Pakistan: विपक्ष ने इमरान सरकार के खिलाफ विरोध को बताया 'जिहाद’, कहा- पीछे हटना बड़ा पाप

HIGHLIGHTS

  • PDM Protest Against Imran Khan: 11 दलों के विपक्षी गठबंधन पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट ( PDM ) ने इमरान खान की सरकार के खिलाफ विरोध को 'जिहाद' बताया है।
  • PDM ने कहा है कि सरकार के खिलाफ विरोध से पीछे हटना सबसे बड़ा पाप होगा।

By: Anil Kumar

Updated: 04 Jan 2021, 09:05 PM IST

इस्लामाबाद। पाकिस्तान में सियासी घमासान ( Pakistan Politics ) तेज हो गया है और विपक्ष लगातार इमरान सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है। 11 दलों के विपक्षी गठबंधन पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट ( PDM ) ने इमरान खान की सरकार के खिलाफ विरोध को 'जिहाद' बताया है।

PDM ने कहा है कि सरकार ( Imran Khan Government ) के खिलाफ विरोध से पीछे हटना सबसे बड़ा पाप होगा। रविवार को बहावलपुर में आयोजित रैली में PDM के नेताओं ने ये बात ये कही है। इस रैली में PDM अध्यक्ष मौलाना फजलुर रहमान, पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज की उपाध्यक्ष मरियम नवाज, पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) नेता यूसुफ रजा गिलानी तथा अन्य नेताओं ने इमरान सरकार के खिलाफ जमकर निशाना साधा।

Pakistan: मरियम नवाज समेत PDM के कई नेताओं पर मुकदमा दर्ज, विपक्ष ने इमरान सरकार को दिया अल्टीमेटम

मरियम नवाज ने धमकी देते हुए कहा कि आम लोगों का अपार समर्थन मिल रहा है और यदि इन लोगों को इस्लामाबाद की ओर कूच करने को कहूं तो क्या होगा? यदि ऐसा हुआ तो सेना की कठपुतली प्रधानमंत्री (इमरान खान) को छिपने के लिए कोई जगह नहीं मिलेगी।

इमरान खान से इस्तीफे की मांग

आपको बता दें कि विपक्षी दलों ने प्रधानमंत्री इमरान खान से लगातार इस्तीफे की मांग कर रहे हैं। विपक्षी दलों ने कहा है कि इमरान खान को 31 मार्च तक इस्तीफा देने का अल्टीमेटम दिया गया है। यदि इसके बावजूद भी इस्तीफा नहीं देते हैं तो पीडीएम सदस्य दलों के नेतृत्व के परामर्श के बाद लंबे मार्च को तैयार किया जाएगा। इसके अलावा पीडीएम सांसदों के इस्तीफे सौंपने पर भी विचार किया जाएगा।

Pakistan: इमरान सरकार के खिलाफ विपक्ष की मोर्चाबंदी, जनवरी तक PDM करेगी 12 रैली

PDM नेताओं ने आरोप लगाया है कि इस्लामाबाद पर अवैध कब्जा है। PDM के कार्यकर्ता 19 जनवरी को इस्लामाबाद में ईसीपी कायार्लयों के बाहर धरने पर बैठेगा, ताकि वह पिछले छह वर्षों से लंबित PTI विदेशी फंडिंग मामले का फैसला कर सके।

31 जनवरी को होगी विशाल रैली

आपको बता दें कि पिछले साल सितंबर में 11 विपक्षी दलों ने मिलकर प्रधानमंत्री इमरान खान को सत्ता से बेदखल करने के लिए एक पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट गठबंधन बनाया था। इसके बाद से लगातार इमरान खान के खिलाफ आंदोलन किया जा रहा है। PDM ने कहा है कि 27 जनवरी को सियालकोट में बड़ी रैली होगी।

Pakistan: कोरोना नियमों को तोड़ने पर विपक्षी दलों के हजारों कार्यकर्ताओं पर मुकदमा दर्ज

यदि इसके बाद भी इमरान खान ने इस्तीफा नहीं दिया तो फिर 31 जनवरी को राजधानी इस्लामाबाद का घेराव करेंगे। PDM ने स्पष्ट कर दिया है कि जब तक इमरान खान प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा नहीं दे देते हैं, तब तक इस्लामाबाद में कार्यकर्ता डटे रहेंगे।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned