Home Minister Amit Shah बोले, Corona के खिलाफ हमारी लड़ाई की दुनिया बनी गवाह

  • Home Minister Amit Shah ने Central armed police द्वारा चलाए जा रहे 'अखिल भारतीय वृक्षारोपण अभियान' के अंतर्गत गुरुग्राम में वृक्षारोपण किया
  • Amit Shah ने कहा कि कोरोना के विरुद्ध लड़ाई में हमारे सुरक्षा बलों ने अपनी निष्ठा और समर्पण से पूरी दुनिया में एक मिसाल कायम की

By: Mohit sharma

Updated: 12 Jul 2020, 07:11 PM IST

नई दिल्ली। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ( Union home minister amit shah ) ने रविवार को केंद्रीय सशस्त्र पुलिस ( Central Armed Police Force ) बलों द्वारा चलाए जा रहे 'अखिल भारतीय वृक्षारोपण अभियान' ( All India Plantation Campaign ) के अंतर्गत गुरुग्राम ( Gurugram ) में वृक्षारोपण ( Tree Planting ) किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि वृक्ष हमारे पर्यावरण ( Environment ) की बहुत मूल्यवान संपदा है। यह ना सिर्फ सभी जीवों के लिए ऑक्सीजन देते हैं बल्कि मनुष्यों के लिए आवश्यक संसाधनों की पूर्ति भी करते हैं। शाह ( Amit Shah ) ने कहा कि मैं हमारे सशस्त्र बलों के वीर जवानों का अभिनंदन करता हूं और उन्हें बधाई देता हूँ जो देश की रक्षा के साथ-साथ पर्यावरण की रक्षा करने वाले इस विशाल अभियान के माध्यम से देशभर में 1 करोड़ से अधिक लंबी आयु वाले वृक्षों के पौधे लगा रहे हैं।

Vikas Dubey Encounter: कानपुर गोलीकांड की अब SIT करेगी जांच, 31 जुलाई तक सौंपेगी रिपोर्ट

 

देश में कोरोना संक्रमण की स्थिति पर बोलते ही अमित शाह ने कहा कि कोरोना के विरुद्ध लड़ाई में हमारे सुरक्षा बलों ने अपनी निष्ठा और समर्पण से पूरी दुनिया में एक मिसाल कायम की है। इस लड़ाई में सशस्त्र बलों के 31 योद्धाओं के बलिदान को नमन करता हूं। उन्होंने कहा कि मानव जाति की रक्षा के लिए उनका बलिदान कोरोना लड़ाई के इतिहास में स्वर्णिम अक्षरों से लिखा जाएगा। गृह मंत्री ने कहा कि हमारे देश की आबादी और स्वास्थ्य सेवाओं को देखते हुए लोगों के मन में आशंकाएं थीं कि कोरोना हमारे लिए काफी घातक साबित होगा, लेकिन कोविड के खिलाफ इस लड़ाई को सरकार के साथ-साथ 120 करोड़ की जनता ने भी लड़ा है।

Sonia Gandhi ने 26 साल के Hardik Patel के हाथ सौंपा Gujarat Congress का भविष्य

देश भर में Coronavirus मामलों पर PM Modi ने की समीक्षा, Amit Shah और Harsh Vardhan रहे मौजूद

अमित शाह ने आगे कहा कि मैं सभी जवानों से अपील करता हूँ कि यह वृक्ष जब तक बड़े न हो जाए तब तक हमें उनकी देखभाल करनी है, उसके बाद यही वृक्ष पीढ़ियों तक हमारा ध्यान रखेंगे। उन्होंने कहा कि हमारे ऋषि-मुनियों व पूर्वजों ने हमें सदैव प्रकृति का आदर करने की शिक्षा दी है, हमें प्रकृति का दोहन करना चाहिए, शोषण नहीं इस संतुलन को भौतिकवादी विचारधारा ने तोड़ा इसीलिए आज जलवायु परिवर्तन व ग्लोबल वार्मिंग जैसे खतरे सामने खड़े हैं, इस संकट से पर्यावरण को वृक्ष ही बचा सकते हैं।

 

Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned