खुशखबरी: RTGS-NEFT पर अब नहीं लगेगा चार्ज, ATM से पैसा निकालना भी जल्द हो सकता है फ्री

-आरबीआई ने RTGS-NEFT द्वारा खातों में ट्रांसफर किए जाने वाले पैसे पर लगने वाले चार्ज को हटाने का फैसला किया है

-एटीएम से पैसे निकालने पर लगने वाले चार्ज को लेकर भी आरबीआई द्वारा अच्‍छे संकेत दिए गए हैं

-जनता के साथ ही बैंक कर्मियों ने भी इसे एक अच्छा कदम बताया है

By: Rahul Chauhan

Published: 07 Jun 2019, 03:42 PM IST

नोएडा। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (reserve bank of india) ने गुरुवार एक ऐसी घोषणा की जिससे नोएडा समेत देशभर के करोड़ों लोगों को फायदा होगा। वहीं जनता के साथ ही बैंक कर्मियों ने भी इसे एक अच्छा कदम बताया है। दरअसल, आरबीआई ने RTGS-NEFT द्वारा खातों में ट्रांसफर किए जाने वाले पैसे पर लगने वाले चार्ज को हटाने का फैसला किया है।

यह भी पढ़ें : घर में मंदिर इस दिशा में स्थापित करें, इन बातों का भी रखें विशेष ध्यान, बदल जाएगी किस्मत

demo

इसके अलावा एटीएम (atm) से पैसे निकालने पर लगने वाले चार्ज को लेकर भी आरबीआई द्वारा अच्‍छे संकेत दिए गए हैं। जानकारों का कहना है कि यदि आरबीआई (rbi) के संकेत हकीकत में बदलते हैं तो अगले दो महीनों में ATM से बिना किसी ट्रांजेक्‍शन चार्ज के पैसे निकालने की सुविधा हो सकेगी।

यह भी पढ़ें : लगातार दूसरे दिन पेट्रोल-डीजल के दामों में भारी कटौती, निचले स्तर पर डीजल का भाव

atm

सेक्टर- 135 स्थित फेडरल बैंक की मैनेजर शैलजा ने बताया कि एटीएम का उपयोग बढ़ने की वजह से बीते कुछ समय से हो रही एटीएम से जुड़ी फीस और चार्ज में बदलाव की मांग को सुलझाने के लिए आरबीआई द्वारा एक कमेटी बनाने का फैसला लिया गया है।

यह भी पढ़ें : मॉडल ऑफ द ईयर-2019 अवितेश चौधरी ने पहली बार खोले अपनी निजी जिंदगी के ये राज, देखें वीडियो-

pic

इसके साथ ही आरबीआई ने RTGS और neft T पर लगने वाले चार्ज को हटा दिया है। गौरतलब है कि तय सीमा के बाद बैंक एटीएम से पैसे निकालने पर एक चार्ज लगने लगता है। वहीं दूसरे बैंक के एटीएम से पैसे निकालने के लिए भी बैंक एटीएम इंटरचेंज फीस लेते हैं।

neft rtgs

क्या है RTGS और NEFT

रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट यानी RTGS और नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड्स ट्रांसफर यानी NEFT, दोनों ही ऑनलाइन पैसे भेजने का जरिया हैं। इन दोनों के जरिए अलग-अलग बैंक खातों में पैसे ट्रांसफर किए जा सकते हैं। ये आरबीआई द्वारा ही मैनेज किए जाते हैं। हालांकि इन दोनों में फर्क भी है। दरअसल, आरटीजीएस में फंड तुरंत ट्रांसफर हो जाता है। 30 मिनट के अंदर खाते में पैसे क्रेडिट हो जाता है। वहीं, एनईएफटी के तहत खाते में पैसा तुरंत ट्रांसफर नहीं हो पाता। इसमें घंटे के हिसाब से टाइम स्लॉट में काम होता है।

rbi reserve bank of india
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned