तमिलनाडुः डिप्टी सीएम ओ पन्नीरसेल्वम के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति मामले में जांच शुरू

तमिलनाडुः डिप्टी सीएम ओ पन्नीरसेल्वम के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति मामले में जांच शुरू

Pritesh Gupta | Publish: Jul, 25 2018 06:11:54 PM (IST) राजनीति

हाईकोर्ट ने डीवीएसी से पूछा था कि शिकायत मिलने के तीन महीने बाद भी जांच शुरू क्यों नहीं की हुई? इसके साथ ही हाईकोर्ट ने पूछा कि क्यों न मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी जाए?

चेन्नई। तमिलनाडु की सियासत में लंबे अरसे से घमासान मचा हुआ है। अब मौजूदा उप-मुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेल्वम भी कानून के शिकंजे में उलझ सकते हैं। उनके खिलाफ आय से अधिक संपत्ति के मामले में जांच शुरू हो गई है। उनकी ही सरकार ने मद्रास हाईकोर्ट को जानकारी दी है कि सतर्कता एवं भ्रष्टाचार निरोधक निदेशालय (डीवीएसी) ने पन्नीरसेल्वम के खिलाफ जांच शुरू हो चुकी है। यह जानकारी राज्य सरकार के अटॉर्नी जनरल की तरफ से एक एनजीओ और डीएमके की याचिका पर दिए गए जवाब में सामने आई है। इससे राज्य की राजनीति में होने वाले घमासान के संकेत भी मिल गए हैं।

'क्यों न जांच सीबीआई को सौंप दी जाए?'

गौरतलब है कि पिछली सुनवाई के दौरान मद्रास हाईकोर्ट ने डीवीएसी से पूछा था कि उप-मुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम के खिलाफ शिकायत मिलने के तीन महीने बाद भी जांच शुरू क्यों नहीं की हुई? इसके साथ ही हाईकोर्ट ने पूछा कि क्यों न मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी जाए? कोर्ट ने डीवीएसी से जल्द से जल्द जांच पूरी कर रिपोर्ट सौंपने को कहा है।

2017 में 34.5 फीसदी कम हुआ स्विस बैंक में भारतीयों का धनः पीयूष गोयल

100 करोड़ से भी ज्यादा संपत्ति का दावा

डीएमके सांसद आरएस भारती की तरफ से लगाई गई याचिका के मुताबिक हाल ही के दिनों में पन्नीरसेल्वम की संपत्तियां बेहद तेजी से बढ़ी हैं, जिनकी कीमत 100 करो़ड़ रुपए से भी ज्यादा है। तमिलनाडु की दिग्गज नेता रहीं जयललिता के निधन के बाद एआईएडीएमके में अंदरूनी घमासान मचा था। बाद में जयललिता की करीबी रहीं वीके शशिकला को भी आय से अधिक संपत्ति के मामले में ही जेल जाना पड़ा था। इसके बाद पार्टी में पन्नीरसेल्वम और पलानीस्वामी के गुटों में संघर्ष तेज हो गया। हालांकि बाद में सुलह हुई और पलानीस्वामी मुख्यमंत्री और पन्नीरसेल्वम उप-मुख्यमंत्री बने।

मॉब लिंचिंग मामले में महबूबा मुफ्ती बोलीं, 'ऐसे तो किसी दिन रेप भी जायज ठहराया जाएगा'

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned