scriptWomen reached to tie rakhi to brothers in district jail created ruckus | Rakshabandhan Rakhi 2021: जिला कारागार में भाइयों को राखी बांधने पहुंची महिलाओं ने किया हंगामा | Patrika News

Rakshabandhan Rakhi 2021: जिला कारागार में भाइयों को राखी बांधने पहुंची महिलाओं ने किया हंगामा

चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय के छात्रों ने संभाली कमान, भूखी-प्यासी महिलाओं को बांटा खाने-पीने का सामान।

मेरठ

Published: August 22, 2021 04:40:27 pm

मेरठ. रक्षाबंधन के मौके पर जिला कारागार में बंद अपने भाइयों को राखी बांधने के लिए पहुंची महिलाओं ने के जमकर हंगामे का मामला सामने आया है। बता दें कि कोरोना संक्रमण के चलते इस बार शासन की ओर से बंदियों से मुलाकात के नियमों में बदलाव किए गए हैं। साथ ही कोरोना संक्रमण की जांच रिपोर्ट के बिना किसी भी महिला को जेल के भीतर राखी बांधने के लिए नहीं जाने दिया जा रहा था, जिसके चलते दूर जिलों से आई महिलाओं को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा।
meerut4.jpg
दरअसल, जेल प्रशासन की ओर से रक्षाबंधन के लिए हर संभव सुविधा देने प्रयास किया गया था, लेकिन महिलाओं की भीड़ के चलते ये सुविधा कम पड़ गई। इस दौरान विवि के छात्र नेता ने मोर्चा संभाला और महिलाओं की मदद को आगे आए। छात्र नेता विनीत चपराना ने सुबह ही जेल के बाहर जेल अधीक्षक से मुलाकात कर ग्रामीण क्षेत्र से आई महिलाओं के लिए कोरोना रिपोर्ट की परेशानी को सामने रखते हुए ऐसी महिलाओं के लिए विशेष व्यवस्था करने की बात कही। लेकिन, कोरोना गाइडलाइन को देखते हुए इन महिलाओं को परेशानी का सामना करना पड़ा। कारागार के बाहर महिलाओं का हंगामा बढ़ता देख छात्र नेता ने मौके से ही जिलाधिकारी मेरठ से फोन पर वार्ता कर कोरोना रिपोर्ट की अनिवार्यता के चलते कारागार के बाहर देहात से आई महिलाओं की परेशानी से भी अवगत कराया, जिसके बाद जेल प्रशासन के सहयोग से सामान भीतर ले जाने की व्यवस्था की गई।
यह भी पढ़ें- Rakshabandhan Rakhi 2021: ध्वस्त हुई रोडवेज की व्यवस्था, बसों के पीछे दौड़ लगाती रहीं बहनें

छात्र नेता विनीत चपराना इस दौरान पूरे समय जिला कारागार के बाहर ही मौजूद रहे। उन्होंने अपनी तरफ से कैदियों से मुलाकात के लिए आई महिलाओं के लिए खाने-पीने की सामग्री भी वितरित की। इस मौके पर मुख्य रूप से फिरोज ठाकुर, आमिर तोमर, जुबैर राजपूत, पाटू तोमर,शाहिद एडवोकेट , प्रमोद शेरगढ़ी और अन्य छात्र मुख्य रूप से मौजूद रहे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.