scriptUttarakhand Accident: Death of husband-wife, sister-in-law and brother | Uttarakhand Bus Accident: वीडियो कॉल पर हुई थी बात... और फिर मनहूस खबर मिली, पति-पत्नी, बहन-बहनोई और समधी-समधन की मौत | Patrika News

Uttarakhand Bus Accident: वीडियो कॉल पर हुई थी बात... और फिर मनहूस खबर मिली, पति-पत्नी, बहन-बहनोई और समधी-समधन की मौत

शाम 6 बजे वीडियो कॉलिंग कर पापा ने भगवान ऋषिकेश के लाइव दर्शन कराए, एक घंटे बाद टीवी पर चलने लगी मौत की खबर

पन्ना

Published: June 07, 2022 03:43:47 am

पन्ना. बस हादसे में पवई निवासी अवधेश पांडेय, पत्नी शकुंतला के अलावा बहन-बहनोई और समधी-समधन की मौत हुई है। अपनों को खोने के बाद बेटे पंकज और पत्नी का रो-रोकर बुरा हाल है। हादसे से चंद घंटे पहले ही पंकज ने माता-पिता और सास-ससुर से वीडियो कॉल पर बात की थी। पिता अवधेश ने भगवान ऋषिकेश के दर्शन कराए। कहा था कि बहुत बढिय़ा यात्रा है। आगे जाना था, इसलिए फिर कॉल करने की बात कहते हुए फोन रख दिया था।
अवधेश और उनकी पत्नी
अवधेश और उनकी पत्नी
ऐसा लगा कि दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है
अवधेश के छोटे भाई चतुरेश भी मीडिया से बात करते हुए रो पड़ते हैं। बताया कि शाम छह बजे ही तो बात हुई थी। सब अच्छे भले थे। एक घंटे बाद ही टीवी पर हादसे की खबर चलने लगी। चिंता हुई तो फोन किया, लेकिन नहीं उठ रहा था। सब परेशान थे। तभी किसी का फोन आया कि भैया-भाभी सहित सभी रिश्तेदार दुर्घटनाग्रस्त बस में ही थे। देर रात मौत की पुष्टि हुई तो परिवार पर दु:खों का पहाड़ टूट पड़ा। हम लोग उत्तराखंड जाने की तैयारी करने लगे, लेकिन अफसरों ने समझाइश दी कि आप लोग घर में सबको संभालिए। वहां की व्यवस्था प्रशासन स्तर से करा रहे हैं।
अ​वधेश के भाई, जिन्होंने पत्रिका को जानकारी दी
IMAGE CREDIT: patrika
एक परिवार के छह लोगों की मौत से पसरा मातम
हादसे में पंकज के पिता अवधेश, मां शकुंतला, ससुर बद्री प्रसाद, सास चंद्रकली, बुआ अनिल कुमारी और फूफा जागेश्वर प्रसाद गर्ग की मौत हुई है। अवधेश तहसील कार्यालय से सेवानिवृत्त कर्मचारी थे। जागेश्वर शिक्षक थे। एक ही परिवार से छह लोगों की मौत से पूरे परिवार में मातमी महौल है।
Death of husband-wife, sister-in-law and brother-in-law in uttarakhand bus accident
IMAGE CREDIT: patrika
गांव के इकलौते डॉक्टर को भी छीन लिया
हादसे ने बुद्धसिंह साटा गांव के इकलौते डॉक्टर को भी छीन लिया। ग्रामीणों के अनुसार राजाराम सिंह यहां के एकमात्र डॉक्टर थे। वे हर वक्त हम लोगों के साथ खड़े रहते थे, लेकिन भगवान को कुछ और ही मंजूर था। राजाराम के साथ उनकी पत्नी गीता सिंह और बहन जनक सिंह की भी मौत हो गई। राजाराम के निधन के बाद अब गांव में कोई डॉक्टर नहीं, जो लोगों को उपचार दे सके।
Uttarakhand bus accident
IMAGE CREDIT: patrika

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: महा विकास अघाड़ी सरकार को बड़ा झटका, शिंदे खेमे में शामिल होंगे उद्धव के 8वें मंत्रीRanji Trophy Final: मध्य प्रदेश ने रचा इतिहास, 41 बार की चैम्पियन मुंबई को 6 विकेट से हरा जीता पहला खिताबBypoll results 2022 LIVE: UP की आजमगढ़ सीट से निरहुआ की हुई जीत, दिल्ली में मिली जीत पर केजरीवाल गदगदअगरतला उपचुनाव में जीत के बाद कांग्रेस नेताओं पर हमला, राहुल गांधी बोले- BJP के गुड़ों को न्याय के कठघरे में खड़ा करना चाहिएSangrur By Election Result 2022: मजह 3 महीने में ही ढह गया भगवंत मान का किला, किन वजहों से मिली हार?सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद, फिर से सामने आया कनाडाई (पंजाबी) गिरोहMumbai News Live Updates: कलिना, सांताक्रूज में पार्टी कार्यकर्ताओं के कार्यक्रम में शामिल हुए आदित्य ठाकरेMaharashtra Political Crisis: केंद्र ने शिवसेना के बागी 15 विधायकों को दी Y प्लस कैटेगरी की सुरक्षा, शिंदे गुट ने डिप्टी स्पीकर के खिलाफ लिया ये फैसला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.