विधानसभा में सीएम खट्टर बोले, अविश्वास प्रस्ताव के लिए वे कांग्रेस के ऐहसानमंद रहेंगे

Highlights

  • खट्टर के अनुसार उन्हें अपनी सरकार के कार्यों का लेखा-जोखा रखने का विशेष मौका मिला है।
  • कहा, उनका ये प्रयास सफल नहीं होने वाला है। हमें तो जनता का विश्वास चाहिए।

नई दिल्ली। हरियाणा विधानसभा में कांग्रेस विधायक दल के नेता और नेता विपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने अविश्वास प्रस्ताव पेश किया है। अविश्वास प्रस्ताव पर अब चर्चा हो रही है।

सीएम मनोहर लाल ने अपने संबोधन में कहा कि वे हमारे खिलाफ जो अविश्वास प्रस्ताव लाए हैं। इसके लिए वे कांग्रेस के ऐहसानमंद हैं। खट्टर के अनुसार उन्हें अपनी सरकार के कार्यों का लेखा-जोखा रखने का विशेष मौका मिला है। आज विशेष अवसर है, अविश्वास प्रस्ताव लेकर कांग्रेस आई है, ये उनकी मृगतृष्णा है। कांग्रेस सत्ता से बाहर है, इसलिए वह सत्ता में आना चाहती है। हालांकि उनका ये प्रयास सफल नहीं होने वाला है। हमें तो जनता का विश्वास चाहिए।

यह भी पढ़ें : तीरथ सिंह रावत होंगे उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री, विधायक दल की बैठक में लगी मुहर

इससे पहले, बुधवार को विधानसभा में पहुंचने के बाद सीएम खट्टर ने कहा था कि विपक्ष अपने लोगों को संभाल कर रख ले, ये उनके लिए बहुत बड़ी बात है। किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं है। सरकार के खिलाफ जो अविश्वास प्रस्ताव है वो निश्चित गिरेगा।

ये सरकार पूरे 5 साल चलेगी: दुष्यंत चौटाला

विधानसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला का कहना है कि ये सरकार पूरे पांच साल तक के लिए चलने वाली है। प्रदेश को विकास के रास्ते पर बढ़ाने का काम करेगी। उन्होंने कहा कि वे कांग्रेस को चुनौते देते हैं कि सरकार एक अप्रैल से फसल की खरीद शुरू कर रही है। 6 फसलें एमएसपी पर खरीदेंगे। आप पड़ोसी राज्यों जहां कांग्रेस की सरकारें हैं, वहां इसका ऐलान करके तो दिखाओ। वे इस अविश्वास प्रस्ताव का विरोध करते हैं। कांग्रेस सत्ता हथियाना चाहती है लेकिन है मुंगेरी लाल के हसीन सपने। ये कभी पूरे नहीं होने वाले हैं।

Congress BJP
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned