सहारनपुर में शहर के बीचों-बीच घर में घुसकर हथियारों के बल पर लूट

  • मोहल्ला किशनपुरा के एक मकान में किराए पर रह रहे थे सूरत के एजेंट
  • बाइक पर सवार होकर आए चार बदमाशों ने दिया वारदात को अंजाम

By: shivmani tyagi

Updated: 24 Nov 2020, 03:34 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
सहारनपुर ( Saharanpur ) बाइक सवार बदमाशों ने हथियारों के बल पर शहर के बीचोबीच घर में घुसकर लूट की वारदात को अंजाम दिया और फरार हो गए। दुस्साहसिक अंदाज में हुई इस घटना से लोग दहशत में आ गए। पुलिस ( Saharanpur Police ) ने सूचना मिलते ही शहर में नाकाबंदी भी कराई लेकिन लुटेरों का कोई सुराग नहीं लगा। भागते समय लुटेरे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए। अब फुटेज के आधार पर उनकी तलाश की जा रही है।

यह भी पढ़ें: पति को छोड़ बहन के देवर से करने लगी प्यार, शादी नहीं करने पर जहर खाकर दी जान

इस घटना का शिकार हुए अंबालाल मोहन और उनके तीन साथी राजस्थान के जालौर जिले के रहने वाले हैं। यह सभी सूरत की एक कपड़ा कंपनी में काम करते हैं। सहारनपुर में सूरत का कपड़ा आता है। सहारनपुर के व्यापारियों को सूरत का कपड़ा दिखाने और उनसे आर्डर लेने के लिए यह अक्सर सहारनपुर आते रहते हैं। हाल ही में लॉक डाउन के बाद ये सभी कलेक्शन लेने के लिए सहारनपुर में आए थे और यहां किशनपुरा में एक मकान में रुके हुए थे।
शाम करीब 7:00 बजे बाइक पर सवार होकर आए बदमाश उसी घर में घुस गए जिस घर में यह सभी लोग मौजूद थे और हथियारों के बल पर इन्हें आतंकित कर लिया। घटना के तुरंत बाद हल्ला मच गया और पुलिस को सूचना दी गई मौके पर पहुंची पुलिस ने आसपास के इलाकों में नाकाबंदी कराई लेकिन बदमाशों का कोई सुराग नहीं लग सका।

यह भी पढ़ें: RSS के प्रांत प्रचारक के भाई पर ताबड़तोड़ बरसाई गोलियां, मेरठ से लेकर लखनऊ तक हलचल

पहले बताया गया कि 20 से 50 लाख रुपये के बीच की रकम लुटेरे लूटकर ले गए हैं। लाखों रुपए की लूट की बात फैली तो पुलिस पीड़ितों को अपने साथ ले गई और कई घंटे तक पूछताछ करने के बाद बताया कि 20 हजार रुपये की लूट हुई है। बाद में पीड़ितों की ओर से भी महज 20 हजार की ही लूट की तहरीर पुलिस को दी गई। पुलिस अब सीसीटीवी फुटेज के आधार पर लुटेरों की तलाश में जुटी हुई है लेकिन अभी तक उनका कोई सुराग नहीं लग सका है।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned