scriptFormer PM Manmohan Singh gave good advice Modi government will have to do 3 things to come out of financial crisis | Former PM Manmohan Singh ने दिए नेक सलाह, आर्थिक संकट से बाहर आने के लिए मोदी सरकार को करने होंगे 3 काम | Patrika News

Former PM Manmohan Singh ने दिए नेक सलाह, आर्थिक संकट से बाहर आने के लिए मोदी सरकार को करने होंगे 3 काम

  • Indian Economy महामारी की शुरुआत से पहले ही मंदी की गिरफ्त में है।
  • 2019-20 में GDP Growth 4.2% रही, जो लगभग एक दशक में सबसे कम ग्रोथ रेट रही।
  • देश के Economists के मुताबिक 1970 के दशक के बाद सबसे खराब मंदी हो सकती है।

Updated: August 10, 2020 02:52:12 pm

नई दिल्ली। कोरोना वायरस महामारी ( Coronavirus Pandemic ) की वजह से देश की अर्थव्यवस्था संकट ( Economic Crisis ) में है। इस गंभीर मसले पर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ( Former Prime Minister Manmohan singh ) ने कोविद-19 महामारी ( Covid-10 ) से बर्बाद हुई इकोनॉमी को थामने के लिए केंद्र सरकार ( Centre Governement ) को नेक सुझाव ( advice ) दिए हैं।
manmohan singh
Indian Economy महामारी की शुरुआत से पहले ही मंदी की गिरफ्त में है।
पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने कहा कि आर्थिक संकट ( Economic Crisis ) से निपटने के लिए केंद्र सरकार को तत्काल 3 कदम उठाने होंगे। ऐसा न करने पर आर्थिक संकट और ज्यादा गहरा सकता है।
Nitin Gadkari big statement : COVID-19 से देश को लगा 30 लाख करोड़ का झटका, 'आर्थिक जंग' के लिए रहें तैयार

पूर्व प्रधानमंत्री मानमोहन सिंह ने बीबीसी को बताया है कि मोदी सरकार को संकट दूर करने और आने वाले वर्षों में सामान्य आर्थिक स्थिति बहाल करने के लिए तीन कदम उठाने चाहिए।
1. सरकार को लोगों की आजीविका को सुनिश्चित करना चाहिए। कोरोना महामारी से पीड़ित लोगों को डायरेक्ट कैश ट्रांसफर कर उनके खर्च करने की शक्ति को मजबूत करना होगा।

2. सरकार समर्थित क्रेडिट गारंटी प्रोग्राम के माध्यम से व्यवसायों के लिए पर्याप्त पूंजी उपलब्ध करानी होगी।
3. इंस्टीट्यूशनल ऑटोनॉमी एंड प्रोसेस के माध्यम से फाइनेंशियल सेक्टर को ठीक करना चाहिए।

डॉ. सिंह ने कहा कि मैं 'डिप्रेशन' जैसे शब्दों का इस्तेमाल करना नहीं चाहता, लेकिन एक गहरी और लंबे समय तक आर्थिक मंदी अपरिहार्य थी। उन्होंने कहा कि यह आर्थिक मंदी मानवीय संकट के कारण है। यह हमारे समाज में कैद भावनाओं से केवल आर्थिक संख्या और तरीकों से देखने के लिए महत्वपूर्ण है।
Krishna Janmashtami 2020 : टॉप 10 प्लेस जहां भगवान कृष्ण के दर्शन तकदीर वालों को होते हैं

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह की तरह देश के अन्य अर्थशास्त्रियों ने भी 2020-21 वित्तीय वर्ष के लिए भारत की जीडीपी में तेज गिरावट होने की आशंका की चेतावनी दी है। अर्थशास्त्रियों के मुताबिक 1970 के दशक के बाद सबसे खराब तकनीकी मंदी हो सकती है।
बता दें कि भारतीय अर्थव्यवस्था ( Indian Economy ) महामारी की शुरुआत से पहले ही मंदी की गिरफ्त में थी। 2019-20 में जीडीपी ग्रोथ 4.2% रही, जो लगभग एक दशक में सबसे कम ग्रोथ रेट रही। देश अब धीरे-धीरे और लंबे समय तक बंद होने के बाद अपनी अर्थव्यवस्था को अनलॉक कर रहा है, लेकिन संक्रमण संख्या बढ़ने के कारण भविष्य अनिश्चित है।
कोरोना संक्रमितों की संख्या के हिसाब से भारत अमरीका और ब्राजील के बाद दुनिया का तीसरा सबसे प्रभावित देश है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

पटना एयरपोर्ट पर बड़ा हादसा, निर्माण कार्य के दौरान गिरा लोहे का स्ट्रक्चर, दो मजदूरों की मौत, एक की टूटी रीढ़ की हड्डीविश्व प्रसिद्ध धार्मिक स्थल हेमकुंड साहिब और लक्ष्मण मंदिर के खुले कपाट, दो साल बाद लौटी रौनकPetrol-Diesel Prices Today: केंद्र के बाद राज्यों ने घटाए पेट्रोल-डीजल के दाम, जानें कितनी हैं आपके शहर में कीमतेंQuad Summit 2022: प्रधानमंत्री मोदी का जापान दौरा, क्वाड शिखर सम्मेलन में बाइडेन से अहम मुलाकात, जानें और किन मुद्दों पर होगी बातDelhi Suicide Case: 'कमरे में घुसने के बाद लाइटर न जलाएं' दीवार पर लिखकर मां-बेटियों ने दी जान, एक साल पहले कोरोना से हुई थी CA पति की मौतGama Pehlwan के 144वें जन्मदिन पर गूगल ने बनाया डूडल, एक दिन में खाते थे 6 देसी मुर्गे और 10 लीटर दूधभाजपा नेता को किया गिरफ्तार, आशियाना ध्वस्त करने पहुंचा था बुलडोजरसाप्ताहिक समीक्षा: सोने-चांदी में तेजी, 2290 रुपए सस्ती हुई चांदी, जानें गाेल्ड की कीमत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.