scriptNitin Gadkari big statement : COVID-19 gives nation a blow of 30 lakh crores now will have to fight economic war | Nitin Gadkari big statement : COVID-19 से देश को लगा 30 लाख करोड़ का झटका, 'आर्थिक जंग' के लिए रहें तैयार | Patrika News

Nitin Gadkari big statement : COVID-19 से देश को लगा 30 लाख करोड़ का झटका, 'आर्थिक जंग' के लिए रहें तैयार

  • Nitin Gadkari ने कहा कि Indian Economy पर 30 लाख करोड़ की भरपाई का दबाव बढ़ा है। इसमें 10 लाख करोड़ रुपए सीधे Revenue loss है।
  • Modi Government ने 5 साल में जितना काम किया उतना Congress के 55 वर्षों के शासनकाल में नहीं हुआ।
  • देश के 115 पिछड़े जिलों ( Backward District ) को विकसित करने की जरूरत है। ये जिले सामाजिक और आर्थिक रूप से पिछड़े हुए हैं।

नई दिल्ली

Updated: August 10, 2020 10:21:48 am

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ( Union Minister Nitin Gadkari ) ने नागपुर ( Nagpur ) में BJP की जन संवाद वर्चुअल रैली ( Virtual Rally ) को संबोधित करते हुए बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ( Modi Government ) ने 5 साल में जितना काम किया उतना कांग्रेस ( Congress ) के 55 वर्षों के शासनकाल में नहीं हुआ।
nitin gadkari
Nitin Gadkari big statement : COVID-19 gives nation a blow of 30 lakh crores now will have to fight economic war
इस रैली में उन्होंने कोरोना वायरस महामारी ( Coronavirus Pandemic ) से देश की अर्थव्यवस्था ( Indian Economy ) को होने वाले नुकसान का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि कोविद-19 ( Covid-19 ) की वजह से देश को 10 लाख करोड़ रुपए का नुकसान होगा। इसकी भरपाई के लिए मोदी सरकार ने 20 लाख करोड रुपए की आत्मनिर्भर भारत पैकेज ( Atmanirbhar Bharat Package ) की घोषणा की है। यानि कुल मिलाकर देश की अर्थव्यवस्था पर 30 लाख करोड़ की भरपाई का दबाव बढ़ा है। इसमें 10 लाख करोड़ रुपए सीधे राजस्व का नुकसान ( Revenue loss ) है।
हमारी GDP 200 लाख करोड़ रुपए की है। अगर इस तरह से 200 लाख करोड़ की GDP से 30 लाख करोड़ ऐसे चला जाता है तो समझा जा सकता है कि कितनी खतरनाक स्थिति है।
पी चिदंबरम ने राजनाथ सिंह पर साधा निशाना, कहा - रक्षा उपकरणों के आयात पर बैन केवल 'शब्दजाल'

अर्थव्यवस्था को पंप करने की जरूरत

इसलिए हमें अर्थव्यवस्था में तेल डालकर उसे पंप करने की ज़रूरत है। नहीं तो उद्योग और व्यवसाय नहीं चलेंगे। नितिन गडकरी ने कहा कि एक इकोनॉमिक जंग ( Economic war ) शुरू हो चुकी है। हमारे गांव, किसान, कामगार और उद्योग कोरोनावायरस के कारण संकट में आ गए हैं।
देश के 115 पिछड़े जिलों का करना होगा विकास

इसलिए पूंजी गरीब लोगों तक पहुंचनी होगी। उन्होंने जोर देकर कहा कि देश के 115 आकांक्षी जिलों ( Backward district ) को विकसित करने की जरूरत है जो सामाजिक और आर्थिक रूप से पिछड़े हुए हैं। गडकरी ने कहा कि अर्थव्यवस्था बेहतर करना भी उतना ही जरूरी है जितना कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई लड़ना।
देश को 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनाने की क्षमता हमारे पास है

नितिन गडकरी ने कि हमें भारत को 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने के मिशन को पूरा करना है। हमारे पास वह क्षमता है। हमारे पास युवा, प्रतिभाशाली और कुशल शक्ति है।
LAC पर चीनी सेना को IAF का जवाब, DBO में चिनूक ने भरी दमदार उड़ान

कुछ राज्यों के पास वेतन देने के पैसे नहीं हैं

कई राज्यों की स्थिति इतनी खराब है कि कुछ राज्यों के पास तो अगले महीने का वेतन देने के लिए भी पैसा नहीं हैं। गडकरी का कहना है कि देश को इस महामारी का सकारात्मक सोच के साथ सामना करना होगा।
कोरोना वैक्सीन का करना होगा इंतजार

केंद्रीय सड़क व परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने खराब दौर में उम्मीद जताई है कि जल्द ही कोरोना वायरस की वैक्सीन ( Coronavirus Vaccine ) विकसित की जाए। तब तक हमें कोरोना से लड़ना होगा। अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए आर्थिक जंग लड़नी होगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

राजस्थान में इंटरनेट कर्फ्यू खत्म, 12 जिलों में नेट चालू, पांच जिलों में सुबह खत्म होगी नेटबंदीनूपुर शर्मा पर डबल बेंच की टिप्पणियों को वापस लिया जाए, सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस के समक्ष दाखिल की गई Letter PettitionENG vs IND Edgbaston Test Day 1 Live: ऋषभ पंत के शतक की बदौलत भारतीय टीम मजबूत स्थिति मेंMaharashtra Politics: महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने देवेंद्र फडणवीस के डिप्टी सीएम बनने की बताई असली वजह, कही यह बातजंगल में सर्चिंग कर रहे जवानों पर नक्सलियों ने की फायरिंगपंचायत चुनाव: दो पुलिस थानों ने की कार्रवाई, प्रत्याशी का चुनाव चिन्ह छाता तो उसने ट्राली भर छाता बंटवाने भेजे, पुलिस ने किए जब्तMonsoon/ शहर में साढ़े आठ इंच बारिश से सडक़ों पर सैलाब जैसा नजारा, जन जीवन प्रभावित2 जुलाई को छ.ग. बंद: उदयपुर की घटना का असर छत्तीसगढ़ में, कई दलों ने खोला मोर्चा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.