scriptGang of miscreants became active on the highway, targeted truck driver | हाइवे में सक्रिय हुई बदमाशों की गैंग, ट्रक चालकों पर निशाना | Patrika News

हाइवे में सक्रिय हुई बदमाशों की गैंग, ट्रक चालकों पर निशाना

locationरीवाPublished: Dec 01, 2023 07:07:29 pm

Submitted by:

Shivshankar pandey

गढ़ बाईपास में 240 लीटर डीजल बदमाशों ने निकाला, थाने में दर्ज कराई शिकायत

patrika
Gang of miscreants became active on the highway, targeted truck driver
रीवा। हाइवे में बदमाशों की गैंग एक बार फिर सक्रिय हो गई है। शातिर बदमाश ट्रकों में भरे डीजल को निशाना बना रहे है और पलक झपकते पूरी टंकी खाली कर चंपत हो जाते है। पांच दिन में तीन ट्रक चालक निशाना बन चुके है। दो घटनाओं की शिकायतें भी थाने में दर्ज है लेकिन आरोपियों तक पुलिस नहीं पहुंच पाई है।
हाइवे 30 में दहशत फैला रहे बदमाश
राष्ट्रीय राजमार्ग क्र. 30 में बदमाशों की गैंग की सक्रियता ने ट्रक चालकों को दहशत में डाल दिया है। यह गिरोह काफी समय हाइवे में सक्रिय है लेकिन कुछ महीनों से बदमाश भूमिगत हो गए थे। चुनाव के बाद फिर बदमाश सक्रिय हो गए है लेकिन अब ट्रकों को निशाना बना रहे है। मंगलवार की रात एक ट्रक चालक गढ़ बाईपास में बदमाशों का निशाना बना है। ट्रक क्र. सीजी ०७ सीडी 2953 का चालक सुनील तिवारी निवासी फुलहा थाना नईगढ़ी रात में ट्रक को गढ़ बाईपास स्थित ढाबे में खड़ा करके घर चला गया था।
240 लीटर डीजल चोरी
ट्रक की रखवाली के लिए खलासी अंकित साकेत निवासी फुलहा केा छोड़ दिया था जो ट्रक के अंदर ही सो रहा था। देर रात बदमाशों ने धावा बोल दिया और ट्रक से 240 लीटर डीजल निकालकर चंपत हो गए। इस दौरान अंदर सो रहे खलासी को भनक तक नहीं लग पाई। सुबह जब उसकी नींद खुली तो टंकी खुली हुई थी और उससे पूरा तेल गायब था। चालक के वापस आने पर उसने जानकारी दी जिसके बाद घटना की शिकायत थाने में दर्ज कराई गई है। बदमाशों की सक्रियता ने ट्रक चालकों को दहशत में डाल दिया है।
ढाबे में खड़े ट्रक बनते हैं निशाना
रात के समय ढाबों में काफी संख्या में ट्रक खड़े होते है और अक्सर ड्राइवर इसके अंदर आराम करते है। इस बात का फायदा बदमाश उठाते है। पांच दिन में तीन घटनाएं हुई है और तीनों वारदातें हाइवे के ढाबों में हुई है जिसमें ट्रक खड़े हुए थे। इस बात की संभावना जताई जा रही है कि वारदात में स्थानीय बदमाशों का हांथ है जो आराम से वारदात को अंजाम देकर निकल जाते है। सबसे ज्यादा घटनाएं गंगेव चौकी के सर गांव, घूमा, लाद पहाड़, गंगतीरा, कलवारी, अगडाल, गढ़, तेंदुआ, परासी, टिकुरी में हुई है।
दुकानों में आराम से बिकता है डीजल
हाइवे के कस्बाई इलाकों में दुकानों में खुलेआम डीजल व पेट्रोल की बिक्री होती है। बकायदे दुकानों के बाहर लोग ज्वलनशील पदार्थ गैलन में रखकर उसे बिक्री करते है। ट्रकों से चुराया गया डीजल बदमाश इन दुकानदारों को औनेपौने दामों में बेंच देते है। इसके अतिरिक्त गांवों में भी काफी लोग डीजल खेती में उपयोग के लिए खरीद लेते है। यही कारण है कि डीजल चुराने के बाद उसे गलाने में बदमाशों को दिक्कत नहीं होती है।

ट्रेंडिंग वीडियो