सीएम से जज और अधिक्ताओं के लिए हर जिले में बेड आरक्षित कराए जाने की उठी मांग

यूपी बार काउंसिल के चेयरमैन ने मुख्यमंत्री को भेजा पत्र, कई जज और अधिवक्ताओं की संक्रमण से हो चुकी मौत
दिल्ली की तर्ज पर यूपी में भी उठने लगी मांग

By: shivmani tyagi

Updated: 10 May 2021, 12:57 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

मेरठ ( meerut news ) दिल्ली की तर्ज पर अब यूपी में भी बार काउंसिल ने मुख्यमंत्री UP CM Yogi Adityanath को पत्र भेजकर सभी जिलों में जज और अधिवक्ताओं के लिए बेड आरक्षित किए जाने की मांग की है। मेरठ के वरिष्ठ अधिवक्ता और यूपी बार काउंसिल के चेयरमैन advocate
रोहताश अग्रवाल
ने अधिवक्ताओं और जजेस के लिए हर जिले में 50 बेड आरक्षित किए जाने की मांग की है। इसके लिए बार काउंसिल के चेयरमैन रोहताश अग्रवाल ने प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को एक पत्र भी लिखा है।

यह भी पढ़ें: अब विदेशी जीनोम सीक्वेंसिंग मचा रहा एनसीआर में तबाही

उन्होंने पत्र में कहा है कि प्रदेश में कई जिलों में कोरोना संक्रमण के चलते कई जजेस अधिवक्ताओं की असमय मृत्यु हो गई है। इसका कारण उनका समय से इलाज न मिलना भी रहा है। दिल्ली की तर्ज पर यूपी में भी अब अधिवक्ताओं और न्यायिक अधिकारियों के लिए अस्पतालों में बेड रिजर्व किए जाएं। उन्होंने हर जिले में 50 बेड अधिवक्ताओं और न्यायिक पदों से जुड़े अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए रिजर्व किए जाने की मांग की है जिससे कि उनका जीवन बचाया जा सके।

यह भी पढ़ें: दुस्साहस: नाेएडा में बाइक सवार बदमाशों ने सपा नेता के भाई को गोलियों से भूना

पत्र में उन्हाेंने यह भी कहा कि उत्तर प्रदेश में ऑक्सीजन और अस्पतालों में बेड की कमी है जिसके चलते कई लोगों की मृत्यु हो चुकी है। बड़ी संख्या अधिवक्ताओं और उनके परिवार वाले भी शामिल हैं। उन्होंने कुछ जजेस के जीवन पर भी संकट की की बात कही। उनका कहना है कि मुख्यमंत्री से उन्हें पूरी उम्मीद है कि अधिवक्ताओं और जजेज के लिए कोई ठोस व्यवस्था वे करेंगे।

यह भी पढ़ें: गाजियाबाद में प्रधानी जीतने के बाद विजय जुलूस में तमंचे पर डिस्को, 50 से अधिक पर केस दर्ज

यह भी पढ़ें: अस्पताल में नहीं मिल रहा बेड तो यहां मिलेगा पूरा इंतजााम, कैलाश मानसरोवर भवन को बनाया गया 140 बेड का अस्थाई कोविड-19 सेंटर

यह भी पढ़ें: कोरोना संक्रमण से ठीक हुए मरीजों के लिए खुलेगा पोस्ट कोविड अस्पताल

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned