scriptCoronavirus In China Army Sent For Covid 19 Testing Of 2.60 Crore People In Shanghai | चीन में बेकाबू हुआ कोरोना, 2.6 करोड़ लोगों की होगी जांच, बुलानी पड़ी सेना | Patrika News

चीन में बेकाबू हुआ कोरोना, 2.6 करोड़ लोगों की होगी जांच, बुलानी पड़ी सेना

कोरोना वायरस से जंग लगातार जारी है। एशिया और यूरोप के कई देशों में अब भी कोरोना के मामलों में तेजी से इजाफा देखने को मिल रहा है। सबसे ज्यादा बुरा हाल इन वक्त चीन का है। यहां रोजोना कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। ओमिक्रॉन के BA.2 वैरिएंट ने यहां तबाही मचा रखी है। खास बात यह है कि अब सेना की मदद ली जा रही है।

नई दिल्ली

Updated: April 04, 2022 12:13:09 pm

कोरोना वायरस का खतरा अब तक टला नहीं है। भारत में भले ही रोजाना कोविड-19 के मामलों में गिरावट देखने को मिल रही है, लेकिन अब भी यूरोप और एशिया के कई देशों में इसके नए केस तेजी से बढ़ रहे हैं। सबसे ज्यादा बुरा हाल चीन का है। तीन में कोरोना वायरस बेकाबू होता जा रहा है। यही वजह है कि यहां सरकार ने सेना की मदद ली है। चीन में लाखों लोग लॉकडाउन के कारण अपने घरों में कैद हो गए हैं। यहां दो साल में अब तक का सबसे बड़ा लॉकडाउन लगाया गया है। इंसानों के साथ-साथ जानवरों के भी बाहर निकलने पर पाबंदी लगा दी गई है। बीते 24 घंटे में यहां 8000 से ज्यादा केस मिले हैं। चीन ने सोमवार से जांच का बड़ा अभियान छेड़ दिया है। जांच के लिए सेना के जवानों और डॉक्टरों को बड़ी संख्या में मैदान में उतारा गया है।
Coronavirus In China Army Sent For Covid 19 Testing Of 2.60 Crore People In Shanghai
Coronavirus In China Army Sent For Covid 19 Testing Of 2.60 Crore People In Shanghai

चीन के स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक बीते 24 घंटे में ऐसे मामले भी सामने आए हैं जिनमें संक्रमण के लक्षण नहीं हैं। दोनों तरह के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। वहीं, उत्तर पूर्वी प्रांत जिलिन में रविवार कोरोना वायरस के कुल 4,455 नए मामले सामने आए, जो शनिवार को सामने आए मामलों से अधिक हैं।

यह भी पढ़ें

Omicron Variant से मुकाबले के लिए जरूरी कोरोना वैक्सीन का बूस्टर डोज, NIV की रिसर्च में बड़ा दावा



चीन में 2019 के अंत में वुहान में मिले मामलों के बाद ये आंकड़ा सबसे ज्यादा हैं। शंघाई में 2.6 करोड़ की आबादी दो चरणों में लॉकडाउन का सामना कर रही है।

965.jpg
चीन में बिगड़े हालात, PLA नें संभाला मोर्चा

- चीन में हालात इतने खराब हो चुके हैं कि प्रशासन को यहां पर सेना भेजने पड़ी है।
- शंघाई में PLA ने कुल 2,000 मेडिकल पर्सनल्स की तैनाती की है।
- अलग-अलग इलाकों में हजारों की संख्या में हेल्थवर्कर्स भी तैनात किए गए हैं।
- ये लोग घर-घर जाकर कोरोना टेस्टिंग कर रहे हैं। साथ ही लोगों को घर में ही रहने की हिदायत भी दी जा रही है।
- जियांग्सू, जेजियांग और बीजिंग समेत कई प्रांतों से भी डॉक्टरों व चिकित्साकर्मियों को शंघाई भेजा गया है
- इस तरह करीब 10 हजार से ज्यादा लोगों की टीम जांच अभियान में जुटी है।

ऐसे चल रहा कोरोना काबू करने का अभियान

शंघाई में कोराना की लहर ज्यादा तेज नहीं है, लेकिन चीन जिस ढंग से कोराना टेस्टिंग, ट्रैसिंग व क्वारंटाइन के कदम कर महामारी पर काबू पाता है, उस लिहाज से यह अहम है। चीन में सख्त क्वारंटाइन नियम हैं। इसके तहत सभी संक्रमित मरीजों और उनके संपर्क में आए लोगों को अन्य लोगों से अलग कर दिया जाता है।

पुडोंग में लाखों लोग लगातार घरों में कैद हैं। निवासियों से कहा गया है कि वे रोजाना कोविड-19 की जांच करें, घर में मास्क लगाने समेत एहतियाती उपाय करें और परिवार के सदस्यों के नजदीक जाने से बचें।

बता दें कि, वुहान में 76 दिन का लॉकडाउन लगाया था, लेकिन वहां लोगों को इसे लेकर ज्यादा शिकायतें नहीं थी। शंघाई में कई लोग इसकी शिकायतें कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें

कोरोना ने फिर बढ़ाई चिंता, WHO का दावा- ओमिक्रॉन BA.2 से 10 गुना ज्यादा संक्रामक नया XE वैरिएंट

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट से मंदिर-मस्जिद के सबूतों का नया अध्याय, एक्सक्लूसिव रिपोर्ट सिर्फ पत्रिका के पास, जानें क्या है इन सर्वे रिपोर्ट में...दिल्ली हाई कोर्ट से AAP सरकार को झटका, डोर स्टेप राशन डिलीवरी योजना पर लगाई रोकसुप्रीम कोर्ट का फैसला: रोड रेज केस में Navjot Singh Sidhu को एक साल जेल की सजा, जानें कांग्रेस नेता ने क्या दी प्रतिक्रियाGST पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, जीएसटी काउंसिल की सिफारिश मानने के लिए बाध्य नहीं सरकारेंIPL 2022 RCB vs GT live Updates: गुजरात ने बेंगलुरु को दिया जीत के लिए 169 रनों का लक्ष्य6 साल की बच्ची बनी AIIMS की सबसे कम उम्र की ऑर्गन डोनर; 5 लोगों को दिया नया जीवनGyanvapi Masjid-Shringar Gauri Case: सुप्रीम कोर्ट में 20 मई और वाराणसी सिविल कोर्ट में 23 मई को होगी सुनवाईपंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ BJP में शामिल, दिल्ली में जेपी नड्डा ने दिलाई पार्टी की सदस्यता
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.