scriptAndhra Pradesh Riots Minister House set on fire amid violence Konseema | आंध्र प्रदेश में जिले का नाम बदलने पर हिंसा, मंत्री का घर जलाया, कई घायल | Patrika News

आंध्र प्रदेश में जिले का नाम बदलने पर हिंसा, मंत्री का घर जलाया, कई घायल

Andhra Pradesh: आंध्र परदेश में कोनसीमा जिला का नाम बदले जाने से आम जनता भड़क गई है और जमकर प्रदर्शन किया। यहाँ तक कि पुलिस पर पत्थर भी बरसाए जिसमें कई लोग घायल हो गए।

Updated: May 24, 2022 09:54:29 pm

आंध्र प्रदेश के आमलापुरम में मंगलवार को हिंसक विरोध प्रदर्शन देखने को मिले। ये विरोध प्रदर्शन कोनसीमा जिले का नाम बदलने को लेकर हुआ। दरअसल, आंध्र प्रदेश के नवगठित जिले कोनासीमा का नाम बदलकर बीआर आंबेडकर कोनासीमा जिला कर दिया गया है। जिले का नाम बदले जाने से गुस्साये लोगों ने भारी विरोध प्रदर्शन किया। पुलिस ने लाठीचार्ज के बावजूद भी प्रदर्शनकारियों ने अमलापुरम शहर में आगजनी की घटना हुई। राज्य के परिवहन मंत्री पी विश्वरूप के घर में आग लगा दी। प्रदर्शनकारियों की मांग है कि कोनसीमा के मूल नाम को न बदला जाए।
Andhra Pradesh Riots Minister House set on fire amid violence over renaming  district
Andhra Pradesh Riots Minister House set on fire amid violence over renaming district
प्रदर्शनकारी इतना गुस्सा हुए थे कि उन्होंने पुलिस की लाठीचार्ज के बाद पथराव भी किया जिसमें कई पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं। इस दौरान पुलिस की गाड़ी और एक शिक्षण संस्थान की बस को भी आग के हवाले कर दिया गया। यही नहीं, प्रदर्शनकारियों ने परिवहन मंत्री पी. विश्वरुपु के घर पर भी हमला किया और यहाँ जमकर तोड़-फोड़ की।

वहीं, राज्य की गृहमंत्री तानेती वनिता ने आरोप लगाया कि कुछ राजनीतिक पार्टियों और असामाजिक तत्वों ने जनता को भड़काया और इस तरह की हिंसा को अंजाम दिया। उन्होंने कहा कि ‘‘ये दुर्भाग्यपूर्ण है कि इस हिंसक घटना में करीब 20 पुलिस कर्मियों को चोट आई हैं। हम मामले की जांच करेंगे और दोषियों के खिलाफ एक्शन लेंगे।’’
यह भी पढ़ें

चंबल के बीहड़ में लगी भीषण आग, उठती लपटें देख लोग सहमे

कोनसीमा एसपी के.एस.एस.वी. सुब्बा रेड्डी ने कहा “हम संघर्ष में घायल हुए कर्मियों की सही संख्या नहीं जानते हैं। संघर्ष जिले का नाम बदलने के प्रस्ताव पर लोगों और समूहों के विभिन्न वर्गों द्वारा शुरू किए गए एक ऑनलाइन अभियान का परिणाम था।"

बता दें कि 4 अप्रैल को पूर्वी गोदावरी जिले से अलग कर कोनासीमा जिले का गठन किया गया था और उसी का नाम बदला गया है। पिछले सप्ताह जिले का नाम बदलने का प्रस्ताव रखा गया था तब विरोध को देखते हुए कोनसीमा जिले में धारा 144 लागू कर दी गई थी। हालांकि, इसके बावजूद भीड़ को नियंत्रित कने में पुलिस विफल रही।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

सीढ़ियां से उतरने के दौरान गिरे राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव, कंधे की हड्डी टूटीदिल्ली और पंजाब में दी जा रही मुफ्त बिजली, गुजरात में क्यों नहीं?: केजरीवालहैदराबाद में बोले PM मोदी- 'तेलंगाना में भी जनता चाहती है डबल इंजन की सरकार, जनता खुद ही बीजेपी के लिए रास्ता बना रही'पीएम मोदी ने लंबे समय तक शासन करने वाली पार्टियों का मजाक उड़ाने के खिलाफ चेताया, कहा - 'मजाक मत उड़ाएं, उनकी गलतियों से सीखें'Rajasthan: वाहन स्क्रैपिंग सेंटर के लिए एक एकड़ जमीन जरूरीAchievement : ऐसा क्या किया पुलिस ने की मिला तीन लाख का ईनाम और शाबाशी ?Mumbai News Live Updates: फ्लोर टेस्ट से पहले शिवसेना का नया दांव, स्पीकर राहुल नार्वेकर से की 39 विधायकों के खिलाफ एक्शन की मांगहनुमानजी के नाम पर वोट मांग रहे कमल नाथ! भाजपा ने की शिकायत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.