scriptprivate doctors died corona in bihar, families will also get 50 lakh | बिहार: कोरोना से जान गंवाने वाले निजी डॉक्टरों के परिवारों को सरकार देगी 50 लाख | Patrika News

बिहार: कोरोना से जान गंवाने वाले निजी डॉक्टरों के परिवारों को सरकार देगी 50 लाख

अब बिहार सरकार ने कोरोना से जान गंवाने वाले निजी डॉक्टरों के परिजनों को 50 लाख देने का ऐलान किया है। बिहार मानवाधिकार आयोग ने इस संबंध में आदेश भी जारी कर दिया है। सरकार के इस फैसले को आईएमए बिहार की बड़ी जीत माना जा रहा है।

नई दिल्ली

Published: November 17, 2021 10:08:17 pm

नई दिल्ली। भारत करीब डेढ साल से कोरोना महामारी के कहर से जूझ रहा है। इस महामारी के चलते देश में अब तक कई लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें बड़ी संख्या में स्वास्थ्यकर्मी भी शामिल हैं, जिन्होंने कोरोना के दौरान अपनी जान की परवाह किए बगैर लोगों का इलाज किया। इसके चलते इन्हें कोरोना वॉरियर्स नाम भी दिया गया था। वहीं अब बिहार सरकार ने कोरोना से जान गंवाने वाले निजी डॉक्टरों के परिजनों को 50 लाख देने का ऐलान किया है।
private doctors died corona in bihar, families will also get 50 lakh
private doctors died corona in bihar, families will also get 50 lakh
निजी डॉक्टरों के परिवारों को 50 लाख
दरअसल, बिहार में सरकारी डॉक्टरों की तरह अब निजी डॉक्टरों के परिजनों को भी कोरोना से मौत पर 50 लाख रुपए की बीमा राशि दी जाएगी। यह धनराशि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज के तहत दी जाएगी। बिहार मानवाधिकार आयोग ने इस संबंध में आदेश भी जारी कर दिया है। सरकार के इस फैसले को आईएमए बिहार की बड़ी जीत माना जा रहा है।
प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज से मिलेगी मदद
बिहार मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष न्यायमूर्ति विनोद कुमार सिन्हा ने आदेश पारित किया है। आदेश में कहा गया है कि कोविड-19 में लगे कोरोना से मरने वाले निजी चिकित्सा संस्थानों के डॉक्टर और अन्य स्वास्थ्य कर्मियों को भी 50 लाख की बीमा राशि दी जाएगी। आदेश में यह भी बताया गया कि इस राशि का भुगतान प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज के अंतर्गत बीमा कम्पनी द्वारा किया जाएगा।
यह भी पढ़ें

इसरो ने खोजा ब्रहस्पति से भी बड़ा ग्रह, सौरमंडल के बाहर एक तारे की करता है परिक्रमा

बता दें कि आईएमए बिहार सरकारी डॉक्टरों की तरह प्राइवेट डॉक्टरों को भी 50 लाख दिलाने के लिए लड़ाई लड़ रहा था। आईएमए का कहना है कि बिहार में कोरोना महामारी के दौरान लोगों का इलाज करते हुए संक्रमित होने से करीब 80 निजी डॉक्टरों की मौत हुई है। वहीं इस फैसले के बाद आईएमए काफी खुश है। उनका कहना है कि बिहार मानवाधिकार आयोग ने कोविड से हुई डॉक्टरों की मौत के मामले को गंभीरता से लिया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

SC-ST को आरक्षण पर सुप्रीम कोर्ट का अहम फैसला, राज्य तय करें प्रमोशन का पैमानामहाराष्ट्रः सुप्रीम कोर्ट ने बीजेपी के 12 विधायकों का निलंबन असंवैधानिक बताते हुए रद्द कियाBrahMos Missiles: भारत से ब्रह्मोस मिसाइल खरीद रहा फिलीपींस, 37.5 करोड़ डॉलर की डील पर लगी मुहरData Privacy Day: सस्ता स्मार्टफोन इस्तेमाल करना पड़ सकता है महंगा, एक्सपर्ट ने बताई वजहNeoCov: ओमिक्रॉन के बाद सामने आया कोरोना का नया वैरिएंट 'नियोकोव' और भी खतरनाकसुभासपा ने जारी की तीन उम्मीदवारों की लिस्ट, राजभर का दावा- हमारे निशान पर सपा प्रत्याशी लड़ेगा चुनावएनसीसी रैली में बोले पीएम मोदी- महिलाओं को सेना में मिल रही बड़ी जिम्मेदारियांUP Election 2022: नफरत फैलाने के आरोप में सपा प्रत्याशी पर मामला दर्ज
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.