कोरोना से भी ज्यादा खतरनाक है 'नोरोवायरस' जानिए इसके लक्षण और बचाव के उपाय

कोरोना की तीसरी लहर की खबरों के बीच एक नया वायरस सामने आया है। नए वायरस नोरोवायरस ने डॉक्टरों और वैज्ञानिकों की चिंता बढ़ा दी है।

नई दिल्ली। महामारी कोरोना वायरस अभी खत्म नहीं हुआ है। पूरी दुनिया इस समय कोविड—19 के खौफ में जी रही है। कोरोना की तीसरी लहर की खबरों के बीच एक नया वायरस सामने आया है। नए वायरस ने डॉक्टरों और वैज्ञानिकों की चिंता बढ़ा दी है। इस नए वायरस का नाम नोरोवायरस (Norovirus) यानी विंटर वोमिटिंग वायरस (Winter Vomiting Bug) है। नोरोवायरस कई देशों में बहुत तेजी से फैल रहा है। बताया जा रहा है कि नोरोवायरस कोरोना वायरस से भी ज्यादा खतरनाक है। इस वायरस को लेकर दुनियाभर में लोगों के मन में काफी डर है।


कोरोना से भी ज्यादा खतरनाक
सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) का कहना है कि नोरोवायरस कोरोना वायरस की तुलना में कहीं ज्‍यादा खतरनाक है। इस वायरस की सबसे खास बात यह है कि यह बहुत तेजी से फैलता है। इस वायरस के संक्रमित व्यक्ति में उल्‍टी और डायरिया जैसे लक्षण नजर आते है। कोविड से पीड़ित कुछ लोगों को भी यही लक्षण होते हैं।

यह भी पढ़े :— कोरोना का कहर जारी : नए केसों में 12 हजार का उछाल, 24 घंटे में आंकड़ा 42 हजार के पार

बहुत से बदलता है वैरिएंट
वैज्ञानिकों का कहना है कि नोरोवायरस से पीड़ित लोगों में कई बार लक्षण नजर नहीं आते है। यह वायरस बहुत तेजी से अपने वैरिएंट बदलता है। नोरोवायरस जब फैलता है तो यह कई बार इतनी बार और इतनी तेजी से स्वरूप बदलता है कि मानक जांच किट भी इसके हर स्वरूप का पता नहीं लगा पाते।

यह भी पढ़ें : चीन ने अपनी ही कोरोना वैक्सीन पर आशंका जताई, दो डोज लेने वालों को देगा जर्मनी का बूस्टर शॉट

नोरोवायरस के लक्षण
- इसके मुख्य लक्षण डायरिया, उल्‍टी, सिर चकराना और पेट में तेज दर्द होना है।
- वायरस के शरीर में दाखिल होने के अंदर 12 से 48 घंटे में ही संक्रमण फैल जाता है।
- इसके अलावा बुखार, सिरदर्द और बदन दर्द भी कई मरीजों में देखा गया है।
- वायरस से संक्रमित व्‍यक्ति को 2 से 3 हफ्ते तक उल्‍टी होती है।

नोरोवायरस से बचाव
— नोरोवायरस से बचाव के लिए साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए।
— इस वायरस का संक्रमण खाने-पीने की चीजों से भी फैल सकता है।
— कुछ भी छूने के बाद, बाहर से आने पर और कुछ खाने से पहले हमेशा अपने हाथों को ठीक से धोएं।
— कोविड-19 की तरह इसके लिए भी सैनिटाइजर का प्रयोग करें।
— नोरोवायरस शरीर में पानी की कमी होने पर ज्यादा सक्रिय रहता है।
— संक्रमण के प्रभाव में आने के बाद घर से बाहर न निकलें।
— इसके अलावा फल और सब्जियां धोकर खाएं एवं हाथ अच्छी तरह से धोएं।

Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned