Noida: फंक्शन के लिए मिले रुपयों से 15 हजार लोगों को खिलाया जाएगा खाना

Highlights

  • नोएडा एम्पलाइन एसोसिएशन ने किया सरहनीय काम
  • नोएडा की स्थापना के 44 वर्ष पूरे होने पर हुआ हवन
  • रोज 85 से 90 हजार लोगों को दिया जा रहा भोजन

 

By: sharad asthana

Updated: 18 Apr 2020, 11:53 AM IST

नोएडा। हाईटेक नगरी नोएडा के स्थापना दिवस पर कोविड-19 महामारी के कारण प्राधिकरण की ओर से कोई समारोह नहीं हुआ। हालांकि, इस वर्ष समारोह के लिए मिले धन से नोएडा एम्पलाइज एसोसिएशन ने मील ऑन व्हील कार्यक्रम की शुरुआत की है। प्राधिकरण की सीईओ ऋतु माहेश्वरी ने शुक्रवार को इसका शुभारंभ किया। नोएडा की स्थापना के 44 वर्ष पूरे होने पर प्राधिकरण के मुख्य प्रशासनिक भवन में हवन कर पूरी दुनिया की इस वैश्विक महामारी से रक्षा करने की प्रार्थना की गई।

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन के चलते मायके नहीं जा पाने पर विवाहिता ने किया सुसाइड

कोरोना योद्धाओं को दी जाएगी प्रोत्साहन राशि

नोएडा प्राधिकरण के स्थापना दिवस पर हर साल उपहार स्वरूप प्राधिकरण के समस्त कर्मचारियों को धनराशि दी जाती है। इस वर्ष मिलने वाली राशि से एक अच्छी पहल की गई है। नोएडा एम्पलाइज एसोसिएशन के अध्यक्ष चौधरी राजकुमार सिंह ने बताया कि प्राधिकरण से मिले धन का आधा हिस्सा दिहाड़ी मजदूरों और जरूरतमंदों के भोजन की जरूरतों को पूरा करने पर खर्च किया जाएगा। इस बाबत सहमति पत्र मुख्य कार्यपालक अधिकारी को सौंप दिया गया है। उन्होंने बताया कि शेष आधी धनराशि विषम परिस्थितियों में भी अपनी सेवाएं दे रहे प्राधिकरण के कोरोना योद्धाओं को प्रोत्साहन स्वरूप दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: हॉटस्पॉट की निगरानी कर रहा ड्रोन अचानक लापता होने से मचा हड़कंप

अब एक लाख लोगों को खिलाएंगे भोजन

एसोसिएशन के अध्यक्ष चौधरी राजकुमार सिंह ने बताया कि लॉकडाउन में नोएडा प्राधिकरण के पांच कम्युनिटी किचन से प्रतिदिन 85 से 90 हजार लोगों को भोजन दिया जा रहा है। अब एम्पलाइज एसोसिएशन इसमें प्रतिदिन 15 हजार फूड पैकेट और देगी, जिससे रोज एक लाख लोगों को भोजन मिल सके और कोई भूखा न रहे। शुक्रवार को इस कार्य का शुभारंभ सीईओ ऋतु माहेश्वरी और अध्यक्ष चौधरी राजकुमार सिंह ने 15 हजार फूड पैकेट से भरे वाहनों को हरी झंडी दिखाकर किया।

sharad asthana
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned