कबड्डी महासंघ के पूर्व अध्यक्ष जनार्दन गहलोत का निधन

76 वर्षीय पूर्व अध्यक्ष जनार्दन सिंह गहलोत का बुधवार को बीमारी के चलते जयपुर में निधन हो गया। खेल प्रशासक, जो अपने जीवन के 80 के दशक में थे, अपने पीछे पत्नी और दो बेटों को छोड़ गए हैं

 

By: भूप सिंह

Published: 28 Apr 2021, 11:10 PM IST

 

नई दिल्ली। एमेच्योर कबड्डी फेडरेशन ऑफ इंडिया (एकेएफआई) के 76 वर्षीय पूर्व अध्यक्ष जनार्दन सिंह गहलोत का बुधवार को बीमारी के चलते जयपुर में निधन हो गया। खेल प्रशासक, जो अपने जीवन के 80 के दशक में थे, अपने पीछे पत्नी और दो बेटों को छोड़ गए हैं। गहलोत अंतर्राष्ट्रीय कबड्डी फेडरेशन के संस्थापक अध्यक्ष थे। वह 28 वर्षों तक एकेएफआई के अध्यक्ष भी रहे। लेकिन 2013 में एकेएफआई के आजीवन अध्यक्ष बनने के बाद, यह खेल विवादों में घिर गया था।

यह भी देखें :IPL 2021 Points Table: RR को 10 विकेट से हराकर नंबर-1 पर पहुंची कोहली की टीम RCB

2014 में शुरू की गई पेशेवर रन लीग से कबड्डी को फायदा हुआ, लेकिन महासंघ को अदालती मामलों से जूझना पड़ा। 2018 में, दिल्ली उच्च न्यायालय ने गहलोत को एकेएफआई के आजीवन अध्यक्ष के रूप में हटा दिया। प्रो-लीग ने व्यक्तिगत खिलाडिय़ों की प्रोफाइल बढ़ा दी थी, लेकिन भारत 1990 के बाद पहली बार (2018 जकार्ता) एशियाई खेलों में स्वर्ण नहीं जीत सका ।

यह भी देखें :कैंसिल हो सकता है वुमंस टी20 चैलेंज, बीसीसीआई के अधिकारी ने किया ऐलान

पुरुष टीम को कांस्य मिला जबकि महिला टीम को रजत मिला। भारतीय महिला टीम ने 2010 में एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता था। इसी साल कबड्डी को एशियाई खेलों में जगह मिली थी। जर्नादन गहलोत ने भारत के गांव-गांव खेले जाने वाली कबड्डी को कई देशों में पहुंचाने में भी अहम भूमिका निभाई। राजस्थान पुलिस में खेलों को बढ़ावे में भी उनका खास योगदान रहा। उनके निधन पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सहित राजनीतिक क्षेत्र के तमाम नेताओं ने शोक व्यक्त की हैं।

यह भी जानें -IPL 2021 Points Table

यह भी जानें -IPL 2021 Purple Cap Holders List

यह भी जानें -IPL 2021 Orange Cap Holders List

भूप सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned