड़ रुपए का नुकसान
रिलायंस इंडस्ट्री का जब एजीएम शुरू हुआ उससे पहले कंपनी के शेयरों में तेजी देखने को मिल रही थी। तब कंपनी का शेयर 1978.50 रुपए प्रति शेयर पर आ गया था। तब उस समय कंपनी का मार्केट कैप 1254251.17 करोड़ रुपए पर था। जैसे ही बाजार बंद हुआ और रिलायंस के शेयर 4 फीसदी पर गिर गए तो कंपनी का मार्केट कैप 11,70,000.49 करोड़ रुपए पर आ गया। अगर दोनों के बीच के अंतर को देखें तो 80 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा का बैठ रहा है। यही रिलायंस और मुकेश अंबानी का नुकसान है।

यह भी पढ़ेंः- Car Fuel और Maintenance Cost कम करेगा आपका Tax, जानिए किन लोगों को मिलेगा इसका फायदा

वॉरेन बफेट से पिछड़े मुकेश अंबानी
वहीं दूसरी ओर मुकेश अंबानी संपत्ति के मामले में वॉरेन बफेट से पिछड़ गए। ब्लूमबर्ग बिलेनियर्स इंडेक्स के अनुसार रिलायंस के शेयरों में गिरावट आने से मुकेश अंबानी की संपत्ति में 782 मिलियन डॉलर का नुकसान हुआ है। जिसकी वजह से वो अरबपतियों की सूची में 6वें स्थान से खिसकर 8 वें स्थान पर आ गए हैं। वहीं दूसरी ओर वॉरेन बफे एक बार फिर से 6 स्थान पर काबिज हो गए हैं। वहीं गूगल के को फाउंडर लैरी पेज भी मुकेश अंबानी से एक स्थान आगे 7 वें स्थान पर पहुंच गए हैं। मौजूदा समय में मुकेश अंबानी की संपत्ति 71.6 बिलियन पर आ गई है।

यह भी पढ़ेंः- देश के 3 बड़े बैंक लेकर आए हैं Senior Citizen के लिए खास Scheme, मिलेगा जबरदस्त रिटर्न

आज शेयर बाजार सपाट स्तर पर बंद
वहीं दूसरी ओर रिलायंस के शेयरों में गिरावट का असर शेयर बाजार पर भी दिखाई दिया। आज सेंसेक्स अपने उच्चतम स्तर से 550 अंक नीचे गिरकर 18.75 अंकों की मामूली बढ़त के साथ 36052 अंकों पर सपाट स्तर पर बंद हुआ। वहीं दूसरी ओर नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख सूचकांक निफ्टी 50 10.85 अंक की मामूली बढ़त के साथ 10618 अंकों पर बंद हुआ। ऑयल सेक्टर में सबसे ज्यादा करीब 300 अंकों की गिरावट देखने को मिली। आईटी सेक्टर करीब 800 अंकों की तेजी के साथ बंद हुआ। वास्तव में विप्रो के तिमाही नतीजों के बेहतर आने की वजह से कंपनी के शेयर आज 17 फीसदी की बढ़त के साथ बंद हुए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा उलटफेर: एकनाथ शिंदे ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, देवेंद्र फडणवीस बने डिप्टी सीएमMaharashtra Politics: बीजेपी ने मौका मिलने के बावजूद एकनाथ शिंदे को क्यों बनाया सीएम? फडणवीस को सत्ता से दूर रखने की वजह कहीं ये तो नहीं!भारत के खिलाफ टेस्ट मैच से पहले इंग्लैंड को मिला नया कप्तान, दिग्गज को मिली बड़ी जिम्मेदारीउदयपुर कन्हैयालाल हत्याकांडः कानपुर से आतंकी कनेक्शन, एनआईए की टीम जल्द जा कर करेगी छानबीनAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शरद पवार ने किया बड़ा दावा- फडणवीस डिप्टी सीएम बनकर नहीं थे खुश, लेकिन RSS से होने के नाते आदेश मानाUdaipur Murder: आरोपियों को लेकर एनआईए ने किया बड़ा खुलासा, बढ़ी राजस्थान पुलिस की मुश्किल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.