scriptDistrict hospital patients will get private facilities | जिला अस्पताल के मरीजों को मिलेंगी प्राइवेट जैसी सुविधाएं | Patrika News

जिला अस्पताल के मरीजों को मिलेंगी प्राइवेट जैसी सुविधाएं

locationमोरेनाPublished: Jan 20, 2024 02:58:44 pm

Submitted by:

Ashok Sharma

- अस्पताल प्रबंधन की अच्छी पहल: तैयार किए जा रहे 12 सेमी वी आई पी वार्ड, 400 रुपए रहेगा शुल्क, 24 घंटे रहेगा नर्सिंग स्टाफ

जिला अस्पताल के मरीजों को मिलेंगी प्राइवेट जैसी सुविधाएं
जिला अस्पताल के मरीजों को मिलेंगी प्राइवेट जैसी सुविधाएं
मुरैना. जिला अस्पताल में प्राइवेट अस्पताल जैसी सुविधाएं मरीजों को मिलेंगी। इसके लिए अस्पताल प्रबंधन द्वारा रेडक्रॉस वार्डों में आरएमओ कार्यालय के ऊपर 12 सेमी वीआइपी वार्ड तैयार किए जा रहे हैं। इनके बनने से मरीजों का काफी राहत मिलेगी और हजारों रुपए खर्च करके प्राइवेट में जो सुविधा मिलती है, वह अब मात्र 400 रुपए देकर जिला अस्पताल में मुहैया हो सकेगी। इसके लिए अस्पताल प्रबंधन ने प्लानिंग कर ली है, जल्द ही काम शुरू किया जाएगा।
यहां बता दें कि रेडक्रॉस वार्ड में पहले से चार वीआइपी वार्ड हैं लेकिन इनका शुल्क 600 रुपए है इसलिए अस्पताल प्रबंधन ने शुल्क कम करते हुए 400 रुपए में सेमी वीआइपी वार्ड उपलब्ध करवाया जा रहा है। इसके लिए आरएमओ कक्ष के ऊपर 12 सेमी वीआइपी वार्ड तैयार किए जा रहे हैं। इसके लिए अस्पताल प्रबंधन को अलग से कोई फंड तय नहीं किया है। इन वार्ड में लेट वाथ कंबाइंड रहेगा। वर्न यूनिट को पुरानी मेटरनिटी में शिफ्ट कर दिया है इसलिए कुछ दिनों ने वर्न यूनिट बंद पड़ी है। इन वार्डों की केबिल बेकार पड़ी हैं इसलिए इनका यूज सेमी वार्डों को तैयार करने में किया जाएगा।
कथन
- जिला अस्पताल के रेडक्रॉस वार्डों में सेमी वीआइपी वार्ड तैयार किए जाएंगे। इसके लिए पुरानी वर्न यूनिट की केबिल को उपयोग किया जाएगा। इसके लिए अलग से कोई फंड नहीं रहेगा। इनके बनने से लोगों को राहत मिलेगी।
डॉ. सुरेन्द्र सिंह गुर्जर, आरएमओ, जिला अस्पताल
आइसीयू पर होगा लोढ कम
जिला अस्पताल में 12 सेमी वीआइपी वार्ड के निर्माण होने पर आइसीयू का लोढ कम हो जाएगा। वर्तमान में स्थिति यह है कि अपने आपको वीआइवी श्रेणी में समझते हैं, उनको मरीज को बुखार भी आता है तो सिफारिश लगाकर आइसीयू में भर्ती करवा देते हैं। ऐसे लोगों के लिए से अस्पताल प्रबंधन और स्वयं मरीज को सेमी वीआइपी वार्ड बनने से राहत मिलेगी।

ट्रेंडिंग वीडियो