scriptIndependence Day 2019: Kooper is Biggest Murderer than general dyer | Independence Day 2021: जनरल डायर से भी बड़ा हत्यारा था कूपर, इसकी दरिंदगी के किस्से सुन रूह कांप उठेगी | Patrika News

Independence Day 2021: जनरल डायर से भी बड़ा हत्यारा था कूपर, इसकी दरिंदगी के किस्से सुन रूह कांप उठेगी

Independence Day 2021: झंकझोर देंगे अंग्रेज हत्यारे के जुल्म, 200 से ज्यादा वीरों को एक संकरे गुबंद में ठूंस कर मार डाला

नई दिल्ली

Updated: August 14, 2021 05:15:03 pm

Independence Day 2021: नई दिल्ली। 15 अगस्त 1947 को देश भले ही आजाद हो गया, लेकिन इस आजादी से पहले जरूरी थी इसको हांसिल करने के जज्बे की और जज्बे को जिंदा करने में देश के वीर सपूतों अपने लहू के साथ मौत को भी हंसते हुए गले लगा लिया।
Independence Day 2021: kooper
स्वतंत्रता के लिए लड़ना वीर सपूतों ने ही सिखाया। देश को आजाद कराने के लिए वीरों ने जान की बाजी लगा दी। 1947 में मिली आजादी की चिंगारी 1857 में ही लग गई थी। आजादी बड़ी-यादें छोटी हो गईं।
यह भी पढ़ें

75th Independence Day विजयी विश्व तिरंगा प्यारा.. झंडा ऊंचा रहे हमारा, जानिए इससे जुड़ी कुछ खास बातें

आजादी की अलख जगाने और देश को आजाद कराने के लिए लड़ने वाले वीर सपूतों में कई ऐसे गुमनाम भी हैं जिनके बारे में कोई जानता ही नहीं। अंग्रेज हत्यारे कूपर के जुल्मों का डंटकर सामने कर ऐसे गुमनाम वीरों ने अंग्रेजी हुकूमत की जड़ों को हिला दिया।
यह भी पढ़ें

15 अगस्त 1947: देश जश्न मना रहा था, बापू भूखे-प्यासे भटक रहे थे

Independence Day 2021:

75th independence day 2021: आजादी के मतवालों ने दी थी अनगिनत कुर्बानियां

सन् 1857 की जंग में छावनी से 4 सैनिक भागने में सफल रहे। हालांकि 6 मील की दूरी पर रावी नदी के रेत पर भूख और प्यास के चलते ये चारों सैनिक कुछ देर रुक गए।
चार सैनिकों के भागने की घटना अंग्रेजों को नागवारा गुजरी, लिहाजा भूखे भेड़ियों की तरह वो सैनिकों को ढूंढने में जुट गए। सूर्योदय से पहले ही कूपर नामक बौखलाए अंग्रेज अधिकारी ने उन्हें घेर लिया।
यह भी पढ़ें

Independence Day 2021 : भारत को कैसे मिली आजादी, जानिए स्वतंत्रता दिवस का इतिहास

यही नहीं जलियावाला बाग में हुए नरसंहार के जिम्मेदार जनरल डायर से बड़े इस हत्यारे कूपर ने उन चार निहत्थे सैनिकों को जान से मार देने का आदेश भी जारी कर दिया।

Independence Day 2021: एक नजर में जानिए, स्वतंत्र भारत के बारे में रोचक और मजेदार बातें
आजादी के इन परवानों को इस क्रूर और हत्यारे अंग्रेज कूपर ने सबके सामने जिंद गोलियों के भूनने का आदेश दे डाला। पूरा तट गोलियों की बौछार से गूंज उठा।

तट पर गोलियों की तड़तड़ाहट से आसपास के पशु-पक्षी भी डर के मारे भाग खड़े हुए।
कूपर के आदेश पर इन चारों सैनिकों को गोलियों की बौछार कर बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया गया।

इस दर्दनाक मंजर ने हर किसी की चीख निकाल दी।

इन चार सैनिकों के बाद कूपर ने भागे हुए 282 अन्य सैनिकों को पकड़ा। इन्हें वह कोड़े बरसाता हुआ अजनाले थाने ले आया।
इस बीच कुछ सैनिक रावी की धारा में कूद गए। बचे हुए सैनिकों को कूपर ने अजनाले के पार्श्व में एक तंग गुम्मद में जिंदा ठूंस दिया।

यह गुम्मद अब उन शहीदों की जीवित समाधि बन चुका था।
इस संकरे गुम्मद को लोग 'काल्या द खूह' कहते हैं।

1857 की क्रांति ने ना सिर्फ पूरे भारत में आजादी की अलख जगाई बल्कि अंग्रेजों की जड़ों को हिलाकर रख दिया।

ये पूरी दास्तां सीतापुर की धरती पर हुए उस नरसंहार की है जिसमें देश के वीर सपूतों ने अपनी शहादत से देश को एक सुनहरा भविष्य सौंप दिया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

हार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैंधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजप्रदेश में कल से छाएगा घना कोहरा और शीतलहर-जारी हुआ येलो अलर्टEye Donation- बेटी को जन्म दे, चल बसी मां, लेकिन जाते-जाते दो नेत्रहीनों को दे गई रोशनीयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

क्या सच में बुझा दी गई अमर जवान ज्योति? केंद्र सरकार ने दिया जवाबVideo: बॉम्बे हाई कोर्ट के जज के चैंबर में मिला 5 फीट लंबा सांप, वन विभाग की टीम ने किया रेस्क्यूदिल्ली उपराज्यपाल ने आप सरकार के प्रस्ताव को किया खारिज, वीकेंड कर्फ्यू हाटने और प्रतिबंधों में ढील से इनकारUP Assembly Elections 2022 : एकाएक राजनीति में उतरकर इन महिलाओं ने सबको चौंकाया, बटोरी सुर्खियांभारत के इलेक्ट्रिक वाहन बाजार में Adani Group की हो सकती है धमाकेदार एंट्री, कंपनी ने ट्रेडमार्क किया दायरशहीद हेमू कालाणी: आज भी हैं युवा वर्ग के लिए आदर्शपश्चिम बंगाल में टीबी के मरीजों की संख्या पहले से तीन गुना अधिकअब राजसमंद संसदीय क्षेत्र में होगा कई ट्रेनों का ठहराव, दीया कुमारी कर रही थी डिमांड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.