अयोध्या फैसले के बाद मस्जिद निर्माण के लिए सौंपे जमीन के दस्तावेज, यहां बनेगी भव्य मस्जिद

Highlights
- मस्जिद निर्णाण के सिख बुजुर्ग ने दान की अपनी जमीन
- दोनों समुदायों ने किया बुजुर्ग की पहल का स्वागत
- बोले- मस्जिद निर्माण के बाद दोनों समुदायों में बढ़ेगा भाईचारा

By: lokesh verma

Published: 27 Nov 2019, 04:55 PM IST

मुजफ्फरनगर. उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले में सिख समुदाय के एक व्यक्ति ने सांप्रदायिक सद्भाव का एक ऐसा अनोखा उदाहरण पेश किया है, जिसकी हर कोई खुले दिल से तारीफ कर रहा है। दरअसल, पुरकाजी के रहने वाले 70 वर्षीय सुखपाल सिंह बेदी ने गुरु नानक देव जी के 550वीं जयंती माह के मौके पर मुस्लिम समाज को अपनी जमीन दान में देने का ऐलान किया है, ताकि उनकी जमीन पर भव्य मस्जिद का निर्माण किया जा सके।

यह भी पढ़ें- सिख छात्रों को पगड़ी पहनकर स्कूल आने से रोका, समाज ने दी आंदोलन की चेतावनी, देखें Video

बता दें कि सुखपाल सिंह बेदी एक सामाजिक कार्यकर्ता हैं। बेदी की पुरकाजी कस्बे में जमीन है। जबसे अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आया है तभी से उनकी दिली इच्छा है कि वह कुछ ऐसा काम करें, जिससे देश के हिंदू-मुस्लिमों के बीच एकता कायम हो सके। बेदी ने एक धार्मिक कार्यक्रम के दौरान पुरकाजी नगर पंचायत के अध्यक्ष जहीर फारुकी को अपनी जमीन के दस्तावेज सौंपे। उन्होंने कहा कि इस जमीन पर एक भव्य मस्जिद का निर्माण किया जाएगा।

इस दौरान सुखपाल सिंह बेदी ने कहा कि मस्जिद निर्माण के बाद दोनों समुदायों में और ज्यादा भाईचारा बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि हाल ही में श्रीराम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद केस में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आया है। इसके बाद पूरे देश ने देखा कि सभी समाज आपस में मिल-जुलकर ही रहना चाहते हैं। सभी चाहते हैं कि किसी भी विवाद को लंबा खींचने के स्थान पर उस पर विराम लगना चाहिए।

यह भी पढ़ें- सावधान! ब्रांडेड कंपनी का आटा खाने से पहले जान लें ये सच, देखें Video

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned