Weather Forecast: मुंबई और पुणे में भारी बारिश की चेतावनी, IMD ने जारी किया रेड अलर्ट

  • Weather Forecast: मुंबई और पुणे में भारी बारिश की चेतावनी
  • IMD ने जारी किया अलर्ट, मछुआरे को समुद्र में ना जाने की सलाह

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ( coronavirus ) संकट के बीच देश के कुछ हिस्सों में एक बार फिर 'आसमानी कहर' जारी है। तेलंगाना के बाद मुंबई ( Heavy Rain in Mumbai ) और पुणे ( Rain in Pune ) में भारी बारिश से तबाही मची है। पिछले दो दिनों से राष्ट्रीय राजधानी और पुणे के कई इलाकों में जलजमाव हो गया है। वहीं, लगातार भारी बारिश के कारण मौसम विभाग ने कई इलाकों में रेड अलर्ट जारी कर रखा है। साथ ही पानी में फंसे लोगों का रेस्क्यू भी किया जा रहा है और मछुआरे को तटीय इलाके में ना जाने की सलाह दी गई है।

पढ़ें- COVID-19 पर हर्षवर्धन ने दिया बड़ा बयान, कहा-जल्द मिलेगी भारत को कोरोना वैक्सीन

मुंबई में पानी-पानी

मौसम विभाग ने मुंबई और पुणे के कई इलाकों में अभी भारी बारिश की भविष्यवाणी की है। इससे पहले बुधवार और गुरुवार को भी मुंबई और पुणे के कई इलाकों में जमकर बारिश हुई। भारी बारिश के कारण सड़कों पर पानी भर गया है। कई मकानों में भी पानी घुस चुका है। वहीं, पुणे के नीमगांव गेटी गांव में भारी बारिश के कारण बाढ़ आ गई है। अब तक 40 लोगों का बाढ़ प्रभावित इलाकों से निकाला जा चुका है। इधर, मामले की गंभीरता को देखते हुए IMD ने मुंबई, पुणे, ठाणे, नॉर्थ कोंकण के कई इलाकों में रेड अलर्ट जारी किया है। वहीं, कुछ इलाकों में ऑरेंज अलर्ट भी जारी किया गया है। मुंबई में सियोन पुलिस स्टेशन के पास काफी पानी भर गया है। जलजमाव के कारण लोगों को घरों से बाहर निकलना मुश्किल हो रहा है। गौरतलब है कि पिछले दो दिनों से मुंबई और पुणे के कई इलाकों में लगातार बारिश हो रही है।

पढ़ें- Weather Update: महाराष्ट्र में मौसम विभाग का अलर्ट, तेलंगाना में अब तक 30 लोगों की मौत

महाराष्ट्र में भारी बारिश के कारण 27 लोगों की मौत

इधर, भारी बारिश के कारण लोगों की मौतें भी हो रही है। पश्चिम महाराष्ट्र में अब तक 27 लोगों की मौत हो चुकी है। जिन इलाकों में लोगों की जानें गई हैं, उनमें सोलापुर, सांगली और पुणे के कुछ इलाकें शामिल हैं। वहीं, तीन जिलों में 20 हजार से ज्यादा लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। वहीं, भारी बारिश के कारण मछुआरे को समुद्र के तटीय इलाकों में अगले कुछ दिनों तक ना जाने की सलाह दी गई है। साथ ही लोगों से भी सतर्क रहने के लिए कहा गया है। इससे पहले तेलंगाना में भी कुदरती कहर में 30 लोगों की मौत हो गई है। हैदराबाद में तीन दिनों तक जमकर बारिश हुई। कई जगहों पर दीवारें गिर गई, मकान और दुकानों को भी काफी नुकसान पहुंचा है। इतना ही नहीं भारी बारिश को देखते हुए IMD ने कहा है कि इस बार ठंड भी ज्यादा पड़ सकती है।

Kaushlendra Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned