भूलकर भी यह वीडियो whatsapp पर न करें शेयर, नहीं तो जाना पड़ेगा जेल

whatsapp पर वायरल हो रहा है झूला टूटने का वीडियो, मुजफ्फरनगर में अज्ञात लोगों के खिलाफ दर्ज हुआ मुकदमा

By: sharad asthana

Published: 07 Jun 2018, 12:40 PM IST

मुजफ्फरनगर। इन दिनों देश भर में सोशल मीडिया का प्रचलन बेहद जोरों पर है। जहां सोशल मीडिया से कई जगह फायदे हो रहे हैं, वहीं इससे ज्यादा अफवाहों और झूठी खबरों के प्रसारण से लोगों के लिए मुसीबत भी बन जाते हैं। ऐसा ही ताजा मामला जनपद मुजफ्फरनगर का है। यहां WhatsApp पर अज्ञात व्यक्ति ने एक वीडियो वायरल करते हुए उस पर यह मैसेज दिया कि यह मुजफ्फरनगर का है। इसके बाद पुलिस व प्रशासन में हड़कंप मच गया। जिला प्रशासन ने मामले को गंभीरता से लेते हुए वीडियो वायरल करने वाले अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया है।

देखें वीडियो: वायरल वीडियो पर मुकदमा दर्ज

whatsapp पर वायरल हो रहा वीडियो

दरअसल, काफी समय से whatsapp पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें नुमाइश में एक झूला टूटता हुआ दिखता है। हादसे में कुछ बच्चे भी नीचे गिरते दिखते हैं। इसके साथ ही मैसेज भी वायरल हो रहा है कि यह हादसा बरेली का है, जिसमें 6 लोगों की मौत हो गई है। इस वारल मैसेज में बस जिले का नाम बदल जाता है और यह whatsapp पर तेजी से वायरल हो रहा है।

यह भी पढ़ें: सावधान! कहीं आपने भी तो इस LIC एजेंट से नहीं ली पॉलिसी

जिले में मचा हड़कंप

ऐसा ही एक वीडियो मुजफ्फरनगर के लोगों के फोन में भी पहुंचा। इसमें बताया गया कि मुजफ्फरनगर में लगी नुमाइश का झूला टूटने से छह लोगों की मौत हो गई। इसके वायरल होते ही मुजफ्फरनगर में हड़कंप मच गया। जिला प्रशासन भी हरकत में आ गया मगर वहां जाकर देखा गया तो इस तरह का कोई मामला ही नहीं था।

यह भी पढ़ें: मुजफ्फरनगर में फिर नफरत फैलाने का दौर शुरू, हिन्दूवादी नेता के बयान पर मची खलबली

जनपद में चल रही है नुमाइश

दरअसल, जनपद में पांच साल बाद प्रशासन की तरफ से जिला कृषि एवं औद्योगिक प्रदर्शनी (नुमाइश) चल रही है। इसमें दर्जनों झूलों सहित खेल-कूद व मनोरंजन के साधन हैं। साथ ही नुमाइश में खाने-पीने की वस्तुएं व सामान के स्टाॅल भी लगाए गए हैं। इस मेले में रोजाना हजारों लोग पहुंच रहे हैं।

यह भी पढ़ें: दो बहनें मिलकर करतीं थी ये गंदा काम, सीसीटीवी से हुआ खुलासा

सोशल मीडिया पर वायरल हुआ मैसेज

मंगलवार को कुछ असामाजिक तत्वों ने मेले में झूला टूटने की वीडियो और इससे छह लोगों की मौत होने का मैसेज सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। इसके बाद तत्काल सिटी मजिस्ट्रेट ने इस बात का खंडन किया। उन्होंने इस वीडियो के फर्जी होने की बात कही। बुधवार को सिटी मजिस्ट्रेट अमित सिंह ने झूला ठेकेदारों से एक तहरीर लेकर वीडियो वायरल करने वाले सभी लोगों के खिलाफ नगर कोतवाली में मुकदमा दर्ज करा दिया है। अब उनकी तलाश शुरू कर दी गई है, जिन लोगों ने इस तरह की वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल किया था या उसे शेयर किया था।

यह भी पढ़ें: पहले पी खूब शराब लेकिन जब पैसे देने हुए तो ठेके संचालक के साथ किया कुछ ऐसा की मच गई अफरा-तफरी

वीडियो में से बना दहशत का माहौल

सिटी मजिस्ट्रेट अमित सिंह का कहना है कि 4 जून को पांच साल बाद नुमाइश का भव्य उद्घाटन हुआ था। मंगलवार को एक वीडियो वायरल हुअा, जिसमें छह लोगों की मौत बताई गई। पहले तो इसे बरेली का बताया गया लेकिन बाद में इसे मुजफ्फरनगर का बताया गया। इससे नुमाइश में आए लोगों दहशत का माहौल बन गया। इस मामले में वीडियो फॉरवर्ड करने वालों के खिलाफ भी केस दर्ज कराया गया है।

यह भी पढ़ें: इस हिन्दूवादी नेता ने अमित शाह के खिलाफ खोला मोर्चा, बोले नैतिकता बची है तो पद से दें इस्तीफा

कहां का है वीडियो

आपको बता दें कि झूला टूटने का यह वीडियो न तो बरेली का है और न ही मुजफ्फरनगर का। यह घटना आंध्र प्रदेश के अनंतुपर की है। जहां 27 मई को झूला टूटने से एक 10 साल की बच्ची की मौत हो गई थी। बच्ची इस बड़े झूले पर झूल रही थी। उस बीच बोल्ट खुल जाने से झूले का केबिन टूट गया और बच्ची उसमें से गिर पड़ी। इस हादसे में छह लोग घायल भी हुए थे।

Show More
sharad asthana
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned