Raksha Bandhan 2021: बांके बिहारी जी के पास देशभर से पहुंची 50 हजार राखियां, जाने आखिर कैसे और कौन बांधेगा

Raksha Bandhan 2021: बांके बिहारी मंदिर वृंदावन में पोस्ट के जरिये पहुंची 50 हजार राखियां। मंदिर में दर्शन करने पहुंच रहे श्रद्धालु भी चढ़ा रहे राखियां।

By: lokesh verma

Published: 21 Aug 2021, 11:15 AM IST

मथुरा. Raksha Bandhan 2021: देशभर में रक्षाबंधन की तैयारियां अंतिम दौर में हैं। दूर-दराज में रहे अपने भाइयों को बहनें पहले ही राखियां (Rakhi) पोस्ट कर चुकी हैं, जो अब भाइयों तक पहुंच गई हैं। इसी कड़ी में देशभर से हजारों बहनों ने बांके बिहारी (Banke Bihari) को भी राखियां पोस्ट की हैं। अब तक बांके बिहारी मंदिर (Banke Bihari Temple) में करीब 50 हजार राखियां पहुंच चुकी हैं। इसके साथ ही मंदिर में दर्शन करने पहुंच रही महिलाएं बांके बिहारी के श्रीचरणों में रोजाना हजारों राखियां चढ़ा रही हैं। रोजाना पोस्ट और मंदिर में चढ़ाई जा रही राखियों को एकत्रित कर बांके बिहारी के तहखाने में रखा जा रहा है, ताकि रक्षाबंधन के दिन सभी राखियों में से कुछ चुनिंदा राखियां बिहारी जी को बांधी जा सकें।

बांके बिहारी मंदिर प्रबंध समिति के अनुसार हर साल बिहारी जी के लिए लाखों राखियां देश के विभिन्न शहरों से पहुंचती हैं। लेकिन, पिछले साल कोरोना संक्रमण के कारण अधिक संख्या में राखियां नहीं पहुंच सकी थीं। हालांकि इस बार कोविड का असर कम नजर आ रहा है। यही वजह है कि शुक्रवार तक करीब 50 हजार राखियां पोस्ट के जरिये बांके बिहारी के पास पहुंच चुकी हैं। उन्होंने बताया कि सभी राखियां मंदिर परिसर के पोस्ट ऑफिस में पहुंच रही हैं। उन्होंने बताया कि बिहारी जी के नाम से आने वाली सभी राखियों को मंदिर में बने तहखाने में रखवाया जा रहा है। रविवार को रक्षाबंधन के दिन सभी राखियों में से कुछ चुनिंदा राखियों को बिजारी जी की कलाई पर बांधा जाएगा।

यह भी पढ़ें- Rakshabandhan 2021: इस रक्षाबंधन परंपरागत मिठाई की जगह ट्राई करें कुछ अलग, इन चीजों से कराएं भाई का मुंह मीठा

अयोध्या भी भेजी जाएंगी राखियां

बांके बिहारी मंदिर के पुजारी अभिषेक गोस्‍वामी ने बताया कि इस बार रक्षाबंधन पर 70 हजार राखियों के पहुंचने का अनुमान है। उन्होंने बताया कि पोस्ट के अलावा श्रद्धालु भी राखियां लेकर मंदिर पहुंच रहे हैं। उन्होंने बताया कि पोस्ट की गई और मंदिर में चढ़ाई गई राखियों का अनुमान लगाया जाए तो रक्षाबंधन तक कुल ढाई से तीन लाख राखियां पहुंचने की संभावना है। उन्होंने बताया कि यहां से कुछ राखियां अयोध्या भी भेजी जाएंगी। उन्होंने बताया कि यहां रक्षाबंधन के बाद भी रोजाना हजारों राखियां आती रहती हैं।

यह भी पढ़ें- Raksha Bandhan 2021 इस बार रक्षा बंधन पर 474 साल बाद बन रहा दुर्लभ योग

lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned