scriptOnion may bring tears in eyes, no hope for relief till December | प्याज अभी और ला सकता है आंखों में आंसू, दिसंबर तक राहत की कोई उम्मीद नहीं | Patrika News

प्याज अभी और ला सकता है आंखों में आंसू, दिसंबर तक राहत की कोई उम्मीद नहीं

  • बारिश की वजह से फसल खराब होने से कीमत में इजाफा होने की और उम्म्मीदें
  • निर्यात बैन करने के बाद भी देश में 30 से 40 फीसदी तक बढ़ गए प्याल के दाम

Published: September 25, 2020 03:32:35 pm

नई दिल्ली। पिछले साल की तरह इस साल भी प्याज आम लोगों की जेबें ढीली करने के मूड में दिखाई दे रहा है। ताज्जुब की बात तो ये है कि निर्यात पर पाबंदी लगाने के बाद भी प्याज के दाम बीते एक सप्ताह में 15 से 20 रुपए तक बढ़ गए हैं। जबकि प्याज के उत्पादन में कोई कमी नहीं है, लेकिन मंडियों में आवक कम होने के बावजूद प्याज के दाम में इजाफा देखने को मिल रहा है। जबकि पिछले साल प्याज प्याज का उत्पादन कम हुआ था और आवक भी ज्यादा थी। जानकारों की मानें तो प्याज की कीमत में दिसंबर तक जारी रहने की संभावना जताई जा रही है। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर प्याज की खुदरा और थोक कीमतें कितनी हो गई हैं।

Onion Price
Onion may bring tears in eyes, no hope for relief till December

बीते सप्ताह में खुदरा की कीमतों में आई तेजी
बीते एक सप्ताह में बाकी सब्जियों और फलों की कीमतों में राहत देखने को मिली हो, लेकिनप्याज की कीमतों में इजाफा देखने को मिला है। देश की राजधानी दिल्ली में प्याज की कीमत पिछले सप्ताह के 35 रुपए के मुकाबले 55 रुपए से 60 रुपए प्रति किलो तक पहुंच गई हैं। जबकि प्याज के थोक दाम एक सप्ताह में 25 रुपए से 35 रुपए तक पहुंच गए हैं। जानकारों की मानें तो आने वाले दिनों में प्याज की कीमतों में और ज्यादा इजाफा देखने को मिल सकता है। ताज्जुब की बात तो ये है कि सरकार की ओर से प्याज के निर्यात पर पाबंदी लगाई हुई है, उसके बाद भी प्याज के दाम में इजाफा जारी है।

यह भी पढ़ेंः- वो पांच बैंक जो आपको Fixed Deposit पर देते हैं सबसे ज्यादा ब्याज

प्याज की आवक कमजोर
मंडियों में भी प्याज की आवक पिछले साल के मुकाबले कमजोर देखने को मिल रही हैै। एशिया की सबसे बड़ी सब्जी मंदी आजादपुर में पिछले साल 25 सितंबर को प्याज की आवक 1198.3 टन थी। जबकि आज एक साल के बाद प्याज की की आवक 822.3 टन रह गई है।हैरानी की बात तो यह है कि पिछले साल प्याज का उत्पादन मौजूदा साल के मुकाबले कम था। आंकड़ों के अनुसार देश में बीते फसल वर्ष 2019-20 में प्याज का उत्पादन 267.4 लाख टन हुआ था, जबकि इससे पहले 2018-19 में 228.2 लाख टन प्याज का उत्पादन हुआ था। मतलब साफ है कि प्याज का उत्पादन ज्यादा होने के बाद भी कीमतों में तेजी देखने को मिल रही है। देश की सबसे बड़ी प्याज मंडी नासिक की बात करें तो प्याज का थोक भाव 14 सितंबर को 27 रुपए प्रति किलोग्राम था जो 25 सितंबर को 36 से 40 रुपए प्रति किलोग्राम पर आ गया है।

प्याज की कीमत में इजाफे की वजह
- व्यापारियों का आरोप है कि कीमतें बढ़ाने के लिए सट्टेबाजों ने बांग्लादेश में प्याज की भारी कमी का इस्तेमाल किया है।
- जून से अक्टूबर तक, भारत स्टोर किए गए प्याज का उपभोग करता है।
- खरीफ फसल की नई दक्षिणी राज्यों से आनी शुरू होती है और अगस्त से स्टॉक बढऩे लगता है।
- फसल के समय बारिश के कारण नई फसल के आगमन में व्यवधान, हमेशा अगस्त से सितंबर के दौरान कीमतों में वृद्धि होती है।

यह भी पढ़ेंः- Gold Investment : यही है गोल्ड में निवेश करने का सही समय, आने वाले समय में होगा ज्यादा मुनाफा

दिसंबर तक कीमतों में जारी रह सकती है बढ़ोतरी
प्याज की कीमतों में दिसंबर तक इजाफा जारी रहने की संभावना जताई जा रही है। जिसकी सबसे बड़ी वजह बारिश से प्याज की फसल को नुकसान बताया जा रहा हैै। वहीं दूसरी ओर प्रमुख राज्यों में खरीफ की फसल में देरी के कारण भी प्याज की कीमत में इजाफा होने के आसार हैं। जानकारों की मानें तो दिसंबर तक प्याज की कीमत एक बार फिर से 90 रुपए से 100 रुपए प्रति किलो के आसपास पहुंच सकती है। कई राज्यों में तो इससे भी पार होने की आशंका है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Maharashtra : फ्लोर टेस्ट से गायब क्यों रहे MVA के 11 MLAs, कारण जानकर Congress की उड़ी नींदCBSE Board Result 2022: सीबीएसई 10वीं-12वीं का परिणाम कब करेगा जारी, cbseresults.nic.in पर देखें लेटेस्ट अपडेटफिर गोलीबारी से दहला अमेरिका: फ्रीडम डे परेड में फायरिंग से 6 लोगों की मौत, 57 घायलबुजुर्ग महिला से कैफे में मिले राहुल गांधी, कांग्रेस ने बताया बिना स्क्रिप्ट का शुद्ध प्रेमभूंकप के झटकों से थर्राया अंडमान निकोबार, रिक्टर स्कैल पर 5 मापी गई तीव्रताEknath Shinde Property: मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से 12 गुना ज्यादा अमीर हैं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे, जानें किसके पास कितनी संपत्तिपश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के आवास में घुसने वाले शख्स ने परिसर को समझ लिया था कोलकाता पुलिस का मुख्यालयसिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद कार में पिस्तौल लहराते हुए जश्न मनाते दिखे हत्यारे, वायरल हुआ वीडियो
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.