script छत्तीसगढ़: उपराष्ट्रपति धनखड़ ने कैंसर रोधी संजीवनी धान की सराहना की, कृषि के विकास में कृषि वैज्ञानिकों की होगी महत्वपूर्ण भूमिका | Vice President Dhankhar praised anti-cancer Sanjivani Paddy | Patrika News

छत्तीसगढ़: उपराष्ट्रपति धनखड़ ने कैंसर रोधी संजीवनी धान की सराहना की, कृषि के विकास में कृषि वैज्ञानिकों की होगी महत्वपूर्ण भूमिका

locationरायपुरPublished: Jan 20, 2024 09:27:41 pm

Submitted by:

ashutosh kumar

  • इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय का 38वां स्थापना दिवस समारोह

छत्तीसगढ़
छत्तीसगढ़

उपराष्ट्रपति ने कहा- हमारे किसान खुशहाल होंगे तो देश खुशहाल होगा, वर्ष 2047 तक विकसित भारत का निर्माण केवल सपना नहीं हमारा लक्ष्य है

रायपुर. उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने शनिवार को इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के 38वें स्थापना दिवस को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमारे किसान खुशहाल होंगे तो देश खुशहाल होगा। किसानों के लिए खेती-किसानी आजीविका का साधन ही नहीं अपितु देश की इकॉनामी को गति प्रदान करने, पर्यावरण संरक्षण और सामाजिक विकास का आधार है। इस मौके पर उप राष्ट्रपति धनखड़ ने इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय द्वारा विकसित की गई धान की इम्यूनोबूस्टर एवं कैंसर रोधी नवीन किस्म 'संजीवनी' से निर्मित तीन उत्पादों संजीवनी इंस्टैन्ट, संजीवनी मधु कल्क तथा संजीवनी राइस बार का लोकार्पण किया।
उन्होंने विश्वविद्यालय द्वारा प्रकाशित कृषि दर्शिका 2024 का विमोचन भी किया। उप राष्ट्रपति ने विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों और वैज्ञानिकों का आव्हान करते हुए कहा कि आज भारत विश्व की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। इसमें किसानों का योगदान अतुलनीय है। कृषि के क्षेत्र में विद्यार्थियों और वैज्ञानिकों के योगदान से इसमें उत्तरोत्तर वृद्धि होगी। 2047 तक विकसित भारत का निर्माण केवल सपना नहीं हमारा लक्ष्य है। इसे हासिल करने में कृषि के विकास में कृषि वैज्ञानिकों की बहुत महत्वपूर्ण भूमिका होगी। कार्यक्रम में प्रदेश के राज्यपाल विश्वभूषण हरिचंदन, मुख्यमंत्री विष्णु देव साय, कृषि मंत्री रामविचार नेताम, कुलपति डॉ. गिरीश चंदेल समेत अन्य लोग मौजूद रहे।

ट्रेंडिंग वीडियो