Delhi Unlock: दिल्ली में सोमवार से ऑड-इवन फॉर्मूला खत्म, खुलेंगी सभी दुकानें, सिनेमा-जिम-स्कूल-कॉलेज रहेंगे बंद

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए बड़ा ऐलान किया है। जनता को राहत देते हुए सीएम केजरीवाल ने सोमवार से अनलॉक-3 के तहत दिल्ली में कई पाबंदियों में ढील दी जा रही है।

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में अब महामारी कोरोना वायरस का प्रकोप काफी कम हो गया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए बड़ा ऐलान किया है। जनता को राहत देते हुए सीएम केजरीवाल ने सोमवार से अनलॉक-3 के तहत दिल्ली में कई पाबंदियों में ढील दी जा रही है। राजधानी में कल से रेस्टोरेंट्स 50 फीसदी बैठने की क्षमता पर काम करेंगे। इसके अलावा निजी दफ्तरों में भी 50 फीसदी क्षमता के साथ सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक काम किया जाएगा। हालांकि दिल्ली में अभी स्कूल-कॉलेज, स्वीमिंग पुल, स्पा सेंटर बंद रहेंगे।

यह भी पढ़ें :— दिग्विजय सिंह बोले— सत्ता में आए तो कश्मीर में आर्टिकल 370 का फैसला पलटेंगे, भाजपा ने कहा- यही तो चाहता है पाकिस्तान


इनको मिली छूट...

- शॉपिंग मॉल्स और बाजार के लिए ऑड-इवन का फॉर्मूला खत्म।
- रेस्टोरेंट को खोलने की इजाजत दी गई है, लेकिन अभी सिर्फ 50 प्रतिशत सिटिंग कैपेसिटी ही होगी।
- निजी दफ्तर 50 फीसदी क्षमता के साथ सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक काम करेंगे।
- धार्मिक स्थल खोले जा रहे हैं लेकिन श्रद्धालुओं को जाने की अनुमति नहीं होगी।
- शादियां 20 लोगों के साथ घर या कोर्ट में ही हो सकती हैं।
- बाजार, मॉल और मार्केट कॉम्प्लेक्स में सारी दुकानें सुबह 10 बजे से शाम 8 बजे तक खुल सकती हैं।
- साप्ताहिक बाजार को अनुमति दी जा रही है लेकिन एक दिन में एक जोन में एक ही साप्ताहिक बाजार को अनुमति दी जाएगी।

यह भी पढ़ें :— एंटीबॉडी कॉकटेल लेने वाले 40 मरीजों पर दिखा असर, 24 घंटे में कोरोना के लक्षण ठीक होने का दावा

 

इन पर रहेगी पाबंदियां...
- स्कूल-कॉलेज, कोचिंग इंस्टीट्यूट बंद रहेंगे।
- सामाजिक, धार्मिक, राजनीतिक गतिविधियों पर रोक।
- जिम, पब्लिक पार्क, गार्ड, योगा इंस्टीट्यूट बंद रहेंगे।
- धार्मिक स्थल खुलेंगे, लेकिन आम लोगों के जाने पर प्रतिबंध।
- मेट्रो और बसों में 50 प्रतिशत कैपेसिटी ही रहेगी। इसके अलावा सोशल डिस्टेंसिंग के साथ पब्लिक ट्रांसपोर्ट ऑटो, ई-रिक्शा चालू रहेंगी।


सीटीआई की मांग नहीं मानी
दिल्‍ली सरकार ने चैंबर ऑफ ट्रेड एंड इंडस्ट्री (सीटीआई) की मांग को नहीं माना है। सीटीआई ने 14 जून से सैलून और जिम को फिर से खोलने की मांग की थी। इसलिए सीटीआई के अध्यक्ष बृजेश गोयल ने लेकर दिल्ली सरकार और दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण को पत्र लिखा है।

Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned