13 साल बाद कोर्ट में हाजिर हुए रिटायर्ड डीआईजी, जानिए क्यों

13 साल बाद कोर्ट में हाजिर हुए रिटायर्ड डीआईजी, जानिए क्यों

Nitin Sharma | Updated: 08 Aug 2019, 06:47:13 PM (IST) Muzaffarnagar, Muzaffernagar, Uttar Pradesh, India

मुख्य बातें

  • 13 साल पुराने मामले हत्याकांड मामले में कोर्ट में हाजिर हुए रिटायर्ड डीआईजी
  • हत्या मामले में 18 ग्रामीणों को बनाया गया था आरोपी

मुजफ्फरनगर।13 साल पुराने हत्याकांड मामले में गुरुवार को जिले के तत्कालीन एएसपी सिटी व वर्तमान में डीआईजी के पद से रिटायर्ड हुए डीके चौधरी कोर्ट पहुंचे। उन्होंने कोर्ट पहुंचकर बहुचर्चित अख्तर पुत्र अल्लाह रखा के हत्याकांड में मामले में गवाही दर्ज कराई। इसमें उन्होंने कोर्ट में स्वीकार किया कि गांव लुहारी खुर्द में एक मोटर चोर को पकड़ा गया था। मोटर चोर के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया था। बाद में उसकी मृत्यु हो गई थी।

Video: आरडब्ल्यूए अध्यक्ष और महासचिव का विवाद सुलझाने पहुंचे इंजीनियर को बुरी तरह पीटा, CCTV में कैद हुई वारदात

किसानों ने मौके से पकड़ लिया था आरोपी

दरअसल मामला मुजफ्फरनगर के थाना चरथावल क्षेत्र के गांव लुहारी खुर्द का है। यहां 13 साल पूर्व किसानों की ट्यूबवेल से मोटर चोरी की घटनाएं हो रही थी। इसमें अख्तर पुत्र अल्लाह रखा पर मोटर चोरी को लेकर चरथावल थाने में मुकदमा दर्ज था। जिसमें ग्रामीणों द्वारा मोटर चोरी के आरोपी अख्तर पुत्र अल्लाह रखा को मौके से पकड़ लिया गया। इसकी जानकारी पुलिस को हुई तो मुजफ्फरनगर के तत्कालीन एएसपी सिटी डीके चौधरी जो वर्तमान में यूपी पुलिस में डीआईजी के पद से सेवानिवृत्त हो चुके है। उन्होंने ने फोर्स गठित कर गांव में भेजी। यहां ग्रामीणों ने पकड़े गए मोटर चोरी के आरोपी अख्तर पुत्र अल्लाह रखा की पिटाई कर पुलिस के हवाले कर दिया था।

Teen Talaq: इस वजह से जीजा ने पत्नी के बहन से किया निकाह और फिर दे दिया तीन तलाक

युवक की पिटाई से हो गई थी मौत

इसके बाद उसकी मृत्यु हो गई थी। इस मामले में पुलिस द्वारा 18 ग्रामीणों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था। इसमें एक ग्रामीण नवेद पुत्र मुस्तकीम का नाम पुलिस द्वारा जांच के उपरांत मुकदमे से हटा दिया गया था। इस मामले में 17 ग्रामीणों को जेल जाना पड़ा था। इस घटनाक्रम को लगभग 13 साल बीत चुके हैं और तभी से मामला कोर्ट में विचाराधीन है। सभी आरोपी जमानत पर रिहा भी है। एडीजे कोर्ट द्वारा सुनवाई के लिए गुरुवार को फिर सभी आरोपियों को बुलवाया गया था। इसमें गवाही के लिए मुजफ्फरनगर के तत्कालीन एसपी सिटी डीके चौधरी को भी बुलवाया गया था। इस घटनाक्रम में तत्कालीन एसपी सिटी मुजफ्फरनगर डीके चौधरी के बयान दर्ज किए गये।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned