उत्तर कोरिया में नया कानून, बच्चे को संस्कारित नहीं बनाया तो मां-बाप को मिलेगी ये सजा

-दक्षिण कोरिया के प्रॉडक्ट ले रहे लोगों पर सख्ती की तैयारी (Strict preparation on people taking South Korea products)

-तानाशाह किम जोंग उन ने पास किया नया कानून (Dictator kim jong un passed the new law)

प्रतिबंधों के बावजूद उत्तर कोरिया में चोरी छिपे दक्षिण कोरिया के उत्पाद, फिल्में और सूचनाओं को हासिल किया जा रहा है। उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन ने अब ऐसी सूचनाओं को रोकने के प्रयास तेज कर दिए हैं। पिछले वर्ष के आखिर में उत्तर कोरिया ने प्रतिक्रियावादी विचारधारा पर अंकुश लगाने के लिए एक कानून भी पास किया है। इसमें खासतौर पर प्रतिद्वंद्वी दक्षिण कोरिया की पुस्तक पढऩे और फिल्म देखने पर 15 वर्ष का कठोर परिश्रम, दक्षिण कोरियाई लहजे में बात करने पर दो वर्ष तक की सजा का प्रावधान है। इतना ही नहीं ऐसे माता-पिता पर 111 से 222 डॉलर तक जुर्माना लगाया जाएगा, जो अपने बच्चों की अच्छी परवरिश करने में विफल रहे। नए कानून में विदेशी सामग्रियों का वितरण या बेचने वालों को मौत की सजा तक का प्रावधान है।

डर इसलिए भी
उत्तर कोरिया की चिंता के अपने कारण हैं। 2019 में 200 भगौड़ों के अध्ययन में पता चला कि इनमें 90 फीसदी विदेशी या दक्षिण कोरियाई चैनल देखते थे। गौरतलब है कि दक्षिण कोरियाई नाटक ‘कै्रश लैंडिंग ऑन यू’ उत्तर कोरियाई लोगों में काफी लोकप्रिय है। जिसमें उत्तर कोरिया के जीवन का सजीव चित्रण है। उ. कोरियाई अधिकारियों को लगता है कि इसमें किम की छवि को खराब किया जा रहा है।

Show More
pushpesh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned