क्या PM उज्जवल योजना के तहत मिल रहा 1 लाख का लोन? जानें सच्चाई

वायरल लेटर में दावा किया जा रहा है कि उज्जवल फाइनेंस योजना के तहत मोदी सरकार लोगों को एक लाख रुपये का लोन दे रही है, जिसकी ब्याज दर 8 फीसदी है।

नई दिल्ली। सोशल मीडिया पर आए दिन ऐसी ख़बरें वायरल होती रहती हैं, जिनपर यकीन कर पाना बड़ा मुश्किल होता है। ऐसी ही एक खबर इन दिनों इंटरनेट पर तेजी से वायरल हो रही है। दरअसल, फेसबुक, व्हाटअप समेत अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर इन दिनों प्रधानमंत्री उज्जवल योजना के नाम का एक अप्रूवल लेटर वायरल हो रहा है।

मोदी सरकार सभी महिलाओं को देगी 60000 रुपये? जानें सच्चाई

 

pm-yojna.jpg

इस लेटर में दावा किया जा रहा है कि उज्जवल फाइनेंस योजना के तहत मोदी सरकार लोगों को एक लाख रुपये का लोन दे रही है, जिसकी ब्याज दर 8 फीसदी है। लेटर के मुताबिक इस राशि को भरने के लिए सरकार दो साल का समय भी दे रही है। जिसे आप हर महीने 4,523 रुपये की EMI के तहत भी अदा कर सकते हैं। लेटर में ये भी लिखा है कि इसके लिए आपको 3,200 रुपये प्रोसेसिंग शुल्क के तौर पर देने होते हैं। ये पैसे देने के कुछ दिन बाद ही आपके खाते में एक लाख रुपए आ जाएंगे।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव का बयान, कोरोना वैक्सीन के उपयोग की आपात मंजूरी दी जा सकती है

 

क्या है दावे का सच?

ये स्कीम पूरी तरह से फ्रॉड है। सरकार कभी भी किसी योजना के लिए पैसे नहीं मांगती है। ये सरकारी योजनाओं के नाम पर धांधली है। प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के मिलते-जुलते नाम से इस योजना को इसलिए बनाया गया है ताकि लोगों को इसपर भरोसा हो सके। सरकार की तरफ से प्रेस इनफॉर्मेशन ब्यूरो (PIB) की फैक्ट चेक टीम ने भी इसे फेक बताया है। अपने ट्वीट में PIB ने लिखा है कि यह लेटर फर्जी है। भारत सरकार की ओर से ऐसी कोई योजना नहीं चलाई जा रही है।

patrika fact check
Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned