भाजपा से ज्यादा कांग्रेस नेताओं ने बेचा धान, वह भी फर्जी, सरकार करे 100-100 नेताओं की सूची जारी

- पूर्व कृषि मंत्री एवं भाजपा विधायक बृजमोहन का सरकार पर निशाना
- बीजेपी का आरोप - भाजपा से ज्यादा कांग्रेस नेताओं ने बेचा धान, वह भी फर्जी बेचा

By: Ashish Gupta

Updated: 20 Jan 2021, 06:51 PM IST

रायपुर. भाजपा धान खरीदी (Paddy Procurement in Chhattisgarh) के मुद्दे पर सरकार पर हमलावर है। बुधवार को भाजपा विधायक एवं पूर्व कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने मोर्चा खोला। उन्होंने प्रेस कांफ्रेंस में पत्रकारों के सवाल के जवाब में कहा कि भाजपा से ज्यादा कांग्रेस नेताओं ने धान बेचा है। वह भी फर्जी बेचा। सरकार को चाहिए कि वह दोनों ही पार्टियों के 100-100 नेताओं की सूची जारी करे। यह बयान इसलिए आया है, क्योंकि बीते दिनों कांग्रेस की तरफ से कहा गया था कि भाजपा नेताओं ने अपना धान बेच लिया, अब फुर्सत मिली है तो किसानों के नाम पर राजनीतिक स्टंटबाजी करने में लगे हुए हैं।

ट्वीटर पर सियासत: BJP बोली- रमन के सरकार विरोधी ट्वीट को कांग्रेस ने किया लाइक, कांग्रेस ने फेक बताया

इस दौरान बृजमोहन ने 22 जनवरी को किसानों के मुद्दे पर होने वाले आंदोलन को लेकर जानकारी दी। उन्होंने कहा कि भाजपा किसानों के हित में सदन से सड़क तक लड़ रही है। 13 जनवरी को हुए आंदोलन के बाद भी सरकार ने समस्याओं का समाधान नहीं किया।इसलिए 22 जनवरी को प्रदेश प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी और पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की मौजूदगी में बूढ़ातालाब में धरना देंगे। कलेक्टोरेट का घेराव करने बढ़ेंगे, रोका जाएगा तो गिरफ्तारी देंगे।

बृजमोहन ने कहा कि भाजपा हो या कांग्रेस के नेता दोनों ही प्रदेश के नागरिक हैं। धान जहां बेचना है, वहां बेंचे। पूर्व कृषि मंत्री से पूछा गया कि कांग्रेस कह रही है कि 85 प्रतिशत धान की खरीदी हो चुकी है, शेष भी समय पर हो जाएगी। इस पर उन्होंने कहा कि हम विपक्ष में हैं। हमारा काम जनता की आवाज उठाना है। आज भी किसानों का धान नहीं खरीदा जा रहा है। फड़ों में जगह नहीं है। बारदाने नहीं मिल रहे। हमारी मांग है कि सरकार धान खरीदी की तारीख एक महीने बढ़ाए। सरकार की हठधर्मिता से आज किसानों को नुकसान हो रहा है।

कोरोना टीके को लेकर हिचकिचा रहे स्वास्थ्यकर्मियों से स्वास्थ्य मंत्री की अपील, आप हाई रिस्क में करते हैं काम इसलिए..

1300 करोड़ का धान सड़ गया-
बृजमोहन ने कहा कि मिलिंग नहीं करवाने की वजह से 1300 करोड़ रुपए का धान सड़ गया। यह जनता के पैसों से खरीदा गया धान था। जो भी इस प्रकरण में दोषी हों, उन अधिकारियों पर सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए। सरकार को अपराध दर्ज करवाना चाहिए।

रोको, टोको और ठोको-
पूर्व मंत्री बृजमोहन ने कहा कि राजधानी क्या पूरे प्रदेश में अपराध बढ़ा है। मंत्रियों के गृह क्षेत्रों में हत्या हुई, हत्यारे नहीं मिले। राजधानी में अज्ञात लाशे मिल रही हैं। चाकू बाजी की इतनी घटनाएं इससे पहले कभी नहीं हुईं। रोको, टोको और ठोको पुलिस का काम होना चाहिए, मगर आज पुलिस को राजनीतिक कामों में लगा दिया गया है। इसलिए अपराध बढ़ते जा रहे हैं। मैं रात को निकलता हूं तो पेट्रोलिंग तो दिखती ही नहीं है।

Show More
Ashish Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned