पाकिस्तान की जेल में बंद रीवा के युवक की रिहाई के लिए विदेश मंत्री से मिले सांसद

विदेश राज्य मंत्री से मांग की है कि पाकिस्तान सरकार से सम्पर्क कर अनिल साकेत को किसी भी हालत में रिहा कराया जाना चाहिए।

By: Mahesh Singh

Published: 29 Jun 2019, 02:02 AM IST

 

रीवा. पाकिस्तान की लाहौर जेल में बंद अनिल साकेत के रिहाई के लिए रीवा सांसद जर्नादन मिश्रा आगे आए हैं। पत्रिका में छपी खबर को संज्ञान में लेते हुए उन्होंने शुक्रवार को विदेश मंत्रालय जाकर विदेश राज्यमंत्री वी. मुरलीधन से मुलाकात की। सांसद मिश्रा ने विदेश मंत्री को बताया कि अनिल साकेत तनय बुद्धसेन साकेत उनके संसदीय क्षेत्र रीवा जिले के नईगढ़ी थाने के छदहाई गांव का रहने वाला है।

सांसद ने उनको बताया कि जब वह घर से लापता हुआ तो उसकी दीमागी हालत ठीक नहीं थी। यही कारण है कि वह पाकिस्तान की सीमा में पहुंच गया होगा। उन्होंने विदेश राज्य मंत्री से मांग की है कि पाकिस्तान सरकार से सम्पर्क कर उसको किसी भी हालत में रिहा कराया जाना चाहिए।

 

MP meets  <a href=foreign minister for Rewa's youth" src="">
patrika IMAGE CREDIT: patrika

विदेश राज्य मंत्री वी. मुरलीधरन ने सांसद को आश्वासन दिया है कि वे इस मामले की पूरी जानकारी लेंगे और यह पता किया जाएगा कि युवक किन परिस्थितियों में पाकिस्तान पहुंचा। बता दें कि रीवा जिले के नईगढ़ी थाना अंतर्गत ग्राम छदहाई निवासी अनिल साकेत जनवरी 2015 में घर से अचानक लापता हो गया था।

उसके बारे में पुलिस ने जानकारी दी है कि वह पाकिस्तान की लाहौर जेल में बंद है। यह जानकारी मिलने पर परिजन परेशान हैं। हालांकि उनके पास इस बात का जबाव नहीं है कि वह पाकिस्तान आखिर कैसे पहुंचा। सरकार से इसमें प्रयास करने की मांग उठाई जा रही है।

रीवा का अनिल साकेत छदहाई गांव से पाकिस्तान कैसे पहुंंचा यह सवाल अभी भी अनुत्तरित है। इसका जबाव न तो पुलिस के पास है और न ही परिजनों को ही इस बारे में कोई जानकारी है। पीडि़त मां ने केवल इतना बताया कि 2015 में लापता होने के कई महीने बाद उसके राजस्थान में होने की जानकारी मिली थी। इसके बाद उसका कोई पता नहीं चला।

Show More
Mahesh Singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned