रणदीप सुरजेवाला का कांग्रेस कोर ग्रुप की बैठक के बाद बड़ा बयान, राहुल गांधी थे, हैं और रहेंगे पार्टी के अध्यक्ष

रणदीप सुरजेवाला का कांग्रेस कोर ग्रुप की बैठक के बाद बड़ा बयान, राहुल गांधी थे, हैं और रहेंगे पार्टी के अध्यक्ष

Dhiraj Kumar Sharma | Updated: 12 Jun 2019, 06:46:38 PM (IST) राजनीति

  • कांग्रेस कोर ग्रुप बैठक के सुरजेवाला का बड़ा बयान
  • राहुल गांधी पर कांग्रेस को भरोसा, वही रहेगा पार्टी अध्यक्ष
  • कोर ग्रुप की बैठक में सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी नहीं थीं मौजूद

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद से ही कांग्रेस अध्यक्ष पद छोड़ने पर अड़े राहुल गांधी फिलहाल कांग्रेस के अध्यक्ष रहेंगे। ये दावा है कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला का। जी हां सुरजेवाला ने कांग्रेस की कोर ग्रुप की बैठक के बाद जो दावा किया है वो ये कि राहुल गांधी ही पार्टी के अध्यक्ष थे, हैं और रहेंगे। हालांकि राजधानी दिल्ली में हुई कांग्रेस को कोर ग्रुप बैठक में गांधी परिवार से कोई भी शख्स मौजूद नहीं था। सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा जहां रायबरेली दौरे पर हैं। वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस बैठक से दूरी बनाए रखी। यही वजह रही कि बैठक कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एके एंटनी की अध्यक्षता में संपन्न हुई।


दरअसल कांग्रेस कोर ग्रुप बैठक की अध्यक्षता को लेकर भी राहुल गांधी के तैयार ना होने की वजह से राजनीतिक गलियारों में एक बार फिर चर्चा तेज हो गई कि वे पार्टी के अध्यक्ष पद पर बिल्कुल नहीं रहना चाहते। लेकिन पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने इन सभी अटकलों पर एक बार फिर विराम लगा दिया और कहा कि राहुल गांधी पर पार्टी ने दोबारा भरोसा जताया है। यही नहीं उन्होंने ये भी कहा राहुल गांधी ही पार्टी के अब तक अध्यक्ष थे, हैं और आगे भी रहेंगे।

पढेंः भारत ने ही रखा चक्रवात 'वायु' का नाम, ऐसे दिए जाते है तूफानों के नाम

rahul gandhi

संसद सत्र से पहले चर्चा
कांग्रेस ने अपने कोर ग्रुप की बैठक ऐसे समय पर की है जब संसद का सत्र करीब है। 17 जून को होने वाले संसद सत्र से पहले कांग्रेस ने अपने एजेंडे को ध्यान में रखते हुए इस बैठक का आयोजन किया। बैठक में पार्टी के दिग्गज नेताओं ने शिरकत की और आगे की रणनीति पर चर्चा की।

तीन राज्यों के चुनावों पर रणनीति
कांग्रेस कोर ग्रुप की बैठक में जिन मुद्दों पर चर्चा हुई उसमें आागामी तीन राज्यों के विधानसभा चुनाव प्रमुख रूप से शामिल रहा। हरियाणा, महाराष्ट्र और झारखंड के विधानसभा चुनाव को लेकर बैठक में मंथन हुआ। वहीं संसद सत्र में किन मुद्दों को लेकर सरकार को घेरा जाए इस पर भी चर्चा हुई। दरअसल मोदी सरकार के कामकाज संभालते ही जीडीपी और रोजगार निम्न स्तर पर पहुंच गया। ऐसे में कांग्रेस के एजेंडे में ये शामिल रहेगा कि कैसे इन मुद्दों पर सरकार को घेरे।

 

congress

बजट को लेकर भी कांग्रेस की तैयारी
मोदी 2.0 सरकार के आगामी बजट जो 5 जुलाई को पेश होना है इसे लेकर भी संसद के सत्र में विपक्ष की आवाज गूंज सकती है। बजट में आम लोगों से जुड़े किन मुद्दों पर सरकार को घेरा जाए, इस पर भी कांग्रेस कोर ग्रुप की बैठक में चर्चा की गई।

 

sheela dixit

दिल्ली में बेहतर स्थिति से उत्साह
लोकसभा चुनाव में भले ही कांग्रेस को उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन न कर पाने का मलाल है। लेकिन राजधानी दिल्ली में तीन नंबर से दो नंबर पर आना पार्टी के लिए कुछ सुकून देने वाला जरूर है। वो भी ऐसे समय पर जब विधानसभा चुनाव मुहाने पर हैं। यही वजह है कि कोर ग्रुप की बैठक में दिल्ली में सुधरी पार्टी की स्थिति पर भी चर्चा हुई और इसमें भी पार्टी के विधासनभा चुनाव में रणनीति को लेकर विचार विमर्श किया गया।

पढ़ेंः पाकिस्तान और अफगानिस्तान से आ रही बड़ी आफत, दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तर भारत पर मंडरा रहा खतरा

इन दिग्गज नेताओं की मौजूदी रही खास
कांग्रेस कोर ग्रुप की बैठक में एके एंटनी ने जहां अध्यक्षता की। वहीं जयराम रमेश, गुलाम नबी आजाद, मल्लिकार्जुन खड़गे जैसे दिग्गज नेता मौजूद रहे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned