Mumbai Hotel Taj समेत तीन होटलों को उड़ाने की धमकी, पाकिस्तान से आया फोन

  • Coronavirus संकट के बीच Mumbai को दहलाने की साजिश
  • Mumbai के Hotel Taj समेत तीन होटल को मिली Bomb से उड़ाने की Threat
  • Pakistan से आया धमकीभरा Call, Mumbai Police ने बढ़ाई Security

नई दिल्ली। देश की आर्थिक राजधानी मुंबई ( Mumbai ) इस वक्त कोरोना संकट के बुरी तरह जूझ रही है। इस बीच मुंबई को एक बार फिर दहलाने की धमकी मिली है। ये धमकीभरा फोन पाकिस्तान ( Threat Call from Pakistan ) से आया है। इस फोन के जरिये मुंबई के ताज होटल ( Mumbai Hotel Taj ) को उड़ाने की धमकी दी गई है। सिर्फ होटल ताज ही नहीं बल्कि मुंबई के होटल कोलाबा ( Hotel Colaba ) और ताज लैंड्स एंड ( Taj Lands End ) को भी ये धमकी भरा कॉल किया गया है।

दरअसल ये कॉल सोमवार देर रात 12.30 बजे पाकिस्तान से किया गया है। धमकी के बाद सुरक्षा बढ़ा दी गई है।
देश की आर्थिक राजधानी मुंबई को एक बार फिर दहशतगर्दों ने बम धमाकों से दहलाने की धमकी दी है। मुबई स्थित ताज होटल (Taj Hotel) को बम से उड़ाने की धमकी देने वाला फोन किया गया है। मुंबई पुलिस ( Mumbai Police )ने सुरक्षा बढ़ा दी है।

मौसम ने बदली अपनी चाल, देश के 12 से ज्यादा राज्यों में जोरदार बारिश कर सकती है बुरा हाल

जून खत्म होने से पहले ही सरकार ने लिया बड़ा फैसला, 31 जुलाई तक बढ़ाया गया लॉकडाउन

फोन पर दी ये धमकी
मुंबई को दहलाने की धमकी देने वाली दहशतगर्दों ने जो फोन किया उससे जो कहा वो ये था...'कराची स्टॉक एक्सचेंज में हुआ आतंकी हमला पूरी दुनिया ने देखा है अब भारत के ताज होटल में 26/11 जैसा हमला एक बार फिर होगा।'

ताज प्रबंधन ने पुलिस को दी जानकारी
ताज होटल को पाकिस्तान से आए धमकी भरे फोन की जानकारी मुंबई पुलिस को दे दी गई है। पाकिस्तान से आए इस फोन के बाद से मुंबई में सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ा दिया गया है।

रात में आए इस फोन के बाद से मुंबई पुलिस और होटल स्टाफ मिलकर सुरक्षा के लिहाज से होटल का मुआयना भी कर रहे हैं ताकि किसी भी तरह की संदिग्ध गतिविधि को तुरंत पकड़ कर उचित कार्रवाई की जा सके।

होटल और आस-पास के क्षेत्र में आने वाले हर शख्स पर नजर रखी जा रही है। होटल पहुंचने वाले सभी गेस्ट की एक बार फिर जानकारी इकट्ठा की जा रही है। होटल स्टाफ से गेस्ट की हर गतिविधि पर नजर रखने को कहा गया है। इसके साथ ही दक्षिण मुंबई में नाकाबंदी कर वाहनों की तलाशी बढ़ा दी गई है।

साइबर सेल की मदद
साइबल सेल मामले की जांच में जुट गया है। टेलीकॉम विभाग से भी मदद ली जा रही है ताकि कॉल करने वाली की लोकेशन पता लगाई जा सके।

Show More
धीरज शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned