आजम खान के जेल जाते ही सपाईयों ने थामा कांग्रेस का हाथ, बेटे अब्दुल्ला की सीट पर देंगे नवाब का साथ

Highlights:

-स्वार टांडा उपचुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे नवाब

-नूर महल जाकर सपाई कांग्रेस में हुए शामिल

-अबदुल्ला की विधायकी कोर्ट ने की थी रद्द

By: Rahul Chauhan

Updated: 01 Aug 2020, 11:41 AM IST

रामपुर। यूपी में सत्ता परिवर्तन के बाद सपा के दिग्गज नेता और रामपुर सांसद आजम खान पर शिकंजा कसता जा रहा है। यही कारण है कि वह अपने परिवार सहित जेल में बंद हैं। इस बीच उनके करीबी राजनेता खुद को बचाने के लिये सपा छोड़ नूर महल पहुंचे और सपा छोड़ भाजपा व कांग्रेस में शामिल हो गए। इससे कांग्रेस की पूर्व सांसद रही बेगम नूर बानो के बेटे काजिम अली खान उर्फ नवेद मियां काफी गदगद हैं और अब वह स्वार टांडा सीट से उपचुनाव लड़ने को लेकर पूरी तैयारी में जुट गए हैं।

यह भी पढें: अयोध्या में भूमिपूजन के अवसर पर हिंदू महासभा मनाएगी होली और दिवाली

दरअसल, सांसद आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम स्वार टांडा विधानसभा से विधायक थे। उन्हें कोर्ट ने 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया है। ऐसी स्थिति में इस पर उपचुनाव होना है। जिसको लेकर स्वार टांडा के पूर्व विधायक काजिम अली खान अपनी खोई हुई सीट पर काबिज होने के लिए तैयारियां कर रहे हैं। तो वहीं अब बहुत सारे सपाईयों ने कांग्रेस का हाथ थामा है।

यह भी पढ़ें: राष्ट्रपति ने बावर्ची के बेटे को ईदी के रूप में दी रेसिंग साइकिल, अब अपने सपनों को साकार कर सकेगा रियाज

काजिम अली खान उर्फ नवेद मियां ने बताया कि अब्दुल्ला का चुनाव लड़ने से अयोग्य घोषित होना तय है। अब्दुल्ला ने फर्जी जन्म प्रमाण पत्र और अन्य फर्जी दस्तावेज़ों के आधार पर चुनाव लड़ा था। हाईकोर्ट ने अब्दुल्ला की उम्र के कागजात झूठे पाए। इसलिए उसका निर्वाचन शून्य घोषित किया है। इस मामले में अब्दुल्ला अपने माता-पिता समेत जेल में है। इस अपराध के लिए आरोपियों को सजा जरूर मिलेगी।

Congress
Show More
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned