scriptBilkis Bano Case: Activists, Historians among 6,000 urge SC to revoke release of convicts | बिलकिस बानो केसः 6000 से अधिक सामाजिक कार्यकर्ताओं ने सुप्रीम कोर्ट से दोषियों की रिहाई को रद्द करने की मांग की | Patrika News

बिलकिस बानो केसः 6000 से अधिक सामाजिक कार्यकर्ताओं ने सुप्रीम कोर्ट से दोषियों की रिहाई को रद्द करने की मांग की

Bilkis Bano Case: बहुचर्चित बिलकिस बानो गैंगरेप केस के 11 दोषियों की समयपूर्व रिहाई के खिलाफ करीबब 6000 लोगों ने सु्प्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। इन सभी लोगों ने गुजरात सरकार के फैसले की आलोचना करते हुए दोषियों की रिहाई के फैसले को रद्द करने की मांग की है।

नई दिल्ली

Published: August 19, 2022 11:03:52 am

Bilkis Bano Case: गुजरात सरकार की क्षमा नीति के तहत बिलकिस बानो गैंगरेप केस के सभी 11 दोषियों को 15 अगस्त को जेल से रिहा कर दिया गया है। दोषियों की रिहाई के बाद से सरकार का यह फैसला विवादों में है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी, प्रियंका गांधी सहित अन्य दलों के नेताओं ने भी इस फैसले की आलोचना की थी। अब गुजरात सरकार के इस फैसले के खिलाफ करीब 6000 सामाजिक कार्यकर्ताओं ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है।

bilkis_bano.jpg
Bilkis Bano Case: Activists, Historians among 6,000 urge SC to revoke release of convicts

मिली जानकारी के अनुसार मानवाधिकार कार्यकर्ता, इतिहासकार और नौकरशाह सहित अन्य प्रतिष्ठित हस्तियों ने सुप्रीम कोर्ट से बिलकिस बानो मामले में दोषियों की रिहाई को रद्द करने का आग्रह किया है। इन लोगों ने दोषियों की रिहाई के फैसले को 'न्याय का गंभीर गर्भपात' बताते हुए गुजरात सरकार के फैसले को रद्द करने की मांग की है।

लेखक, इतिहासकार, फिल्म निर्माता सहित अन्य ने लगाई अर्जी


इस मामले में सुप्रीम कोर्ट को पत्र भेजने वालों में आम नागरिक के साथ-साथ जमीनी स्तर के कार्यकर्ता, मानवाधिकार कार्यकर्ता, प्रख्यात लेखक, इतिहासकार, विद्वान, फिल्म निर्माता, पत्रकार और पूर्व नौकरशाह शामिल थे। सहेली महिला संसाधन केंद्र, गमना महिला समूह, बेबाक कलेक्टिव, अखिल भारतीय प्रगतिशील महिला संघ सहित प्रमुख समूह भी हस्ताक्षरकर्ताओं का हिस्सा थे।

बलात्कारियों व हत्यारों को रिहा करना शर्मनाक


इस सभी ने साझे बयान में कहा कि यह शर्म की बात है कि जिस दिन हमें अपनी आजादी का जश्न मनाना चाहिए और अपनी आजादी पर गर्व होना चाहिए, उस दिन सामूहिक बलात्कारियों और सामूहिक हत्यारों को रिहा किया गया। मालूम हो कि 2002 के गोधरा कांड में बिलकिस बानो के साथ हुए सामूहिक बलात्कार करने और उनके परिवार के सात लोगों की निर्मम हत्या करने वाले 11 दोषियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई थी।

यह भी पढ़ेंः दोषियों की रिहाई पर बोलीं बिलकिस बानो- न्याय का भरोसा हुआ खत्म

न्याय के भरोसे को तोड़ने वाला यह फैसला- बिलकिस


लेकिन 15 अगस्त को गुजरात सरकार की क्षमा नीति के तहत इन सभी को जेल से रिहा कर दिया गया। दोषियों की रिहाई के बाद बिलकिस बानो ने कहा था कि यह फैसला न्याय के भरोसे को तोड़ने वाला है। उनके पति ने दोषियों की रिहाई के बाद परिवार पर जान का खतरा होने की बात कही थी। इसके अलावा राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने भी इस फैसले को लेकर सरकार की आलोचना की थी।

पांच माह की गर्भवती बिलकिस के साथ हुआ था गैंगरेप


उल्लेखनीय हो कि 2002 के गुजरात दंगे के दौरान बिलकिस 20 साल की थी। कारसेवकों की ट्रेन को जलाने के बाद भड़की हिंसा में पांच माह की गर्भवती बिलकिस बानो के साथ गैंगरेप किया गया था। साथ ही उसकी तीन साल की मासूम बेटी सहित परिवार के सात लोगों की बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। इस मामले में जनवरी 2008 में, मुंबई की एक विशेष सीबीआई अदालत ने 20 में से 11 आरोपियों को उम्र कैद की सजा सुनाई थी। जिन्हें 15 अगस्त को रिहा कर दिया गया।

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

Nobel Prize 2022: स्वीडन के स्वांते पाबो को चिकित्सा के लिए मिला नोबेल प्राइजJammu-Kashmir News: उधमपुर में खाई में गिरी बस, स्कूली बच्चों समेत 65 घायल, 1 की मौत6 राज्यों की 7 विधानसभा सीटों पर 3 नवंबर को होंगे उपचुनाव, छह को आएंगे नतीजेयूएई में सोमवार 3 अक्टूबर से बदल रहे हैं इमिग्रेशन रूल, भारतीयों को ऐसे होगा फायदाDussehra Rally: राष्ट्रवादी ने ताकत लगाई तो..., शिवसेना की दशहरा रैली को लेकर रोहित पवार ने दिया बड़ा बयानMaharashtra Politics: एकनाथ खडसे की होगी ‘घर वापसी’? अमित शाह और देवेंद्र फडणवीस से जल्द करेंगे मुलाकातआई2यू2: सक्रिय हुआ अमरीका - भारत समेत चार देशों का 'पश्चिमी Quad' समूह, खाड़ी क्षेत्र पर करेगा फोकसपीएम नरेंद्र मोदी के हिमाचल दौरे को लेकर बोले केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर - 'हिमाचल की जनता उनका बेसब्री से इंतजार कर रही है'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.