मुजफ्फरनगर में भी भाजपा का परचम, 34 में से 30 वोट लेकर वीरपाल विजयी

jila panchayat chunav

मुजफ्फरनगर में भाजपा केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान के भाई काे मिली करारी हार

भाजपा के खिलाफ गठबंधन के प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़ रहे थे मंत्री के भाई

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

मुजफ्फरनगर. हंगामा-प्रदर्शन और गहमागहमी के बीच संपन्न हुए जिला पंचायत चुनाव ( jila panchayat chunav ) में भाजपा प्रत्याशी को भारी मतों से जीत मिली। विपक्ष ने आरोप-प्रत्यारोप लगाए और चुनाव ( chunav ) का बहिष्कार भी किया। इस तरह दिनभर हंगामा होता रहा। कुल 43 जिला पंचायत सदस्यों में से महज 34 सदस्यों ने ही अपने मताधिकार का प्रयोग किया। इनमें से 30 मत भाजपा प्रत्याशी ( bjp leader ) डॉक्टर वीरपाल निरवाल के पक्ष में पड़े जबूकि 4 वोट रालोद, सपा और आजाद समाज पार्टी में भारतीय किसान यूनियन के संयुक्त प्रत्याशी सतेंद्र बालियान के पक्ष में पड़े। इनमें खुद प्रत्याशी सतेंद्र बालियान का मत भी शामिल है। बाकी नो जिला पंचायत सदस्यों ने चुनाव का बहिष्कार कर दिया।

यह भी पढ़ें: आजम के गढ़ में भी सपा को करारी हार, जीती भाजपा

चुनावी के शुरुआती दौर में ही कथित रूप से विपक्ष के साथ वाले जिला पंचायत सदस्य भारतीय जनता पार्टी के सदस्यों के साथ कलेक्ट्रेट में दाखिल हुए तो खलबली मच गई। 11 बजे मतदान शुरू हुआ और 12 बजे तक विपक्ष के संयुक्त प्रत्याशी सतेंद्र बालियान जिला कलेक्ट्रेट से बाहर निकल आए। बाहर आकर उन्हाेंने जिला प्रशासन और भारतीय जनता पार्टी पर चुनाव में धांधली का आरोप लगाया। अपने भाई केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान पर भी आरोप लगाते हुए 2022 और 2024 में भाजपा को चुनाव हराने की बात कही। मामले की जानकारी विपक्षी पार्टियों के पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं को लगी तो महावीर चौक पर हंगामा खड़ा हो गया। रालोद-सपा-आजाद समाज पार्टी कांग्रेस व भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं ने प्रशासन और सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए हंगामा शुरू कर दिया।

यह भी पढ़ें: आधे से ज्यादा यूपी जिला पंचायत अध्यक्ष पदों पर महिलाओं का कब्जा, जानिए किस सीट पर किसने मारी बाजी

भीड़ बेरीक़ेटिंग तोड़ते हुए जिला कलेक्ट्रेट की ओर कूच करने लगी। आनन-फानन में पुलिस अधिकारी पुलिस बल के साथ विपक्षी कार्यकर्ताओं को रोकने के लिए दौड़ पड़े मगर इसके बावजूद भी भीड़ प्रकाश चौक पर पहुंच गई। काफी देर तक हंगामा होता रहा भीड़ ने जबरन बेरिकेटिंग हटा दी जिसमें पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने कड़ी मशक्कत कर भीड़ को समझा-बुझाकर शांत किया। इसके बाद तमाम विपक्षी नेता व भीड़ राष्ट्रीय लोक दल कार्यालय पर पहुंच गई। दाेपहर बाद जिला प्रशासन ने वोटिंग के लिए घोषणा कर दी। इसके बाद मतगणना के लिए भी घोषणा की गई।

यह भी पढ़ें: jila panchayat chunav वेस्ट बिखर गया गठबंधन सपा रालोद को सिर्फ एक-एक सीट

विपक्ष के संयुक्त प्रत्याशी सतेंद्र बालियान मतगणना के दौरान मतगणना स्थल पर मौजूद नहीं रहे जिला प्रशासन ने भाजपा प्रत्याशी डॉक्टर वीरपाल निरवाल की जीत की घोषणा कर दी। जिसमें 30 मत पाकर भाजपा प्रत्याशी डॉक्टर वीरपाल निरवाल विजई हुए। इसके बाद तमाम भाजपा के विधायक व कार्यकर्ता और पदाधिकारी कलेक्ट्रेट पहुंच गए और जश्न शुरू हो गया डॉक्टर वीरपाल निरवाल और विधायक उमेश मलिक को भीड़ ने फूल मालाओं से लाद दिया गौरतलब है कि विपक्ष के संयुक्त प्रत्याशी सतेंद्र बालियान केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान के तेहरे भाई हैं भाजपा प्रत्याशी की जीत के बाद संजीव बालियान के आवास पर बधाई देने वालों का तांता लग गया।

यह भी पढ़ें: दुनिया का सबसे महंगा है कन्नौज का यह परफ्यूम, 5 हजार है एक ग्राम की कीमत, खासियत ऐसी कि आप भी हो जाएंगे दिवाने

यह भी पढ़ें: सपा के साथ खड़ी हुई बसपा, भाजपा को अपने जिला पंचायत सदस्यों का भी नहीं मिला वोट

bjp leader
shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned