scriptShukra Rashi Parivartan Impact on all zodiac 30 Oct.2021 | Shukra ka Rashi Parivartan- शुक्र का राशि परिवर्तन आपको कैसे करेगा प्रभावित? जानें यहां | Patrika News

Shukra ka Rashi Parivartan- शुक्र का राशि परिवर्तन आपको कैसे करेगा प्रभावित? जानें यहां

जानें किन राशियों को 30 अक्टूबर 2021 से होगा खास लाभ

भोपाल

Updated: October 26, 2021 01:29:18 pm

भाग्य के कारक ग्रह शुक्र अक्टूबर 2021 में एक बार फिर 28 दिन बाद राशि परिवर्तन करने जा रहे हैं। दरअसल 2 अक्टूबर को शुक्र ने वृश्चिक राशि में प्रवेश किया था, जिसके बाद अब वे वृश्चिक राशि से निकल कर देवगुरु के स्वामित्व वाली राशि धनु में शनिवार, 30 अक्टूबर को 15.56 बजे प्रवेश करने जा रहे हैं।

shukra rashi parivartan oct2021
shukra rashi parivartan oct2021

ज्योतिष के जानकारों के अनुसार शुक्र के राशि परिवर्तन का सभी 12 राशियों पर असर देखने को मिलेगा। जिनमें से कुछ राशियों पर इस परिवर्तन का शुभ प्रभाव रहेगा तो वहीं कुछ पर अशुभ व कुछ पर सामान्य असर देखने को मिलेगा।

rashi parivartan

शुक्र के परिवर्तन का 12 राशियों पर असर

1. मेष राशि-
शुक्र का गोचर इस दौरान आपके नवम भाव यानि भाग्य भाव में रहेगा। ऐसे में इस समय जहां शिक्षा से जुड़े लोगों को बड़ी सफलता प्राप्त होने की संभावना है, वहीं इस सयम आपको परिवार का पूरा साथ मिलने के साथ ही भाग्य का भी सहयोग मिलेगा। इस समय व्यापारी वर्ग के लिए भी मुनाफे के योग बनता दिख रहा है।

उपाय- हर रोज माता लक्ष्मी का 108 बार जप करें।

2. वृषभ राशि-
इस दौरान शुक्र का गोचर आपके अष्टम भाव यानि आयु भाव में होगा। यह समय आपके लिए मिश्रित परिणाम लेकर आएगा। इस समय आपको सेहत का ध्यान रखने के साथ ही दुर्घटनाओं से भी सतर्क रहना होगा। इस समय आपको बहुत संघर्ष करने के साथ ही बेचैनी का भी सामना करना होगा। कार्यस्थल पर आपकी कड़ी मेहनत को देखते हुए, आपका वरिष्ठ प्रबंधन आपके प्रयासों की सराहना करेगा। पैतृक संपत्ति या ससुराल से लाभ की संभावना है।

उपाय- शुक्रवार के दिन माता लक्ष्मी को कमल के फूल अर्पित करें।

3. मिथुन राशि-
इस दौरान शुक्र का गोचर आपके सप्तम भाव यानि विवाह भाव में होगा। ऐसे में इस परिवर्तन के शुभ परिणाम आपके वैवाहिक जीवन में देखने को मिलेंगे। वहीं अविवाहित जातकों का रिश्ता तय होने की भी संभावना है। पैतृक संपत्ति मिलने के योग भी गोचर काल में बनेंगे।

mars_rashi_parivartan_effects_on_india.jpg

4. कर्क राशि-
इस दौरान शुक्र का गोचर आपके छठे भाव यानि शत्रु व रोग भाव में होगा।इस समय आपको कुछ टकरावों का सामना करना पड़ सकता है। प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वालों के लिए समय लाभदायक रहेगा। इस समय आप वित्तीय दबाव या असुरक्षा महसूस कर सकते हैं। जबकि नौकरीपेशा जातक इस दौरान अपने कार्यस्थल पर एक अच्छे माहौल का आनंद लेंगे। वहीं पेशेवर सेवाओं से जुड़े लोगों के लिए भी यह समय अनुकूल रहेगा। इस दौरान आपको मां के खराब स्वास्थ्य के कारण चिंताओं का सामना करना पड़ सकता है।

उपाय- 10 साल से कम उम्र की लड़कियों को शुक्रवार के दिन सफेद रंग की मिठाई खिलाएं।

5. सिंह राशि-
इस दौरान शुक्र का गोचर आपके पंचम भाव यानि पुत्र व बुद्धि भाव में होगा। शुक्र के इस परिवर्तन के परिणामस्वरूप बुद्धि से काम लेने पर निवेश के लिए यह समय उत्तम रहेगा। वहीं आपकी लव लाइफ भी अच्छी होने के साथ ही आपको कोई बड़ी सफलता भी प्राप्त हो सकती है।

उपाय- चंदन के इत्र का उपयोग करें।


6. कन्या राशि-
इस दौरान शुक्र का गोचर आपके चतुर्थ भाव यानि माता व सुख भाव में होगा। शुक्र ग्रह का यह गोचर आपके सुख में वृद्धि करने वाला सिद्ध होगा। इस परिवर्तन के फलस्वरूप आपको पारिवारिक जीवन में शुभ फलों की प्राप्ति होगी। लव लाइफ में सुधार के बीच यात्रा पर जाने के योग भी बन सकते हैं।

उपाय- हर दिन शुक्र के मंत्र का 108 बार जाप करें।

Must Read- Diwali Special: मां लक्ष्मी की कृपा बरसने का संकेत

August 2021 rashi parivartan

7. तुला राशि-
इस दौरान शुक्र का गोचर आपके तीसरे भाव यानि पराक्रम व छोटे भाई बहनों के भाव में होगा। इस दौरान आप अपने छोटे भाई-बहनों के प्रति एक मजबूत झुकाव रखेंगे। उनकी मदद से आपको कुछ वित्तीय लाभ भी हो सकते हैं। लेकिन ध्यान रखें कि दीर्घकालिक निवेश करने के लिए समय अनुकूल नहीं है।

नौकरी पेशा लोगों का इस अवधि के दौरान स्थानांतरण होने के अलावा नौकरी में बदलाव भी हो सकता है। इस समय आप सौहार्दपूर्ण संबंध अपने मामा के साथ साझा कर सकते हैं, साथ ही इस दौरान उनसे मुलाकात भी कर सकते हैं।

उपाय- दुर्गा चालीसा का पाठ करें।


8. वृश्चिक राशि-
इस दौरान शुक्र का गोचर आपके दूसरे भाव यानि धन व वाणी में होगा। शुक्र के इस राशि परिवर्तन के कारण इस दौरान भौतिक सुख-सुविधाओं में वृद्धि के साथ ही धन में भी बढ़ोतरी की संभावना है। इस समय आपकी वाणी में मिठास आएगी ससाथ ही तरक्की के भी कई अवसर प्राप्त होंगे।

उपाय- हर शुक्रवार दुर्गा सप्तशती का पाठ करें।

9. धनु राशि-
इस दौरान शुक्र का गोचर आपके प्रथम यानि लग्न भाव में होगा। शुक्र के इस राशि परिवर्तन के फलस्वरूप आप रचनात्मक कार्यों को करेंगे। इस दौरान आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा। इसके अलावा आपको कार्य स्थल पर भी शुभ परिणाम प्राप्त होंगे।

उपाय- मां लक्ष्मी की पूजा व मां दुर्गा के मंत्रों का पाठ करें।

Must Read- October 2021 Rashi Parivartan List : अक्टूबर 2021 में राशि परिवर्तन

rashi parivartan

10. मकर राशि-
इस दौरान शुक्र का गोचर आपके द्वादश भाव यानि व्यय भाव में होगा। जिसके फलस्वरूप इस समय बहुत अधिक खर्च आपके आर्थिक जीवन को प्रभावित कर सकता है। वहीं इस दौरान आपको विदेश यात्रा और नौकरी के लिए बाहर जाने मौका भी मिलने की संभावना है।

इस दौरान नए व्यापारिक सौदे करने या बातचीत करते समय, आपको सतर्क रहना होगा। इस समय आपका झुकाव धार्मिक और आध्यात्मिक गतिविधियों की ओर रह सकता है। विवाहित जातकों का साथी इस समय कुछ स्वास्थ्य समस्याओं से पीड़ित हो सकता है।

उपाय- श्री राम की पूजा करें।


11. कुंभ राशि-
इस दौरान शुक्र का गोचर आपके एकादश भाव यानि आय भाव में होगा। इस परिवर्तन के चलते भाग्य आपके पक्ष में रहेगा, जिसके चलते आपकी आय में वृद्धि की भी संभावना है। इस दौरान कार्यस्थल पर किए आपके प्रयासों की सराहना होगी साथ ही आपको पदोन्नति भी मिल सकती है।

जमीन या संपत्ति में निवेश में आपको इस समय सफलता मिलने की संभावना है। विद्यार्थियों के लिए ये समय अच्छा रहेगा। वहीं विवाहितों के दाम्पत्य जीवन में सामंजस्य और आनंद बना रहेगा। आप एक अच्छा सामाजिक दायरा बनाएंगे, और लोग आपके आस-पास रहना पसंद करेंगे।

उपाय- हनुमान जी की पूजा करें।


12. मीन राशि-
इस दौरान शुक्र का गोचर आपके दशम भाव यानि कर्म व पिता भाव में होगा। इस समय आपको बडे भाई-बहनों का पूरा सहयोग मिलेगा साथ ही आपके माता-पिता के साथ आपके अच्छे संबंध होंगे। इस दौरान आप जमीन या संपत्ति में निवेश करने की योजना भी बना सकते हैं।

इस समय आप पराक्रम और साहस से लबरेज रहेंगे। वहीं आपको समाज में प्रसिद्धि मिलेगी। लेकिन, सफलता पाने के लिए आपको कार्यस्थल पर बहुत मेहनत करनी होगी। शिक्षा से जुड़े लोगों के लिए यह समय करियर के लिहाज से शुभ रहेगा। आपकी नौकरी बदलने की ख्वाहिश इस समय पूरी हो सकती है। ध्यान रखें इस समय गुस्से में अपना आपा न खोएं।

उपाय- हर शुक्रवार लक्ष्मी जी को खीर का भोग लगाएं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोगशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेइन 12 जिलों में पड़ने वाल...कोहरा, जारी हुआ यलो अलर्ट2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.