रीट: नकल गिरोह का पर्दाफाश, अध्यापक सहित 5 गिरफ्तार, मुख्य आरोपी अब भी फरार

फरवरी माह में हुई रीट परीक्षा में नकल करवाने के लिए पाली आने वाले गिरोह का पुलिस ने राजफाश कर दिया है।

By: santosh

Published: 24 May 2018, 10:56 AM IST

पाली। फरवरी माह में हुई रीट परीक्षा में नकल करवाने के लिए पाली आने वाले गिरोह का पुलिस ने राजफाश कर दिया है। पुलिस ने इस प्रकरण में जोधपुर के सालावास निवासी एक अध्यापक सहित पांच जनों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों से पूछताछ जारी है। प्रकरण में कई राज खुल सकते हैं। मुख्य आरोपी जालोर के चितलवाना का युवक फिलहाल फरार है। पुलिस का दावा है कि इस प्रकरण में और भी लोगों के शामिल होने का सामने आ रहा है, पुलिस इसकी तह तक जाने का प्रयास कर रही है। आरोपियों को गुरुवार को न्यायालय में पेश किया जाएगा।

 

तीन माह बाद खुलासा
पुलिस के अनुसार 11 फरवरी को प्रदेश में रीट परीक्षा का हुई थी। इस दौरान पाली में औद्योगिक थाना पुलिस सेंटपॉल स्कूल के पीछे एक फार्म हाउस के बाहर दो कारों कारों में सवार पांच युवक भागने लगे। इस दौरान सालावास निवासी पप्पूसिंह प्रजापत को पुलिस ने पकड़ा। उसकी कार में पुलिस को लेपटॉप, ब्लूटूथ, तीन मोबाइल सहित अन्य इलेक्ट्रोनिक आइटम मिले। उस समय पुलिस ने जोधपुर के सालावास निवासी पप्पू सिंह (30) पुत्र केसाराम प्रजापत को शांतिभंग में गिरफ्तार किया था।

 

आरोपी पप्पू सिंह कांकाणी के सरकारी स्कूल का अध्यापक भी है। जांच के बाद पुलिस ने पूरे गिरोह का राजफाश किया। इस प्रकरण में आरोपी पप्पू सिंह, चितलवाना जालोर निवासी राजूराम विश्नोई, किशनाराम उर्फ कृष्ण विश्नोई व अभ्यर्थी सुरेश व अशोक पटेल को गिरफ्तार किया। मुख्य आरोपी अभी फरार है। आरोपियों ने कबूला कि वे उस दिन नकल करवाने के लिए ही यहां आए थे। मामला आरपीएससी से जुड़ा होने के कारण पुलिस भी इस मामले काे लेकर ज्यादा कुछ कहने से बच रही है।

 

लू के साथ बरसे अंगारे, 6 जिलों में पारा 47 पार, सड़कों पर दमकल से पानी का छिड़काव

चुनावी साल में मय पर 'मंथली', आेवर रेट पर बिक्री, कहां जाएंगे 300 करोड़ रुपए?

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned