कोरोना मुक्त हो चुके जनपद में फिर तेजी से बढ़ने लगे मरीज, प्रवासी मजदूरों ने बढ़ाई मुश्किलें

Highlights:

-प्रवासी मजदूरों में से 3 मजदूर पॉजिटिव थे और जिसके बाद एक के बाद एक संख्या बढ़ती गई

-गुरुवार को आई रिपोर्ट में 3 मरीज बढ़े थे। जिसके बाद संख्या 11 हो गई थी

-अब 4 और नए मरीज बढ़े हैंं। जिनमें तीन मुंबई से तो एक अहमदाबाद से आया था

By: Rahul Chauhan

Updated: 22 May 2020, 07:27 PM IST

मुजफ्फरनगर। करीब 1 सप्ताह पूर्व कोरोना मुक्त हुए जनपद मुजफ्फरनगर की समस्याएं एक बार फिर बढ़ती दिखाई दे रही हैं। कारण, इस बार फिर प्रवासी मजदूरों की वजह से जनपद में एक के बाद एक कोरोना के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। इस कड़ी में शुक्रवार को आई 136 रिपोर्ट में चार नए कोरोना के मरीज सामने आए हैं। जिसके बाद पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 15 हो गई है।

यह भी पढ़ें: शराब व बीयर कारोबारियों ने सीएम योगी से लगाई गुहार, बोले- हमारी भी मदद करे सरकार

इससे पहले जनपद में लगभग 24 कोरोना के पॉजिटिव मरीज हुए थे, जिन्हें मुजफ्फरनगर मेडिकल कॉलेज बेगराजपुर में आइसोलेट किया गया था। जो चिकित्सा विभाग की कड़ी मशक्कत और मेहनत के चलते लगभग 1 सप्ताह पहले ठीक होकर अपने घर चले गए थे। जिसके बाद जिला कोरोना मुक्त हो गया था। लेकिन एक बार फिर संक्रमण ने जनपद को अपनी चपेट में लेना शुरू कर दिया है।

यह भी पढ़ें : Lockdown में बदल गया दुकान खुलने का समय, जारी हुई नई गाइडलाइन

दरअसल, खतौली में महाराष्ट्र से आए अचानक आए प्रवासी मजदूरों में से 3 मजदूर पॉजिटिव थे और जिसके बाद एक के बाद एक संख्या बढ़ती गई। गुरुवार को आई रिपोर्ट में 3 मरीज बढ़े थे। जिसके बाद संख्या 11 हो गई थी। वहीं अब 4 और नए मरीज बढ़े हैंं। जिनमें तीन मुंबई से तो एक अहमदाबाद से आया था हालांकि अभी जनपद में कोई नया हॉट स्पॉट नहीं बना है। क्योंकि जब से यह लोग जनपद में आए थे तभी से सदर तहसील क्षेत्र के कल्याणकारी इंटर कॉलेज बागरा में क्वॉरेंटाइन किए गए थे।

coronavirus
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned