अफगानिस्तान में वहशी तालिबानियों को हर घर से चाहिए लडक़ी, लाशों के साथ भी बनाते हैं संबंध

तालिबान के चंगुल में आने से पहले ही भारत पहुंची इस महिला पुलिसकर्मी का दावा है कि तालिबानी इतने वहशी हैं कि वे लाशों के साथ भी सेक्स भी कर सकते हैं। महिला पुलिसकर्मी ने बताया कि तालिबानियों को अफगानिस्तान के हर घर से एक लडक़ी चाहिए।

 

By: Ashutosh Pathak

Published: 23 Aug 2021, 08:12 AM IST

नई दिल्ली।

अफगानिस्तान पर कब्जा करने वाले तालिबान की यूं तो कई खौफनाक सच्चाई सामने आ चुकी है, मगर एक बेहद घिनौनी और चौंकाने वाला खुलासा वहां की महिला पुलिसकर्मी ने किया है। यह महिला पुलिसकर्मी तालिबानियों के चंगुल से बचकर भारत पहुंची है। इस महिला पुलिसकर्मी के दावे के बाद जिन लोगों को इस बार तालिबानियों का चेहरा बदला हुआ दिख रहा है, उन्हें एक बार फिर अपने नजरिए पर गौर करने की जरूरत है।

तालिबान के चंगुल में आने से पहले ही भारत पहुंची इस महिला पुलिसकर्मी का दावा है कि तालिबानी इतने वहशी हैं कि वे लाशों के साथ भी सेक्स भी कर सकते हैं। महिला पुलिसकर्मी ने बताया कि तालिबानियों को अफगानिस्तान के हर घर से एक लडक़ी चाहिए।

यह भी पढ़ें:- भारत की धरती पर कदम रखते ही यह अफगानी सांसद फूट-फूटकर रोने लगा, कहा- अब सब कुछ जीरो हो गया

दरअसल, अफगानिस्तान से आकर दिल्ली में रह रही मुस्कान काबुल पुलिस में तैनात थी। तालिबान के खौफ से उसे अफगानिस्तान छोडऩा पड़ा। मुस्कान के अनुसार, हमें वहां धमकाया जाता था कि अगर काम पर गए तो आपके साथ-साथ परिवार भी खतरे में पड़ जाएगा। वे चेतावनी देते हैं और नहीं मानने वालों को उठाकर ले जाते हैं या आकर सिर में गोली मार देते हैं।

काबुल पुलिस में तैनात रही मुस्कान अपने साथ काम करने वाली एक महिला पुलिसकर्मी के साथ हुए वाकये को बताते हुए खौफजदा हो जाती है। मुस्कान के मुताबिक, उस महिला का शव करीब 25 दिन बाद मिला। वे लोग लाशों के साथ भी संबंध बनाते हैं। उन्हें इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि जिसके साथ वे संबंध बना रहे हैं, वह मर चुकी है। उन्हें लाशों के साथ संबंध बनाने में कोई परहेज नहीं होता। क्या आप इस बात की कल्पना कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:- तालिबान ने अब दिखा रहा अपना असली चेहरा, भारत संग व्यापार पर लगाई रोक, ड्राई फ्रूट्स समेत कई चीजें हो सकती हैं महंगी

मुस्कान के मुताबिक, तालिबानियों ने उसके साथ काम करने वाली महिला को अगवा करके दरिंदगी की। कुछ दिन बाद उसका शव परिवार को लौटाते हुए धमकी दी कि किसी ने पुलिस या सरकार के साथ काम किया तो उसके साथ भी यही होगा। मुस्कान ने बताया कि इस मंजर को देखने के बाद हमने अफगानिस्तान छोडऩे का फैसला किया।

मुस्कान ने बताया कि तालिबानियों को हर घर से लडक़ी चाहिए। अगर कोई लडक़ी देने में आनाकानी करता है तो उसके पूरे परिवार को जान से मार देते हैं। वे इतने वहशी और क्रूर हैं कि दस से बारह साल की लडक़ी को भी उठा ले जाते हैं। मुस्कान की मानें तो मीडिया के सामने तालिबान का यह कहना कि हम बदल गए हैं, सब दिखावा है।

Ashutosh Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned