scriptRatlam Collector reprimanded, DEO's salary stopped | #Ratlam कलेक्टर ने लगाई फटकार, डीईओ का रोका वेतन | Patrika News

#Ratlam कलेक्टर ने लगाई फटकार, डीईओ का रोका वेतन

locationरतलामPublished: Feb 12, 2024 10:40:47 pm

Submitted by:

Kamal Singh

मनमर्जी की दुकान से निजी स्कूलों के बच्चों को सामग्री दिलवाने पर कड़ी कार्रवाई के निर्देश, पैनल्टी वसूली पर भी कलेक्टर सख्त

#Ratlam कलेक्टर ने लगाई फटकार, डीईओ का रोका वेतन
#Ratlam कलेक्टर ने लगाई फटकार, डीईओ का रोका वेतन
रतलाम. कलेक्टोरेट सभाकक्ष में सोमवार की शाम को हुई समय सीमा की समीक्षा बैठक में कलेक्टर ने अलग ही तेवर दिखाए। समय-समय पर दिए गए निर्देशों व आदेशों का पालन नहीं करने पर कलेक्टर ने डीईओ केसी शर्मा का एक माह का वेतन रोकने। एक अन्य मामले में तीन दिन की सेलेरी राजसात करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही जावरा के पॉलीटेक्नीक कॉलेज के प्राचार्य और एक अन्य स्कूल के प्राचार्य का भी एक दिन का वेतन रोकने के निर्देश दिए। यही नहीं वन विभाग और लोनिवि के बीच जमीन आवंटन पर समन्वय नहीं होने पर भी नाराजगी जताते हुए तय समय में इस कार्य को पूरा करने को कहा। इसके बाद दोनों ही विभागीय अधिकारियों पर कार्रवाई करने को कहा।

कलेक्टर ने कहा कि प्राइवेट स्कूलों में विद्यार्थियों से किसी दुकान विशेष से शैक्षणिक सामग्री खरीदने के लिए कोई भी स्कूल संचालक दबाव बनाता है तो उस पर कड़ी कार्रवाई की जाए। इस आदेश का पूर्णत: पालन सभी एसडीएम तथा जिला शिक्षा विभाग करवाएगा। इसी तरह प्राइवेट स्कूलों में फीस की एक निश्चित सीमा निर्धारित रहेगी। नियमों के तहत ही प्राइवेट स्कूल एक सीमा तक फीस तथा पैनल्टी वसूल कर सकेंगे।

नगर निगम पर भी नाराज हुए
बैठक में नगर निगम के कार्यों की समीक्षा के दौरान कलेक्टर लाक्षाकार ने विभिन्न कार्यों की जांच नगर निगम को विगत दिनों सौंपी जाने तथा जांच कार्य पूर्ण नहीं करने पर सख्त नाराजगी व्यक्त करते हुए अन्य अधिकारियों को जांच कार्य करने के निर्देश दिए।


सीएम हेल्पलाइन में भी पिछड़े
मुख्यमंत्री हेल्पलाइन में शिकायतों के निराकरण में रुचि नहीं लेने पर कलेक्टर ने कहा कि निगम के संबंध में नगरीय विकास विभाग को पत्र लिखा जाएगा कि निगम अधिकारी उदासीन हैं। इसके अलावा महिला बाल विकास विभाग की इस मामले में लापरवाही पर भी सख्त नाराजगी जताई। विभाग के पास 330 लाडली बहना संबंधी शिकायतें लंबित है। बताया गया कि विभाग ने मात्र 10 शिकायतों का निराकरण विगत 15 दिवसों में किया है।
पीओ डूडा करेंगे समन्वय
मुख्यमंत्री हेल्पलाइन में जिले के नगर पालिका अधिकारियों के अपेक्षित कार्य नहीं करने पर कलेक्टर ने नाराजगी व्यक्त करते हुए शहरी विकास अभिकरण अधिकारी अरुण पाठक को निर्देशित किया कि वह अधिकारियों की बैठक लेकर मुख्यमंत्री हेल्पलाइन में लंबित प्रकरणों के शीघ्र निराकरण के लिए समीक्षा करें।
छात्रवृत्ति स्वीकृति के संबंध में समय सीमा में कार्य नहीं पाए जाने पर कलेक्टर ने जावरा पॉलिटेक्निक कॉलेज के प्राचार्य तथा एक अन्य स्कूलों के प्राचार्यों का वेतन रोकने के निर्देश दिए। साथ ही शहर के रसोई गैस सिलेंडर गोदामों को भी शिफ्ट करने के लिए मंगलवार तक कार्ययोजना तैयार करने को कहा।

ट्रेंडिंग वीडियो