नोटिस को लेकर भड़के किसान नेता, बोले- पूरे देश में आपातकाल जैसी स्थिति

Highlights

- संभल में किसान नेताओं को 50 लाख के मुचलका नोटिस भेजने का मामला

- किसान नेता राजपाल यादव ने शासन-प्रशासन पर उठाए सवाल

- कहा- न जमानत कराएंगे और न ही नोटिस का जवाब देंगे

By: lokesh verma

Published: 19 Dec 2020, 05:10 PM IST

संभल. यूपी के संभल में आधा दर्जन किसानों को प्रदर्शन करने और इसके लिए लोगों को उकसाने का मामला ठंडा होने का नाम नहीं ले रहा है। किसान नेता राजपाल यादव को भी पहले 50 लाख का मुचलका नोटिस जारी किया गया था। हालांकि बाद में संशोधित कर 50 रुपए का दूसरा नोटिस भेजा गया। नोटिस को लेकर किसान नेता राजपाल यादव का कहना है कि पूरे देश में आपातकाल जैसी स्थिति है। आवाज दबाने के लिए ऐसा पहले कभी नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि सरकार को यदि ये लगता है कि वह हमारे ऊपर दबाव बनाकर इस तरह से घर में बैठा सकते हैं तो वह गलत सोच रही है।

यह भी पढ़ें- सांसद आजम खान को बड़ी राहत, पत्नी को सभी केसों में मिली जमानत, जल्द हाेंगी रिहा

उन्होंने कहा कि देश में जनहित की बात करना या किसानों की बात करना अपराध नहीं है। हम कोई अपराध नहीं कर रहे हैं, बस सरकार से अपना हक ही तो मांग रहे हैं। हम अपनी बात रखने जा रहे थे, इसमें शांति भंग कैसे हो गई। उन्होंने कहा कि हम हर तरह की स्थिति से निपटने को तैयार हैं। उन्होंने कहा कि हम न तो जमानत कराएंगे और न ही प्रशासन के नोटिस का जवाब देंगे। प्रशासन या शासन जो चाहे करे, हम भुगतने को तैयार हैं। उन्होंने कहा कि प्रशासन के नोटिस से संभल के किसानों में रोष है। अब हम बड़े आंदोलन की तैयारी में हैं।

यह भी पढ़ें- ओमप्रकाश राजभर हुए सुपर एक्टिव, तमाम छोटे दलों को कर रहे एकजुट

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned