पन्ना के रास्ते सतना में घुसा टिड्डीदल, अमरपाटन के धतुआ गांव में डाला ठेरा

टिड्डी दल से निपटने गांव में डटे कृषि अधिकारी

By: Sukhendra Mishra

Published: 27 May 2020, 12:56 AM IST

सतना. कोरोना संकट से जूझ रहे जिले के किसानों की फसल पर पाकिस्तान से आए टिड्डीदल ने आक्रमण कर दिया है। टिड्डीदल ने पन्ना जिले के गांवों में कहर ढाने के बाद दोपहर सुंदरा के रास्ते जिले में प्रवेश कर गया। टिड्डीदल हवा की दिशा में उड़ान भरते हुए दिनभर आसमान में आफत बनकर उड़ता रहा। यह दल नागौद कस्बा,उचेहरा होते हुए 100 किमी का सफर कर शाम सात बजे अमरपाटन के धतुआ गांव में डेरा डाल दिया। गांव में टिड्डीदल के आक्रमण की जनकारी लगते ही ग्रामीणों के बीच दहशत फैल गई। दिनभर टिड्डी दल के पीछे दौड़ लगा हरे कृषि विभाग के अधिकारी भी धतुआ गांव पहुंचे और कीटों को मारने की तैयारी में जुट गए।
5 किमी क्षेत्र फैला कीटों का घेरा
दिनभर हवा की स्पीट से आसमान में मडऱाने रहे टिड्डीदल की रफ्तार देख यह अनुमान लगाया जरा था कि यह ताला के रास्ते जिले की सीमा को क्रास कर जाएगा। लेकिन अंतत: कीटों की सोमवार की यात्र जिले के धतुआ गांव में थम गए। उप संचालक कृषि बीएल कुरील ने बताया की टिड्डीदल गांव में पांच किलो मीटर के घेरे में डेरा जमाए हैं। इन्हें नियंत्रित करने की कार्ययोजना बनाई जा रही है।
रात तीन बजे से होगा दवा का छिड़काव
टिड्डीदल के अमरपाटन गांव में रुकने की खबर लगते ही कृषि विभाग के अधिकारी एवं कृषि वैज्ञानिक धतुआ गांव पहुंच कर कीट नियंत्रण की तैयारी में जुट गए। डीडीए ने बताया कि टिड्डीदल मंगलवार की सुबह 6 से आठ बजे बे बीच फिर से उड़ानभरेगा। इससे पहले इन्हें नियंत्रित करने सुबह 4 बजे से टिड्डीदल के घेरे में कीटनाशक दवा का छिड़काव किया जाएगा। इसके लिए रीवा से तीन तथा सतना से दो फायर ब्रिगेड गाडि़या मौके पर बुलाई गई है।

Sukhendra Mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned