रूसी कोरोना वैक्सीन Sputnik V की कीमतों का हुआ ऐलान, जानिए एक डोज के लिए कितने चुकाने होंगे दाम

भारत में रूसी कोरोना वैक्सीन Sputnik V की कीमतों का हुआ खुलासा, डॉ. रेड्डी ने एक बायन में बताई एक डोज की कीमत

नई दिल्ली। कोरोना संकट ( Coronavirus ) के बीच रूस की कोरोना वैक्सीन स्पूतनिक वी ( Sputnik V ) को लेकर बड़ी खबर सामने आई है। भारतीय बाजारों में उपलब्ध होने से पहले ही वैक्सीन की कीमत ( Sputnik V Price )का खुलासा हो गया है।

भारत में इस वैक्सीन की मार्केटिंग करने वाली कंपनी डॉ. रेड्डी के मुताबिक, स्पूतनिक वी की एक डोज करीब के लिए करीब 1,000 रुपए खर्च करना होंगे।

यह भी पढ़ेँः Patrika Positive News: केंद्र सरकार की बड़ी योजना, इस साल के अंत तक सभी को लगेगी कोरोना वैक्सीन

भारत में कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में कोविशील्ड और कोवैक्सीन के बाद अब एक और वैक्सीन स्पूतनिक-V भी अगले सप्ताह से बाजारों में उपलब्ध होगी।

इस वैक्सीन की कीमतों को लेकर भी शुक्रवार को खुलासा हो गया है। रूस से आई स्पूतनिक-V वैक्सीन की एक खुराक की कीमत 948 रुपए रखी गई है। हालांकि इसमें 5 फीसदी जीएसटी जोड़ने के बाद इसकी कीमत 995.40 रुपए होगी।

फिलहाल 1.5 लाख डोज उपलब्ध
एक बयान जारी कर डॉ. रेड्डी ने इसकी जानकरी दी है। बयान में कहा गया है कि जब स्पूतनिक-V वैक्सीन का निर्माण भारत में शुरू होगा, तब उसकी कीमत कम होगी।

आपको बता दें कि भारत में फिलहाल स्पूतनिक-V वैक्सीन की 1.50 लाख डोज उपलब्ध हैं।

दो डोज के लिए इतना होगा खर्च
अगर आप प्राइवेट में स्पूतनिक वैक्सीन लगवाते हैं तो आपको दो डोज के लिए करीब 2,000 रुपए (एडमिनिस्‍ट्रेशन चार्ज अलग से) खर्च करने होंगे।

यह भी पढ़ेँः Akshaya Tritiya 2021 पर मोदी सरकार का तोहफा, 5 दिन तक मिलेगा शुद्ध और सस्ता सोना खरीदने का मौका

देश में लग चुकी Sputnik V की पहली डोज
भारत में स्‍पूनिक वी की पहली डोज लग चुकी है। डॉ रेड्डीज लैबोरेटरीज में कस्‍टम फार्मा सविर्सिज के ग्‍लोबल हेड दीपक सापरा को हैदराबाद में वैक्‍सीन की पहली डोज दी गई है। उन्‍हें 21 दिन बाद वैक्‍सीन की दूसरी डोज दी जाएगी।

आपको बता दें कि भारत में अब तक दो टीकों (कोविशील्ड और कोवैक्सीन) के साथ टीकारण अभियान चल रहा है। केंद्र सरकार इन दोनों टीकों को 250 रुपए में खरीदती है। हालांकि, कोविशील्ड और कोवैक्सीन ने प्राइवेट अस्पतालों और खुले बाजार के लिए अपनी वैक्सीन की अलग कीमत रखी है।

1 मई से निजी अस्पतालों को भी मंजूरी
केंद्र सरकार ने 1 मई से वैक्सीन कंपनियों को राज्य सरकारों और निजी अस्पतालों को भी टीके की बिक्री की अनुमति दे दी है। देश में टीके का उत्पादन कर रहीं कंपनियां 50 फीसदी टीका केंद्र सरकार को देंगी तो 50 फीसदी टीका राज्य सरकारों और निजी अस्पतालों को बेच सकती हैं।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned