तब्लीग के मरकज में महाराष्ट्र से सैकड़ों लोग पहुंचे, मुंब्रा में 13 बांग्लादेशी और 8 मलेशियाई क्वारेंटाइन

 

तब्लीग-ए-जमात का कार्यक्रम दिल्ली (Delhi) के निजामुद्दीन में आयोजित किया गया था। इसमें मुंबई, ठाणे सहित महाराष्ट्र (Maharashtra) के हर क्षेत्र से लोगों ने शिरकत की थी। जमात में शामिल कई लोग कोरोना पॉजिटिव (Covid-19+) पाए गए हैं। इससे महाराष्ट्र सरकार की नींद उड़ी हुई है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thakerey) ने कहा है कि महाराष्ट्र में मरकज की पुनरावृत्ति नहीं होगी। शिवसेना (Shivsena) नेता संजय राउत ने मरकज के आयोजकों को गिरफ्तार करने की मांग की है।

By: Basant Mourya

Published: 01 Apr 2020, 11:17 PM IST

मुंबई. दिल्ली के निजामुद्दीन (Nizamuddin) में आयोजित तब्लीग-ए-जमात मरकज में महाराष्ट्र से सैकड़ों लोग शामिल हुए हैं। मुंबई (Mumbai), ठाणे, रायगड, पालघर (Palghar), पुणे, अहमदनगर सहित राज्य के अन्य क्षेत्रों से मरकज में शामिल होने के लिए गए लोगों की तलाश पुलिस (Police) कर रही है। ठाणे, पुणे (Pune), अहमदनगर, नासिक (Nashik) और नागपुर (Nagpur) से गए दर्जनों लोगों की पहचान पुलिस कर चुकी है। इनमें से कई लोगों को पुलिस ने क्वारेंटाइन किया है। अकेले मुंबई से 150 लोग निजामुद्दीन गए थे। हालांकि मुंबई पुलिस ने इसका पुष्टि नहीं की है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thakerey) ने कहा है कि महाराष्ट्र में मरकज की पुनरावृत्ति नहीं होगी। शिवसेना (Shivsena) के राज्यसभा सदस्य संजय राउत (Snajay Raut) ने मरकज (Markaz) के आयोजकों को गिरफ्तार करने की मांग की है।

तब्लीग-ए-जमात के मरकज कार्यक्रम में पुणे और आसपास के 182 लोग शामिल हुए थे। इनमें से 106 की पहचान हो गई है, जिनमें से 94 को क्वारेंटाइन किया गया है। बाकी लोगों की तलाश जारी है, जिसके लिए पुलिस की छह टीमें बनाई गई हैं। विभागीय आयुक्त दीपक म्हैसकर के मुताबिक पुणे से 110, पिंपरी चिंचवड से 26, सातारा से 5, सांगली (Sangli) से 3, सोलापुर से 17 और कोल्हापुर (Kolhapur) से 21 लोग निजामुद्दीन गए थे। कॉल ट्रेस से पता चला है कि कुछ लोग अभी दूसरों राज्यों में हैं।

मुंब्रा में पकड़े गए आठ मलेशियाई
तब्लीगी जमात के कार्यक्रम में हिस्सा लेकर लौटे और ठाणे के मुंब्रा (Mumbra) में रह रहे 13 बांग्लादेशी, 8 मलेशियाई नागरिकों सहित असम के दो लोगों को पुलिस ने क्वारेंटाइन किया है। नागपुर मंडल से 94 लोग इसमें शामिल हुए थे। प्रशासन ने इन सभी को कोरोना जांच कराने का आदेश दिया है। अहमदनगर जिले से 46 लोग जमात में शामिल हुए थे। इनमें से 35 लोग ट्रेस हो चुके हैं, जिनमें से दो कोरोना पॉजिटिव हैं।

नासिक से दिल्ली गए 21 लोगों की पहचान
नासिक से 50 से ज्यादा लोग तब्लीगी मरकज में शामिल हुए थे। इनमें से 21 की पहचान हो गई है, जिनमें 16 को क्वारेंटाइन किया गया है। पुलिस आयुक्त विश्वास नागरे पाटील ने बताया कि हम कोरोना की रोकथाम से जुड़े हर उपाय कर रहे हैं। लोगों की मदद के लिए पुलिस ने नासिक शहर में कंट्रोल रूम और कोरोना सेल बनाया है।

Corona virus COVID-19 Covid-19 in india COVID-19 virus
Show More
Basant Mourya
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned