भाजपा ने किया प्रदेश उपाध्‍यक्षों व क्षेत्रीय अध्‍यक्षों का ऐलान, यहां देखें पूरी लिस्‍ट

पश्चिम के क्षेत्रीय अध्‍यक्ष की जिम्‍मेदारी अवनीश त्‍यागी और अवध के क्षेत्रीय अध्‍यक्ष की सुरेश तिवारी को दी गई है

By: sharad asthana

Updated: 10 Feb 2018, 09:36 AM IST

नोएडा। लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा ने अपने दो क्षेत्रीय अध्‍यक्ष और कई प्रदेश उपाध्‍यक्षों की घोषणा कर दी है। पार्टी की तरफ से पश्चिम के क्षेत्रीय अध्‍यक्ष की जिम्‍मेदारी अवनीश त्‍यागी और अवध के क्षेत्रीय अध्‍यक्ष की सुरेश तिवारी को दी गई है। इसके अलावा 15 प्रदेश उपाध्‍यक्षों की भी घोषणा की गई है, जिनमें से जाट समीकरणों को देखते हुए पूर्व मंत्री संजीव बालियान को भी उपाध्‍यक्ष का पद दिया गया है। सहारनपुर के जसवंत सैनी, मेरठ की कांता कर्दम और गौतमबुद्ध नगर के नवाब सिंह नागर को भी उपाध्‍यक्ष बनाया गया है। इनके अलावा भाजपा ने वाराणसी के शिवनाथ यादव, बहराइच के पदम सेन चौधरी, आगरा के पुरुषोत्‍तम खंडेलवाल, बलिया के दयाशंकर सिंह समेत 15 लोगों को उपाध्‍यक्ष पद दिया गया है। शुक्रवार देर रात भाजपा ने इनके नामों का ऐलान किया है।

Video- कमिश्‍नर ने सबके सामने जोड़े हाथ, जानिए क्‍यों

मेरठ में तैनात जवान भी फंसा था हनीट्रैप में, जानिए क्‍या थी कहानी

BJP

भूपेंद्र सिंह के बाद खाली हो गया था पद

दरअसल, चौधरी भूपेंद्र सिंह के मंत्री बनने के बाद पश्चिमी यूपी के क्षेत्रीय अध्‍यक्ष का पद खाली हो गया था। उनके विकल्‍प के तौर पर पार्टी ने कई लोगों पर विचार किया था। इनमें मेरठ से अश्विनी त्यागी और देवेंद्र सिंह का नाम क्षेत्रीय अध्‍यक्ष की रेस में आगे चल रहा था। देखा जाए तो पश्चिम क्षेत्र में करीब 18 जिले आते हैं। इसमें मेरठ, सहारनपुर और मुरादाबाद मंडल आते हैं। इसको लेकर कुछ दिन पहले गाजियाबाद में सुनील बंसल ने पदाधिकारियों का मन भी टटोला था। इस रेस में प्रदेश महामंत्री अशोक कटारिया का नाम चर्चा में रहा, लेकिन उनके मंत्री बनने के आसार से उनकी संभावना खत्‍म हो गई।

अक्षय कुमार पैडमैन तो उत्‍तर प्रदेश के इस जिले में रहती हैं पैडवूमेन

चॉकलेटी रंग के 10 रुपये के नए नोट को लेकर हुआ कुछ ऐसा कि दंग रह गई पुलिस

दलितों को साधने की कोशिश

उधर, उपाध्‍यक्ष बनाई गईं मेरठ की कांता कर्दम पिछले निकाय चुनाव में महापाैर पद की प्रत्‍याशी रह चुकी हैं। उन्‍हें बसपा की सुनीता वर्मा से शिकस्‍त मिली थी। वह काफी वरिष्‍ठ कार्यकर्ता हैं और काफी समय से पार्टी से जुड़ी हुई हैं। माना जा रहा है कि दलितों को साधने के लिए पार्टी ने उन्‍हें बड़ी जिम्‍मेदारी दी है। वहीं, उपाध्‍यक्ष बनाए गए जसवंत सैनी का कहना है कि पार्टी ने उन्‍हें जो जिम्‍मेदारी दी है, उसे वह पूरी इमानदारी से निभाएंगे।

देखें वीडियो- जिम ट्रेनर गोलीकांड में बड़ा खुलासा

BJP
sharad asthana
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned