फ्लाइट में MRP से ज्यादा नहीं बेचा जा सकता है पैकिंग का सामान, यहां करें शिकायत

Highlights

  • फ्लाइट में बेचे जाने वाले सामान को लेकर RTI से हुआ खुलासा
  • हाईकोर्ट के अधिवक्ता के आरटीआई में मिला जवाब
  • उपभोक्ता मंत्रालय से मिला जवाब

By: Nitin Sharma

Published: 05 Nov 2019, 03:07 PM IST

नोएडा। आप भी हवाई सफर करते हैं और फ्लाइट (Flight) में आप खाने पीने का (Packing) पैकिंग बंद सामान भी खरीदते होंगे, लेकिन अगर इस सामान के लिए आप से (MRP) एमआरपी से ज्यादा रुपये लिये जा रहे है, तो आप इसकी शिकायत तुरंत कर सकते है। इसका खुलासा हाल ही में अधिवक्ता रंजन तोमर द्वारा लगाई गई। (RTI) आरटीआई से मिले जवाब में हुआ है।

डीएम-एसएसपी ने धर्म गुरुओं के साथ की बैठक, सभी को दिए यह निर्देश- देखें वीडियो

photo6199757276160567768.jpg

आरटीआई से पैकिंग सामान की एमआरपी को लेकर हुआ यह खुलासा

नोएडा निवासी अधिवक्ता रंजन तोमर दिल्ली से अबू धाबी के लिए हवाई यात्रा पर गये थे। इस दौरान हवाई जहाज़ में उन्होंने एक बिस्कुट का पैकेट लिया। जो उन्हें एमआरपी से ऊपर मिला। इसी तरह (Cold Drink) कोल्ड ड्रिंक पर भी एमआरपी से तीन गुणा रुपये वसूले गये। उन्होंने बताया कि कोल्ड ड्रिंक पर एमआरपी भारतीय रुपए में लिखा हुई थी। जबकि बेचने का दाम एक अलग लिस्ट में डॉलर में था। उसके अनुसार भारतीय रुपये में भी तीन गुणा दाम थे। इस बात पर अधिवक्ता रंजन ने उपभोक्ता मंत्रालय भारत सरकार से (RTI) आरटीआई के माध्यम से जानकारी ली। इसमें पता लगा कि यह गलत है।

रात में दिल्ली पहुंचा युवक सुबह घर लौटते समय कटा चालान तो कहा- मैं नोएडा से हूं, मुझे नहीं था इसका पता

 

photo6199256427139278975.jpg

गलत तरीके से की जा रही एमआरपी से ज्यादा रुपयों की वसूली, तो यहां करें शिकायत

रंजन ने बताया कि आरटीआई के जवाब में मंत्रालय द्वारा बताया गया है कि लीगल मैट्रोलोजी एक्ट 2009 एवं संशोधित हुए रूल्स (2011 ) की धारा 18 के अनुसार पैक लिया हुई वस्तु उपभोक्ता को एमआरपी से ऊपर नहीं बेचीं जा सकती। इसके आलावा एक बात और साफ़ की गई ,सर्वोच्च न्यायालय के एफ़एचआरएआई बनाम भारत सरकार के केस में (2017 )में कोर्ट ने होटल एवं रेस्टोरेंट को एमआरपी से ज़्यादा पर पैक किया। पानी बेचने की इजाज़त ज़रूर दी गई है। इसके साथ बताया गया है कि अगर आप हवाई यात्रा के लिए दिल्ली से बैठ रहे हैं तो एमआरपी से ज्यादा रुपये वसूलने पर www.fcamin.nic.in सरकार की इस साइट पर शिकायत कर सकते हैं।

Show More
Nitin Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned