चंद्रबाबू नायडू की सुरक्षा में की गई कटौती, एयरपोर्ट पर आम लोगों की तरह हुई तलाशी

चंद्रबाबू नायडू की सुरक्षा में की गई कटौती, एयरपोर्ट पर आम लोगों की तरह हुई तलाशी

Dhiraj Kumar Sharma | Updated: 15 Jun 2019, 01:00:58 PM (IST) राजनीति

  • पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू की घटाई गई सुरक्षा
  • हवाई अड्डे पर ली गई आम लोगों की तरह तलाशी
  • टीडीपी नेता का आरोप अधिकारियों का रवैया अपमानजनक

नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश से बड़ी खबर सामने आई है। यहां पूर्व मुख्यमंत्री और टीडीपी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू की सुरक्षा घटा दी गई है। दरअसल प्रदेश के गन्नवरम हवाई अड्डे पर पूर्व सीएम चंद्रबाबू नायडू की तलाशी ली गई। पूर्व सीएम की यह तलाशी विमान में दाखिल होने से पहले आम जनता की तरह ही ली गई थी। एक सुरक्षा गार्ड को सुरक्षा प्रवेश द्वार पर नायडू की तलाशी लेते देखा गया। खास बात यह है कि नायडू को Z प्लस श्रेणी की सुविधा मिली हुई है।

ऐसे पहुंचे विमान तक

तेलुगू देशम पार्टी के प्रमुख चंद्रबाबू नायडू को विमान तक पहुंचने के लिए आम लोगों की तरह ही जांच प्रक्रिया से गुजरना पड़ा। इस प्रक्रिया के तहत ना तो उन्हें VIP गेट से प्रवेश दिया गया और ना ज्यादा सिक्योरिटी मुहैया करवाई गई।

आम लोगों की तरह ही जनरल रूट पर नायडू लाइन में खड़े रहे, जहां एक गार्ड ने उनकी तलाशी ली और एयरपोर्ट पर अंदर जाने दिया।

कैलाश विजयवर्गीय बोले- ममता बनर्जी के अहंकार के चलते बंगाल में हुई कई मौतें

naidu

बात यहीं खत्म नहीं हुई। इसके बाद जिस तरह आम आदमी शटल बस के जरिये विमान तक पहुंचते हैं उसी तरह चंद्रबाबू नायडू को भी बस के जरिये विमान तक जाना पड़ा। जबकि इससे पहले वह वीआईपी रूट के जरिये अलग गाड़ी से विमान में पहुंचते थे।

ऐसे मिली थी Z प्लस श्रेणी सुविधा

दरअसल वर्ष 2003 में तिरुपति के अलिपिरि इलाके में कुछ माओवादियों ने चंद्रबाबू नायडू पर जानलेवा हमला कर दिया था। इस हमले में वो बाल-बाल बचे थे। इसके घटना के तुरंत बाद नायडू को Z प्लस श्रेणी की सुविधा मुहैया करवाई गई थी।

आपको बता दें कि Z प्लस श्रेणी की सुविधा के तहत चंद्रबाबू नायडू के साथ 24 घंटे 23 सुरक्षाकर्मी और एस्कॉर्ट की गाड़ियां रहती हैं। बावजूद इसके उन्हें एयरपोर्ट पर आम नागरिक की तरह लाइन में लगकर विमान तक जाना पड़ा।

टीडीपी ने दी तीखी प्रतिक्रिया

इस पूरे घटनाक्रम के बाद टीडीपी ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। टीडीपी का आरोप है कि ये सब कुछ राजनीतिक साजिश के तहत किया गया है।

बीजेपी और वाईएसआर कांग्रेस पार्टी बदले की राजनीति कर रही है। टीडीपी का कहना है कि नायडू देश की रजानीति में एक सम्मानित स्थान रखते हैं और हम इस व्यवहार की निंदा करते हैं।

अपमानजनक रवैया

टीडीपी नेता चिन्ना राजप्पा के मुताबिक एयरपोर्ट पर अधिकारियों का रवैया अपमानजनक तो था ही साथ ही उन्होंने नायडू की सुरक्षा के साथ समझौता भी किया।

जब नायडू को जेड प्लस सुविधा प्राप्त है तो क्यों उन्हें आम लोगों की तरह लाइन में लगाकर और बस में बैठा कर ले जाया गया। राजप्पा ने केंद्र और राज्य दोनों सरकारों से चंद्र बाबू नायडू को उचित सुरक्षा दिए जाने की मांग की है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned